Submit your post

Follow Us

भारत के लिए बेस्ट वनडे बोलिंग फिगर्स वाले स्टुअर्ट बिन्नी ने क्रिकेट को कहा अलविदा

ऑलराउंडर स्टुअर्ट बिन्नी ने संन्यास की घोषणा कर दी है. स्टुअर्ट बिन्नी ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों को अलविदा कह दिया है. उन्होंने भारत के लिए छह टेस्ट, 14 वनडे और दो T20 मुकाबले खेले. स्टुअर्ट बिन्नी लंबे समय से टीम से बाहर चल रहे थे. वह IPL में भी किसी फ्रेंचाइजी का हिस्सा नहीं थे. और अब इस 37 वर्षीय खिलाड़ी ने इंटरनेशनल क्रिकेट और घरेलू क्रिकेट से संन्यास ले लिया. साल 2014 में बिन्नी ने भारत के लिए डेब्यू किया था. और साल 2016 में उन्होंने अपना आखिरी मुकाबला वेस्टइंडीज के खिलाफ खेला था.

संन्यास की घोषणा करते हुए स्टुअर्ट बिन्नी ने लिखा,

‘इंटरनेशनल लेवल पर देश के लिए खेलना मेरे लिए गर्व की बात थी. मैं अपने कोच और चयनकर्ताओं का हमेशा आभारी रहूंगा, जिन्होंने मुझपर विश्वास किया. मेरे इस सफर में BCCI का बड़ा योगदान रहा. उनका सपोर्ट और भरोसा मेरे लिए बेशकीमती है.

कर्नाटक क्रिकेट के समर्थन के बगैर मेरे क्रिकेटिंग करियर की शुरुआत नहीं हो सकती थी. अपने राज्य की कप्तानी करना और ट्रॉफी जीतना, मेरे लिए गर्व की बात है. मैं IPL टीमों का भी आभारी रहूंगा. अपने कप्तानों का शुक्रिया अदा करना चाहूंगा जिन्होंने मुझपर भरोसा दिखाया. और अंत में, ये सब फैमिली के बिना पॉसिबल नहीं था.’

स्‍टुअर्ट बिन्‍नी निचले क्रम के हार्ड हिटिंग बल्‍लेबाज और मध्‍यम गति के तेज गेंदबाज थे. इंग्लैंड के खिलाफ बिन्नी ने टेस्ट करियर की शुरुआत की थी. बिन्नी का टेस्ट करियर कुल छह मैचों का रहा. दस पारियों में एक अर्धशतक की मदद से उन्होंने 194 रन बनाए. जबकि गेंदबाजी करते हुए तीन विकेट भी हासिल किये. खराब प्रदर्शन के बाद टेस्ट टीम से ड्रॉप कर दिए गए.

छह टेस्ट के साथ बिन्नी ने 14 मैच भी खेले. इस दौरान उन्होंने 230 रन बनाए और 20 विकेट चटकाए. बिन्नी का गेंदबाजी में बेस्ट प्रदर्शन बांग्लादेश के खिलाफ रहा. उन्होंने महज 4 रन देकर 6 विकेट चटकाए थे. बिन्नी के इस रिकॉर्ड को आज भी कोई भारतीय गेंदबाज तोड़ नहीं सका है. इसके अलावा स्टुअर्ट बिन्नी तीन T20 मैच भी खेले.

वहीं IPL की बात करें तो भारत के इस पूर्व ऑलराउंडर को मुंबई इंडियंस, राजस्थान रॉयल्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की तरफ से खेलने का मौका मिला. 95 मैचों के IPL  करियर में बिन्नी ने 880 रन बनाने के अलावा 22 विकेट भी चटकाए. करियर के आखिरी दिनों में स्टुअर्ट बिन्नी ने कर्नाटक छोड़ नागालैंड के लिए खेलने का फैसला किया था. अपने 95वें और आखिरी फर्स्ट क्लास मैच में स्टुअर्ट बिन्‍नी ने पुदुचेरी के खिलाफ 59 रन बनाए थे. जबकि आखिरी लिस्ट ए मैच में उन्होंने अरुणाचल प्रदेश के खिलाफ 55 रन की नाबाद पारी खेली थी.


INDvsENG: हेडिंग्ली और लॉर्ड्स के मैदान में घुसने वाले जारवो को क्या सजा मिली?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

बेंगलुरु में 46 साल के एक डॉक्टर कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन से संक्रमित पाए गए हैं.

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.