Submit your post

Follow Us

वो भारतीय फिल्म, जिसने 30 साल बाद वेनिस फिल्म फेस्टिवल में 'क्रिटिक्स चॉइस अवॉर्ड' जीता

एक हीरो, एक हीरोइन, एक कहानी, एक डायरेक्टर और ढेर सारे क्रू मेंबर. जब कोई फिल्म बनती है, तो आप जितना सोच नहीं सकते, उससे भी ज़्यादा उस पर मेहनत की जाती है. और पर्दे के इस ओर बैठकर हम मात्र दो-ढाई घंटे में फिल्म को ‘जज’ कर लेते हैं-

‘भइया, फलाने फिल्म तो अच्छी है,फलाने तो बहुत बोरिंग है’..

इन्हीं अच्छी फिल्मों में से कुछ ऐसी भी होती हैं, जो न सिर्फ देश में, बल्कि दुनियाभर में अपने झंडे गाड़ आती हैं. जो अपनी कहानी से ही नहीं, बल्कि कई दूसरे एस्पेक्ट्स से भी विदेशी क्रिटिक्स का दिल छू जाती हैं.

ऐसी ही फिल्म बनी ‘द डिसाइपल’, जिसे बनाया है इंडियन फिल्ममेकर चैतन्य ताम्हणे ने. वेनिस फिल्म फेस्टिवल के 77वें संस्करण में इसे क्रिटिक्स अवॉर्ड दिया गया है. ये अवॉर्ड इसलिए भी खास रहा, क्योंकि 30 साल बाद इस कैटिगरी में किसी अवॉर्ड की देश वापसी हुई है. ‘द डिसाइपल’ फिल्म को इसी फेस्टिवल में बेस्ट स्क्रीनप्ले के लिए अवॉर्ड भी मिला है. इस मराठी फिल्म के डायरेक्टर को लोग भर-भर के बधाई दे रहे हैं.

The Desciple फिल्म का एक दृश्य.
The Desciple फिल्म का एक दृश्य.

इस फिल्म से जुड़ी और वेनिस फिल्म फेस्टिवल से जुड़ी और भी चीज़ें आज हम आपको बताएंगे. जानेंगे कि कौन-सी है वो फिल्म, जिसने 30 साल पहले ये अवॉर्ड अपने नाम किया था. साथ ही बताएंगे कि चैतन्य ताम्हणे की फिल्म के बाद किस-किस ने उन्हें बधाइयां दी है.

देखिए फिल्म का ट्रेलर

क्या है फिल्म की कहानी

‘द डिसाइपल’ फिल्म एक म्यूज़िकल ड्रामा फिल्म है. कहानी है शास्त्रीय संगीतज्ञ की, जो फेमस होने के लिए स्ट्रगल कर रहा है. फिल्म एक ऐसे लड़के के इर्द-गिर्द घूमती है, जो अपने काम में प्योरिटी लाने की कोशिश करता है. बचपन से अपने पिता और गुरु से कई महान कलाकारों की कहानियां सुनकर बड़ा हुआ है, और उन्हीं की तरह सफलता पाना चाहता है. उसकी ये जर्नी कहां-कहां से गुज़रती है और वो कैसे कामयाब होता है, बस यही है ‘द डिसाइपल’.

The Dis 1

समझिए, क्या है ये FIPRESCI कैटिगरी

वेनिस फिल्म फेस्टिवल में ‘द डिसाइपल’ को FIPRESCI कैटिगरी में अवॉर्ड मिला है. फेस्टिवल में फिल्मों को कई कैटिगरी में रखकर अवॉर्ड दिया जाता है. जैसे सिल्वर लॉयन, गोल्डन लॉयन, स्पेशल ज्यूरी प्राइज़, बेस्ट एक्टर और बेस्ट एक्ट्रेस और भी बहुत सारे. इन्हीं में से एक कैटिगरी होती है ‘द इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ फिल्म क्रिटिक्स’. फ्रेंच में बोलें, तो ‘फेडरेशन इंटरनेशनल दे ला प्रेस सिनेमेटोग्राफी’ या ‘अवॉर्ड ऑफ द बेस्ट स्क्रीन फ्ले’. जो इस साल ‘द डिसाइपल’ को मिला है. ये वेनिस फिल्म फेस्टिवल की कुछेक बड़ी कैटिगरीज़ में एक है. इसमें पूरे 30 साल बाद इंडयिन फिल्म को जगह मिली है.

