Submit your post

Follow Us

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मीटिंग करना चाहते थे आनंद शर्मा, पर प्लान में बड़ी बाधा आ गई

कांग्रेस के सीनियर नेता और आंतरिक मामलों पर बनी संसद की स्टैंडिंग कमिटी के चेयरमैन आनंद शर्मा को राज्यसभा सचिवालय ने एक नोट लिखा है. सचिवालय ने आनंद शर्मा को बताया है कि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए स्टैंडिंग कमिटी की मीटिंग संभव नहीं है. दरअसल, आनंद शर्मा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मीटिंग करना चाहते थे. लेकिन राज्यसभा सचिवालय ने नियमों का हवाला देते हुए प्लान स्वीकार नहीं किया.

इसमें बताया गया है कि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए स्टैंडिंग कमिटी की मीटिंग नियम के खिलाफ है. अब इसे लेकर आनंद शर्मा ने राज्यसभा के सभापति को लेटर लिखा है.

क्या लिखा है लेटर में

आनंद शर्मा ने 28 अप्रैल को एक मीटिंग प्लान की थी. इसमें वह मंत्रालय के अधिकारियों से लॉकडाउन और मौजूदा हालात वगैरह पर बात करने वाले थे. लॉकडाउन की वजह से उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात करनी चाही थी. जब इस प्लान पर आगे बात नहीं बढ़ी, तो उन्होंने राज्यसभा के चेयरमैन एम. वेंकैया नायडू को चिट्ठी लिखी. उन्होंने प्रधानमंत्री की वीडियो कॉन्फ्रेंस का हवाला देते हुए लिखा कि अगर पीएम नरेन्द्र मोदी देश के मुख्यमंत्रियों के साथ ‘सिक्योर’ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बात कर सकते हैं, तो स्टैंडिंग कमिटी भी ऐसा कर सकती है.

आनंद शर्मा ने अपने नोट में ब्रिटेन की संसदीय समितियों और संयुक्त राज्य अमेरिका में सीनेट और हाउस ऑफ कॉमंस की कमिटियों के वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग का भी जिक्र भी किया है.

इस मुद्दे पर ‘द हिंदू’ से बातचीत में उन्होंने बताया-

मैंने माननीय सभापति से अपने निर्णय पर पुनर्विचार करने को कहा है.

‘द हिंदू’ के मुताबिक, 21 अप्रैल को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने इस तरह की समिति के साथ एक मीटिंग में भाग लिया था. उन्होंने इस मीटिंग में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ही भाग लिया था. ओम बिरला ने संसद और विधानसभाओं को तेजी से नई तकनीक सीखने और उसको व्यवहार में लाने की बात कही थी.



वीडियो देखें: अशीन विराथू की कहानी, जिनका मुस्लिमों के खिलाफ चल रहा 969 आंदोलन डरावना था

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

क्या कहता है बिहार का पहला ओपिनियन पोल: NDA को मिलेगा बहुमत? नीतीश फिर बनेंगे सीएम?

क्या कहता है बिहार का पहला ओपिनियन पोल: NDA को मिलेगा बहुमत? नीतीश फिर बनेंगे सीएम?

लोकनीति और CSDS के ओपिनियन पोल की बड़ी बातें एक नजर में.

बिहार चुनाव में जितने उम्मीदवारों पर क्रिमिनल केस हैं, उससे ज्यादा तो करोड़पति हैं

बिहार चुनाव में जितने उम्मीदवारों पर क्रिमिनल केस हैं, उससे ज्यादा तो करोड़पति हैं

आपराधिक छवि वालों की इतनी तादाद से साफ है कि दलों को लगता है, 'दाग' अच्छे हैं

बीजेपी विधायक ने कहा- अगर राहुल 'छेड़छाड़' वाली बात साबित कर दें, तो मैं इस्तीफा दे दूंगा

बीजेपी विधायक ने कहा- अगर राहुल 'छेड़छाड़' वाली बात साबित कर दें, तो मैं इस्तीफा दे दूंगा

राहुल ने खबर शेयर की थी जिसमें लिखा था-बीजेपी विधायक रेप के आरोपी को थाने से छुड़ा ले गए.

बलिया गोलीकांड का मुख्य आरोपी गिरफ्तार

बलिया गोलीकांड का मुख्य आरोपी गिरफ्तार

एसटीएफ की टीम ने लखनऊ से पकड़ा. बलिया पुलिस को हैंडओवर करेगी.

हैदराबाद में भारी बारिश से सड़कों पर भरा पानी, परीक्षाएं टलीं, 11 लोगों की मौत

हैदराबाद में भारी बारिश से सड़कों पर भरा पानी, परीक्षाएं टलीं, 11 लोगों की मौत

एनडीआरएफ की टीम मदद में जुटी. लोगों से घरों में रहने की अपील.

सीएम जगनमोहन ने सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमना की शिकायत चीफ जस्टिस से क्यों कर दी?

सीएम जगनमोहन ने सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमना की शिकायत चीफ जस्टिस से क्यों कर दी?

ये पूरा मामला तो वाकई हैरान कर देने वाला है.

फारुख अब्दुल्ला बोले- चीन के सपोर्ट से दोबारा लागू किया जाएगा अनुच्छेद 370

फारुख अब्दुल्ला बोले- चीन के सपोर्ट से दोबारा लागू किया जाएगा अनुच्छेद 370

कहा- आर्टिकल 370 को हटाया जाना चीन कभी स्वीकार नहीं करेगा.

पीएम मोदी ने जिस स्वामित्व योजना की शुरुआत की है, उसके बारे में जान लीजिए

पीएम मोदी ने जिस स्वामित्व योजना की शुरुआत की है, उसके बारे में जान लीजिए

2024 तक देश के 6.62 लाख गांवों तक सुविधा पहुंचाने का लक्ष्य है.

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने CJI को चिट्ठी लिखी, सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमन्ना पर लगाए गंभीर आरोप

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने CJI को चिट्ठी लिखी, सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमन्ना पर लगाए गंभीर आरोप

जस्टिस एनवी रमन्ना अगले संभावित चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया बन सकते हैं.

TRP स्कैम: FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर मुंबई पुलिस ने क्या कहा है?

TRP स्कैम: FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर मुंबई पुलिस ने क्या कहा है?

रिपब्लिक टीवी का आरोप है कि FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर एक्शन नहीं लिया गया.