Submit your post

Follow Us

तालिबान के प्रवक्ता ने बताया, नई सरकार के ऐलान में देरी क्यों हो रही है

6 सितंबर सोमवार. काबुल में तालिबान के प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने दावा किया कि पंजशीर में तालिबान की जीत हो गई है, और इसी के साथ अफगानिस्तान में जारी जंग खत्म हो गई है. इस दावे के साथ उन्होंने एक चेतावनी भी दी. वो ये कि अगर कोई किसी तरह की दिक्कत पैदा करेगा तो उससे भी पंजशीर की तरह ही निपटा जाएगा. तालिबान प्रवक्ता ने इसके अलावा नई सरकार के गठन और ISI चीफ की काबुल यात्रा को लेकर भी बात की.

दावा किया, पंजशीर की जंग अब खत्म

पंजशीर की लड़ाई पर तालिबान प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने कहा कि जंग खत्म हो चुकी है, अफगानिस्तान अब शांति की ओर बढ़ चुका है. जबीउल्लाह ने कहा कि तालिबान ने पहले पंजशीर में भी बातचीत के जरिए हल निकालने की कोशिश की थी, लेकिन आखिर में जवाब देना पड़ा. कुछ लोग काबुल से इसलिए भागे क्योंकि वो सोच रहे थे कि तालिबान के खिलाफ जंग लड़ सकते हैं. प्रवक्ता ने चेतावनी देते हुए कहा अब अगर कोई हथियार उठाएगा तो वो अफगान के लोगों का दुश्मन होगा. लोगों को समझना चाहिए कि अपने देश को बसाना हमारी जिम्मेदारी है.

तालिबान ने दावा किया कि पंचशीर पर कब्जे के दौरान किसी आम इंसान को नुकसान नहीं पहुंचा है. जल्द ही पंजशीर में बिजली-पानी जैसी सुविधाओं के साथ-साथ इंटरनेट भी शुरू किया जाएगा. तालिबान के इस दावे से पहले एक वीडियो सामने आया था, जिसके बारे में कहा गया कि पंजशीर के गवर्नर हाउस पर अपना झंडा फहरा दिया है.

#Panjshir In this Footage you can see the presence of the #Taliban in the Governor house & different areas of the province. pic.twitter.com/QqRenzixlp — Aśvaka – آسواکا News Agency (@AsvakaNews) September 6, 2021

तालिबान के दावे के उलट नॉर्दर्न एलायंस ने दावा किया है कि तालिबान के खिलाफ पंजशीर में उनकी जंग अभी खत्म नहीं हुई है. उनके लड़ाके अहम मोर्चों पर तैनात हैं, और तालिबान को जवाब दे रहे हैं.

नई सरकार पर

मुजाहिद ने कहा कि सरकार गठन का फाइनल फैसला हो चुका है, बस कुछ तकनीकी चीजें बाकी रह गई हैं. प्रवक्ता ने इस बात से इनकार किया कि कट्टरपंथी इस्लामी गुट से असहमति के कारण सरकार गठन में देरी हो रही है. खबरें आई थीं कि तालिबान के दो सीनियर नेता मुल्ला अब्दुल गनी बारादर और अनस हक्कानी के बीच मतभेद की वजह से नई सरकार के ऐलान में देरी हो रही है. समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक, नई सरकार अंतरिम हो सकती है, जिसमें भविष्य में बदलाव मुमकिन है. आजतक संवाददाता अशरफ वाऩी की रिपोर्ट के मुताबिक, तालिबान सरकार के गठन की प्रक्रिया अंतिम रूप ले चुकी है. तालिबान की ओर से तुर्की, चीन, रूस, ईरान, पाकिस्तान और कतर को सरकार गठन के समारोह में शामिल होने का न्योता भी भेज दिया गया है.

अखुंदजादा पर 

तालिबान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में दावा किया कि उसका नेता हैबतुल्लाह अखुंदजादा जिंदा है और जल्द ही सार्वजनिक तौर पर नजर आएगा. दरअसल ऐसी खबरें आई थीं कि तालिबान का सह संस्थापक मुल्लाह अब्दुल गनी बरादर हक्कानी नेटवर्क और लड़ाकों के बीच झड़प में जख्मी हो गया है. बता दें कि अखुंदजादा तालिबान का सर्वेसर्वा है और धार्मिक मामलों का भी प्रमुख है. वही नई सरकार का मुखिया हो सकता है.