30 साल पहले किस फिल्म को मिला था

Mathilukal फिल्म का एक दृश्य.
Mathilukal फिल्म का एक दृश्य.

आखिरी बार इस कैटिगरी में जिस इंडियन फिल्म को ये अवॉर्ड मिला था, वो थी साल 1990 में आई अदूर गोपालकृष्णन की ‘मथिलूकल’ (Mathilukal). ये एक मलयालम फिल्म थी.

फिल्म एक कैदी की ज़िंदगी पर आधारित थी, जिसे महिला कैदी से प्यार हो जाता है. अपने सेल में रहते हुए वो सिर्फ उस महिला कैदी की आवाज़ सुनता है और उस आवाज़ से ही प्यार कर बैठता है. फिल्म विक्रम मोहम्मद बशीर की नॉवेल पर बनाई गई थी, जिसका टाइटल सेम था. यही वो आखिरी इंडियन पिक्चर थी, जिसे वेनिस फिल्म फेस्टिवल के क्रिटिक्स चॉइस का अवॉर्ड मिला था.

20 साल पहले गोल्डेन लायन अवॉर्ड भी आ चुका है भारत

साल 2001 में आई फिल्म मॉनसून वेडिंग का एक दृश्य.
साल 2001 में आई फिल्म मॉनसून वेडिंग का एक दृश्य.

वेनिस फिल्म फेस्टिवल का सबसे बड़ा अवॉर्ड ‘गोल्डन लायन अवॉर्ड’ भी भारत आ चुका है. मगर उसे भारत आए 20 साल बीत चुके. ये अवॉर्ड साल 2001 में आई मीरा नायर की फिल्म ‘मॉनसून वेडिंग’ को मिला था. इंडियन-पंजाबी फैमिली और उनके रिचुअल्स के साथ इस फिल्म ने न सिर्फ देश में, बल्कि विदेशों में भी खूब तारीफें बटोरीं. इसी फिल्म से एक्टर रणदीप हुड्डा ने अपना बॉलीवुड डेब्यू भी किया था.

1957 की इस फिल्म को मिल चुका है अवॉर्ड

सत्यजीत रे की फिल्म अपराजितो.
सत्यजीत रे की फिल्म ‘अपराजितो’.

साल 1957 में बनी फिल्म ‘अपराजितो’ ने वेनिस फिल्म फेस्टिवल में ‘गोल्डेन लायन अवॉर्ड’ जीता था. सत्यजीत रे की फिल्म की कहानी अप्पू नाम के लड़के की है, जो बंगाल के गांव से बनारस अपने मां-पिता के साथ आकर बसता है. साठ के दशक में भारत किस गति से आगे बढ़ रहा था, इसकी कहानी है ‘अपराजितो’. इसे इंडिया की कुछ कल्ट फिल्मों में गिना जाता है.

किस-किस ने दी बधाई

The Desciple के वेनिस फिल्म फेस्टिवल में जीतने के बाद डायरेक्टर चैतन्य ताम्हणे और उनकी टीम को खूब बधाई मिल रही है. केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर, अनुराग कश्यप, स्वरा भास्कर, ऋचा चड्ढा समेत कई लोगों ने इस फिल्म के लिए डायरेक्टर को बधाई दी है.

