Submit your post

Follow Us

CAA पर सुप्रीम कोर्ट में लगी 140 से ज्यादा याचिकाओं पर बड़ा फैसला आ गया

सुप्रीम कोर्ट में 22 जनवरी को एक ही मामले की 140 से ज्यादा याचिकाओं पर सुनवाई हुई. मामला क्या था? नागरिकता संशोधन कानून. CAA. कुछ याचिकाएं इस कानून के विरोध में थीं, कुछ समर्थन में. सुनवाई करने वाली बेंच में चीफ जस्टिस एसए बोबड़े, जस्टिस एस अब्दुल नजीर और जस्टिस संजीव खन्ना शामिल थे. बेंच ने फैसला दिया कि CAA पर फिलहाल कोई रोक नहीं लगेगी. हालांकि कोर्ट ने ये बात जरूर कही कि जरूरत पड़ने पर मामले को संविधान बेंच को सौंपा जा सकता है.

तीन जजों की बेंच को इन याचिकाओं पर सुनवाई के साथ-साथ इस कानून की संवैधानिकता की भी जांच करनी थी. साथ ही केंद्र की उस याचिका पर भी सुनवाई होनी थी, जिसमें उसने CAA पर हाईकोर्ट में अटकी याचिकाओं को सुप्रीम कोर्ट में ट्रांसफर करने की अपील की थी.

कोर्ट ने केंद्र से कहा- चार हफ्ते में जवाब दो
याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने कहा, ‘केंद्र सरकार का पक्ष सुने बिना हम कानून पर रोक लगाने का फैसला नहीं दे सकते.’ कोर्ट ने केंद्र को जवाब देने के लिए चार हफ्ते का वक्त दिया है.

असम और त्रिपुरा में NRC पर क्या कहा?
सुप्रीम कोर्ट ने माना कि असम और त्रिपुरा में NRC के मामले पर अलग से बात करने की जरूरत है. ये भी कहा कि इस पूरे मामले को दो हिस्सों में बांटकर देखा जा सकता है- असम और त्रिपुरा में NRC और बाकी पूरे देश में CAA. इन दोनों राज्यों के मामले पर केंद्र को दो हफ्ते में जवाब देना होगा.

याचिकाएं लगाने वालों में कौन-कौन शामिल है?
CAA के खिलाफ कांग्रेस, DMK, CPI, CPM, इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग, असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM, कमल हासन की पार्टी MNM. इनके अलावा असम के स्टूडेंट यूनियन आसू (AASU) ने भी याचिका लगाई है.

भीड़ देख CJI बोले- कुछ सुनाई तक नहीं दे रहा
140 से ज्यादा याचिकाओं पर सुनवाई होनी थी. हर याचिका के प्रतिनिधि कोर्ट रूम में मौजूद थे. इतनी भीड़ देखकर CJI बोबड़े बिगड़ पड़े. उन्होंने कहा, ‘इतनी भीड़ का कोर्ट रूम में क्या काम? इतना शोर हो रहा है कि एक भी शब्द सुनाई नहीं दे रहा है. इस बात के भी नियम होने चाहिए कि कोर्ट रूम के अंदर कौन आ सकता है और कौन नहीं.’

चिदंबरम ने कहा- 5 क्रिटिक्स के साथ डिबेट कर लें पीएम

पूर्व केंद्रीय मंत्री और सीनियर कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने ट्वीट करके PM नरेंद्र मोदी को CAA पर डिबेट करने की चुनौती दी है. चिदंबरम ने ट्वीट किया- ‘गृह मंत्रालय ने विपक्ष को चुनौती दी है कि वे CAAपर डिबेट कर लें. लेकिन पूरा देश 12 दिसंबर से यही तो करता आ रहा है. मेरा तो सुझाव है कि प्रधानमंत्री CAA के पांच क्रिटिक्स के साथ सवाल-जवाब के सेशन करें. इस पूरी डिबेट का टीवी पर प्रसारण किया जाए. सारी बातें साफ हो जाएंगी.’


 

CAA के खिलाफ़ केरल सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

CJI बोबड़े ने बीजेपी नेता से कहा- अपनी लड़ाई टीवी चैनल पर जाकर सेटल करो, कोर्ट में नहीं

बंगाल सरकार भी अदालत में थी, उन्हें भी डांट पड़ी.

आमिर खान ने अक्षय कुमार को दोस्त कहा, तो अक्षय ने इतराने वाला जवाब दिया

मामला बच्चन पांडे और लाल सिंह चड्ढा की रिलीज से जुड़ा है.

तिग्मांशु धूलिया की भतीजी को शराबियों ने परेशान किया, ट्विटर पर लोगों से मदद मांगी

रेलवे हेल्पलाइन नंबर से कोई जवाब नहीं मिला.

पद्मश्री सम्मान पर कांग्रेस प्रवक्ता ने अदनान सामी को बताया 'सरकार का चमचा'

इसके बाद अंकल-बच्चा कहते हुए दोनों ट्विटर पर ही भिड़ गए.

मांजरेकर बोले, 'प्लेयर ऑफ द मैच गेंदबाज़ को होना चाहिए था', जडेजा ने मज़े ले लिए

जडेजा के सवाल पर मांजरेकर का जवाब अलग ही है.

बास्केटबॉल लीजेंड कोबी ब्रायंट, जिनकी मौत की बात 8 साल पहले ही कह दी गई थी!

हेलीकॉप्टर क्रैश में कोबी और उनकी बेटी जियाना की मौत.

कोबी ब्रायंट और उनकी बेटी की मौत पर बॉलीवुड स्टार्स ने शेयर की इमोशनल पोस्ट

अक्षय ने लिखा- 'मेरी भतीजी को बास्केटबॉल खेलने के लिए हर रोज इंस्पायर किया.'

कमाई के मामले में वरुण धवन से पंगा कंगना को भारी पड़ता दिख रहा है

इन दोनों फिल्मों की कमाई में सबसे ज़्यादा सेंधमारी की है अजय देवगन की 'तान्हाजी' ने.

अमित शाह ने चिल्लाकर पिट रहे लड़के को भीड़ से बचाया

अमित शाह ने चिल्लाकर कहा, अरे अरे अरे छोड़ दो इसको

कांग्रेस के कैंडिडेट को मिले 0 वोट, अपना वोट भी किसी और को दे दिया!

जिसने सुना वो हैरान हो गया.