Submit your post

Follow Us

पीएम मोदी के राज्यों को मुफ्त वैक्सीन के ऐलान पर किसने क्या कहा?

पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने सोमवार यानी कि 7 जून को देश के नाम संबोधन दिया. इस संबोधन में सबसे बड़ा ऐलान था राज्यों को मुफ़्त वैक्सीन उपलब्ध कराना. इसके अलावा उन्होंने गरीब परिवारों के लिए राहत का ऐलान करते हुए गरीब कल्याण अन्न योजना को दीपावली तक बढ़ा दिया. इसके तहत नवंबर तक 80 करोड़ लोगों को अब तय मात्रा में मुफ़्त अनाज दिया जाएगा. लेकिन उनके सबसे बड़े फ़ैसले यानी फ्री वैक्सीन पर जैसे मानो पक्ष विपक्ष दोनों कूद पड़े. उनके इस फ़ैसले पर विपक्षी नेताओं ने कटाक्ष करने का मौक़ा हाथ से जाने नहीं दिया.

आइए पहले देखते हैं कि बीजेपी विरोधियों ने इस कदम पर क्या कहा:

दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने इस फ़ैसले का स्वागत करते हुए पीएम मोदी का नहीं बल्कि सुप्रीम कोर्ट का आभार व्यक्त किया. उन्होंने ट्वीट में लिखा,

“हम माननीय सुप्रीम कोर्ट का आभार व्यक्त करते हैं कि उनके दख़ल के बाद देश भर में हर उम्र हर वर्ग के लोगों को मुफ़्त वैक्सीन उपलब्ध होगी. केंद्र सरकार चाहती तो बहुत पहले यह कर सकती थी लेकिन केंद्र की नीतियों के चलते न राज्य वैक्सीन ख़रीद पा रहे थे और न केंद्र सरकार दे रही थी.”

 

ऐसे ही तेवर कुछ कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता डीके शिवकुमार ने भी दिखाए. उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा,

“देर आए दुरुस्त आए. वैक्सीन खरीद की जिम्मेदारी लेने के केंद्र सरकार के फैसले का स्वागत है. सुप्रीम कोर्ट को धन्यवाद जिसने केंद्र सरकार को ये फ़ैसला लेने पर मजबूर किया. कर्नाटक सरकार को टीकों के समान वितरण पर ध्यान देने की जरूरत है.”

वहीं गुजरात के निर्दलीय विधायक जिगणेश मेवानी ने पीएम मोदी को चुनाव मंत्री कह कर वार किया. उन्होंने ट्वीट करके लिखा, “3 महीने और लाखों लोगों की मौत के बाद चुनाव मंत्री जागे तो सही.”

सीपीएम के महासचिव सीताराम येचुरी ने पीएम मोदी पर हमला करते हुए कहा कि केंद्र की भेदभावपूर्ण वैक्सीन नीति को आख़िर मोदी ने रद्द किया लेकिन सिर्फ़ सुप्रीम कोर्ट के डर से. उन्होंने ट्वीट में लिखा,

“मोदी, राज्य सरकारों पर बोझ डालकर अपनी भेदभावपूर्ण वैक्सिनेशन नीति का बचाव करने की कोशिश कर रहे थे. अब उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के डर से अपनी पुरानी नीति को छोड़ दिया है.”  

 

वहीं उनकी पार्टी के इकलौते मुख्यमंत्री केरल के पिनरयी विजयन ने इस फ़ैसले का स्वागत किया बिना कोई अन्य टिप्पणी किए. उन्होंने ट्वीट में लिखा,

“माननीय प्रधानमंत्री की यह घोषणा कि 21 जून से राज्यों को कोविड-19 वैक्सीन की मुफ्त आपूर्ति की जाएगी, इस समय सबसे उपयुक्त प्रतिक्रिया है. मुझे खुशी है कि हमारे अनुरोध पर प्रधानमंत्री ने सकारात्मक प्रतिक्रिया दी है.”

टीएमसी प्रमुख और वेस्ट बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने लिखा,

मैंने पीएम को इस बारे में लिखा था. हमारी सभी के लिए मुफ्त वैक्सीन की पुरानी मांग है. उन्होंने आखिरकार हमारी बात सुनी और उसे मान लिया.

 राष्ट्रीय जनता दल के प्रवक्ता प्रो. मनोज झा ने भी इस फ़ैसले के पीएम मोदी का शुक्रिया अदा किया. उन्होंने कहा,

“सुप्रीम कोर्ट की बात सुनने और कई विपक्षी दल जो मांग कर रहे थे, उसे सुनने के लिए पीएम का शुक्रिया. क्योंकि शुरू में जब हम यह कह रहे थे तो हमारा मजाक उड़ाया गया था. लेकिन, देर न होने से ये बेहतर है.”