ISI चीफ की यात्रा पर

तालिबान प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के प्रमुख फैज हामिद की काबुल यात्रा के बारे में भी बात की. मुजाहिद ने कहा कि पाकिस्तान ने कई बार पाकिस्तानी प्रतिनिधिमंडल की काबुल यात्रा का अनुरोध किया था. हाल ही में तालिबान ने इस पर सहमति जताई थी. इस यात्रा में फैज हामिद भी शामिल थे.

विदेशी संबंधों पर

जबीउल्लाह मुजाहिद ने कहा कि तालिबान दुनिया के साथ अच्छे संबंध चाहता है, खासकर चीन के साथ क्योंकि वह एक बड़ी आर्थिक शक्ति है. वह अफगानिस्तान के पुनर्निर्माण और विकास में मदद कर सकता है. मुजाहिद ने कहा कि किसी को भी अफगान क्षेत्र से किसी देश को धमकी देने की अनुमति नहीं दी जाएगी.

तालिबान प्रवक्ता ने कहा कि वे अपनी सेना में ANDSF (यानी अफगान सेना) से जुड़े लोगों को भी मौका देंगे. इन अफगान सैनिकों को अमेरिका आदि देशों ने ट्रेनिंग दी थी. अब इनमें से जो तालिबान के प्रति वफादार होंगे, उन्हें सेना में शामिल किया जाएगा.  महिलाओं को भी इस्लामी कानून के तहत अधिकार दिए जाएंगे. नई सरकार बनने के बाद महिलाएं मुकदमा भी कर सकेंगी.


वीडियो- दुनियादारी: तालिबान से दोस्ती कर चीन आखिर अफगानिस्तान में क्या फायदा देख रहा है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

जानेंगे बैंक FD में क्यों घट रही है लोगों की दिलचस्पी.

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

तौकीर रजा कांग्रेस पर आरोप लगा चुके हैं कि उसने मुसलमानों पर आतंकी का टैग लगाया.

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

जानिए UPA के समय हुई इस डील ने कैसे देश को शर्मसार किया.

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

बीबीसी का आरोप, टीम के साथ नरसिंहानंद के समर्थकों ने गाली-गलौज और धक्का-मुक्की की.

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

मुख्य आरोपी के साथ उसके दोस्तों को पुलिस ने पकड़ लिया है.

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

पार्टी के इस कदम से आहत हरक सिंह रावत मीडिया के सामने भावुक हो गए.

आपको फर्जी शेयर टिप्स देकर इस परिवार ने करोड़ों का मुनाफा कैसे पीट लिया?

आपको फर्जी शेयर टिप्स देकर इस परिवार ने करोड़ों का मुनाफा कैसे पीट लिया?

Bull Run कांड में सेबी का फैसला, एक ही परिवार के 6 लोगों पर लगा बैन.

आदिवासी, आंदोलनकारी, पत्रकार और ऐक्ट्रेस, जानिए यूपी में कांग्रेस ने किन चेहरों पर दांव लगाया है?

आदिवासी, आंदोलनकारी, पत्रकार और ऐक्ट्रेस, जानिए यूपी में कांग्रेस ने किन चेहरों पर दांव लगाया है?

कांग्रेस की पहली लिस्ट में 50 महिला उम्मीदवार शामिल हैं

इस तस्वीर ने यूपी चुनाव से पहले सपा गठबंधन को लेकर क्या सवाल खड़े कर दिए?

इस तस्वीर ने यूपी चुनाव से पहले सपा गठबंधन को लेकर क्या सवाल खड़े कर दिए?

तस्वीर गौर से देखेंगे तो समझ आ जाएगा, हम तो बता ही देंगे.

योगी सरकार को एक और झटका, मंत्री दारा सिंह चौहान ने भी साथ छोड़ा

योगी सरकार को एक और झटका, मंत्री दारा सिंह चौहान ने भी साथ छोड़ा

बीते 24 घंटों के भीतर यूपी के दो कैबिनेट मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया है.