 

 

फिल्ममेकर और राइटर अलंकृता श्रीवास्तव ने ट्वीट किया,

एक्ट्रेस टिस्का चोपड़ा ने ट्वीट किया,

बता दें कि वेनिस फिल्म फेस्टिवल के विजेताओं के नाम शनिवार देर शाम घोषित किए गए थे. इसके बाद से ही ‘डिसेपल’ मूवी को मिले अवॉर्ड्स के लिए लोग उन्हें बधाई दे रहे हैं.


वीडियो: मैटिनी शो: जानिए, कैसे ‘रंगीला’ फिल्म से आमिर के अलावा सलमान और शाहरुख भी जुड़े हुए थे

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

संसद सत्र से पहले दो जगह कराई कोरोना जांच, रिपोर्ट देखकर चकरा गए सांसद महोदय

संसद सत्र से पहले दो जगह कराई कोरोना जांच, रिपोर्ट देखकर चकरा गए सांसद महोदय

मॉनसून सत्र से पहले हुई जांच में 17 MP कोविड पॉजिटिव मिले हैं.

बिहार: 70 साल के इस शख्स ने दशरथ मांझी जैसा काम कर दिया है

बिहार: 70 साल के इस शख्स ने दशरथ मांझी जैसा काम कर दिया है

और इस नेक काम में उन्हें 30 साल लगे.

कोरोना से ठीक होने के बाद अगले कुछ दिनों तक क्या करें, स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया

कोरोना से ठीक होने के बाद अगले कुछ दिनों तक क्या करें, स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया

प्रोटोकॉल जारी किया है, पढ़ लें.

पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह का एम्स में निधन

पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह का एम्स में निधन

तीन दिन पहले लालू की पार्टी छोड़ी थी.

दिल्ली दंगा: पुलिस ने कहा-चार्जशीट में योगेंद्र यादव और येचुरी का नाम है पर आरोपी के रूप में नहीं

दिल्ली दंगा: पुलिस ने कहा-चार्जशीट में योगेंद्र यादव और येचुरी का नाम है पर आरोपी के रूप में नहीं

मीडिया में चल रही खबरों पर दिल्ली पुलिस ने स्थिति स्पष्ट की है.

जो काम खुद बाल ठाकरे करते थे, शिवसेना वालों ने उसी के लिए एक्स नेवी ऑफिसर को पीट दिया!

जो काम खुद बाल ठाकरे करते थे, शिवसेना वालों ने उसी के लिए एक्स नेवी ऑफिसर को पीट दिया!

पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

क्या यूपी में कोविड किट खरीद में घोटाला हुआ है? जांच के लिए SIT बनी

क्या यूपी में कोविड किट खरीद में घोटाला हुआ है? जांच के लिए SIT बनी

बीजेपी नेताओं ने ही घोटाले का आरोप लगाया है. ताजा मामला सहारनपुर से आया है.

जोकोविच ने अंपायर को गेंद मार घायल किया, उसके बाद जो हुआ वो क्रिकेट फैन्स के लिए सीख है

जोकोविच ने अंपायर को गेंद मार घायल किया, उसके बाद जो हुआ वो क्रिकेट फैन्स के लिए सीख है

और इंडिया के बड़े सुपरस्टार्स के लिए भी.

ड्रग्स मामले में रिया चक्रवर्ती गिरफ्तार, आरोप साबित हुए तो 10 साल कैद हो सकती है

ड्रग्स मामले में रिया चक्रवर्ती गिरफ्तार, आरोप साबित हुए तो 10 साल कैद हो सकती है

भाई शौविक और सुशांत के हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा पहले ही अरेस्ट हो चुके हैं.

GDP गिरने पर रघुराम राजन ने सरकार को बहुत बड़ी नसीहत दे दी है

GDP गिरने पर रघुराम राजन ने सरकार को बहुत बड़ी नसीहत दे दी है

किस बात पर रघुराम राजन ने कहा, 'सरकार अपने खोल में चली गयी'