 अब समर्थकों की बातों पर भी जरा नज़र डालते हैं:

बिहार के मुख्यमंत्री और एनडीए के घटक दल जेडीयू के नेता नीतीश कुमार ने भी फ़ैसले का स्वात करते हुए लिखा,

“पूर्व से केन्द्र सरकार द्वारा 45 वर्ष से उपर के लोगों के टीकाकरण हेतु मुफ्त टीका राज्यों को दिया जा रहा है. अब माननीय प्रधानमंत्री द्वारा 18 वर्ष से अधिक एवं 45 वर्ष से कम आयुवर्ग के सभी लोगों के टीकाकरण हेतु राज्य सरकारों को मुफ्त टीका उपलब्ध कराने एवं पिछले साल की तरह प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना को दीवाली तक बढा़कर सभी राशन कार्डधारियों को मुफ्त राशन देने का फैसला उपयोगी एवं सराहनीय है. इसके लिए माननीय प्रधानमंत्री को धन्यवाद. यह कोरोना से जंग जीतने में मददगार होगा.”

 

बीजेपी आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने ट्वीट किया. उन्होंने लिखा, “पीएम आज विनम्र थे. लेकिन उनका संदेश जोरदार और स्पष्ट था. विपक्ष शासित राज्यों ने विकेन्द्रीकृत खरीद और टीकों के प्रशासन की मांग की, लेकिन वितरित नहीं कर सके. इसलिए केंद्र ने फिर से कदम उठाया, अब केंद्र सरकार, राज्य सरकारों को खरीद कर वैक्सीन पहुंचाएगी जैसा जनवरी-अप्रैल के बीच किया था.”

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पीएम मोदी का आभार व्यक्त किया. उन्होंने लिखा, “आदरणीय प्रधानमंत्री जी के संवेदनशील नेतृत्व का ही सुफल है कि अब देश के किसी भी राज्य सरकार को कोविड वैक्सीन प्राप्ति हेतु कुछ भी खर्च नहीं करना पड़ेगा. सभी देशवासियों के लिए भारत सरकार निःशुल्क वैक्सीन उपलब्ध करवाएगी. इस जनहितकारी निर्णय के लिए प्रधानमंत्री जी का हार्दिक आभार.”

 


वीडियो- सबसे सस्ती इंडिया में बनी वैक्सीन के लिए मोदी सरकार की क्या डील है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

केरल के साथ उत्तराखंड में भी बारिश का कहर, सड़कें, इमारतें, पुल ध्वस्त, 16 की मौत

केरल के साथ उत्तराखंड में भी बारिश का कहर, सड़कें, इमारतें, पुल ध्वस्त, 16 की मौत

केरल में भारी बारिश के कारण हुई मौतों की संख्या 35 तक पहुंची.

जिस CBI अफसर को केस बंद करने के लिए सौंपा गया था, उसी ने सलाखों के पीछे पहुंचा दिया राम रहीम को

जिस CBI अफसर को केस बंद करने के लिए सौंपा गया था, उसी ने सलाखों के पीछे पहुंचा दिया राम रहीम को

इंसाफ दिलाने के लिए धमकियों और खतरों की परवाह नहीं की.

लगातार दूसरे दिन आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को बनाया निशाना, 2 की मौत, 1 घायल

लगातार दूसरे दिन आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को बनाया निशाना, 2 की मौत, 1 घायल

पुलिस और सुरक्षा बलों ने इलाके को घेरा.

केरल में भारी बारिश से तबाही, 25 से ज़्यादा मौतें, कई लापता

केरल में भारी बारिश से तबाही, 25 से ज़्यादा मौतें, कई लापता

पीएम मोदी ने केरल के मुख्यमंत्री से की बात.

श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले और पुलवामा में यूपी के मजदूर की गोली मारकर हत्या

श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले और पुलवामा में यूपी के मजदूर की गोली मारकर हत्या

कश्मीर ज़ोन पुलिस ने बताया घटनास्थलों को खाली कराया गया. तलाशी जारी.

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

राकेश टिकैत ने भी मीडिया से बात की है.

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

कुरान को लेकर अफवाह उड़ी और बांग्लादेश के कई हिस्सों में सांप्रदायिक तनाव फैल गया.

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

जज ने दोनों पक्षों की दलीलें तो सुनी लेकिन अपना फैसला रिज़र्व रख दिया.

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

किसी ने लोन लेकर परिवार को नया घर दिया था तो कोई दिवंगत पिता के शोक में जाने वाला था.

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

पुलिस ने संदिग्ध आतंकी के पास से एके-47, हैंड ग्रेनेड और कई कारतूस मिलने का दावा किया है.