Submit your post

Follow Us

अफगानिस्तान में भारतीय पत्रकार दानिश सिद्दीकी की हत्या, तालिबान ने किया था हमला

पुलित्जर पुरस्कार विजेता भारतीय फोटो जर्नलिस्ट दानिश सिद्दीकी की अफगानिस्तान में हत्या कर दी गई. ये वारदात कंधार के स्पिन बोल्डक इलाके में एक झड़प के दौरान हुई. दानिश अफगानिस्तान की स्पेशल फोर्सेज के साथ रिपोर्टिंग असाइनमेंट पर थे, उसी समय इस घटना को अंजाम दिया गया.

तालिबान ने स्पिन बोल्डक इलाके में मेन मार्केट एरिया पर कब्जा कर लिया था. अफगान सेना उसे फिर से वापस हासिल करने के लिए कार्रवाई कर रही थी. उसी दौरान क्रॉस फायरिंग में दानिश और एक सीनियर अफगानी अधिकारी की मौत हो गई. एक अफगानी कमांडर ने रॉयटर्स को बताया कि दानिश दुकानदारों से बात कर रहे थे, उसी समय तालिबान ने फिर से हमला कर दिया.

दानिश सिद्दीकी के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए भारत में अफ़ग़ानिस्तान के राजदूत फ़रीद मामुन्दज़ई ट्वीट किया,

दोस्त दानिश सिद्दीकी की कंधार में हत्या की दुखद खबर से गहरा दुख हुआ. भारतीय पत्रकार और पुलित्जर पुरस्कार विजेता अफगान सुरक्षा बलों के साथ जुड़े हुए थे. मैं उनसे 2 सप्ताह पहले काबुल जाने से पहले मिला था. उनके परिवार के प्रति संवेदना.

दानिश सिद्दीकी की गिनती दुनिया के बेहतरीन फोटो जर्नलिस्ट्स में होती थी. साल 2018 में दानिश सिद्दीकी को Pulitzer Prize से नवाजा गया था. ये अवॉर्ड रोहिंग्या मामले में कवरेज के लिए मिला था. वह मौजूदा वक्त में अंतरराष्ट्रीय एजेंसी Reuters के लिए काम कर रहे थे. अफगानिस्तान में जारी हिंसा की कवरेज के लिए गए गए थे.

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने फोटो के जरिए दानिश को याद किया,

दानिश सिद्दीकी अपने पीछे असाधारण काम छोड़ गए हैं. उन्होंने फोटोग्राफी के लिए पुलित्जर पुरस्कार जीता. कंधार में अफगान सेना के साथ जुड़े. नीचे उनकी एक तस्वीर साझा कर रहा हूं.

हाल में दिल्ली में हुई हिंसा, कोरोना वायरस के संकट, लॉकडाउन, ऑक्सीजन संकट के दौरान दानिश सिद्दीकी द्वारा क्लिक की गई तस्वीरों ने काफी सुर्खियां बटोरी थीं. दानिश सिद्दीकी ने अपने करियर की शुरुआत एक टीवी जर्नलिस्ट के रूप में की थी, बाद में वह फोटो जर्नलिस्ट बन गए. उन्होंने साल 2008 से 2010 के बीच इंडिया टुडे ग्रुप के साथ भी काम किया.

दानिश की हत्या पर उनके साथ काम करने वाले पत्रकार अपनी ओर से श्रद्धांजलि दे रहे हैं. इंडिया टुडे के ग्रुप फोटो एडिटर बंदीप सिंह ने दानिश को याद करते हुए कहा कि वह इस खबर को सुनकर हैरान हैं. दानिश ने हाल के दिनों में शानदार काम किया था. रोहिंग्या संकट के दौरान उनके काम ने हर किसी का ध्यान खींचा. लद्दाख में चीन के साथ हुई हिंसा के दौरान उन्होंने साथ में काम किया था.

आखिरी स्टोरी

दानिश ने हाल ही में अपने ट्विटर अकाउंट पर अफगानिस्तान कवरेज से जुड़ी फोटो और वीडियो साझा किए थे. दानिश सिद्दीकी की आखिरी स्टोरी एक मिशन के बारे में थी, जिसमें अफगान कमांडो कंधार के बाहरी इलाके में तालिबान विद्रोहियों के चंगुल में फंसे एक घायल पुलिसकर्मी को निकालने की कोशिश कर रहे थे. 13 जून को उन्होंने बताया था कि जिस गाड़ी में वह और अन्य विशेष बल यात्रा कर रहे थे, उसे कम से कम 3 आरपीजी और अन्य हथियारों से निशाना बनाया गया. उन्होंने ट्वीट में कहा था कि मैं भाग्यशाली था कि मैं सुरक्षित रहा, और एक रॉकेट के कवच को ऊपर से टकराते हुए कैप्चर कर पाया.

ट्विटर पर ट्रेंड

ट्विटर पर #DanishSiddiqui ट्रेंड कर रहा है. अधिकांश लोग उनके द्वारा क्लिक की गई तस्वीरों को शेयर करते हुए उनके बेहतरीन काम की तारीफ कर रहे हैं. उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे हैं. लेकिन कई लोग उनकी हत्या को लेकर इस तरह के ट्वीट भी कर रहे हैं. देखिए.

अफगानिस्तान में जंग

अमेरिकी नेतृत्व वाली अंतरराष्ट्रीय सेना बरसों तक तालिबान से जंग लड़ने के बाद अब अफगानिस्तान से हट रही है. इसके बाद तालिबान ने उत्तर और पश्चिम में कई इलाकों पर कब्जा कर लिया है. सरकार ने दावा किया है कि तालिबान ने देश के 34 प्रांतों में से 29 में सैकड़ों सरकारी इमारतों को नष्ट कर दिया है. हालांकि तालिबान अपने लड़ाकों द्वारा व्यापक विनाश के आरोपों से इनकार कर रहा है. अफगानी सुरक्षा बल तालिबान लड़ाकों को खदेड़ने और 190 जिलों पर नियंत्रण हासिल करने के लिए काम कर रहे हैं.

अफगानिस्तान में बिगड़ती सुरक्षा स्थिति को देखते हुए भारत ने कंधार स्थित अपने वाणिज्य दूतावास में तैनात करीब 50 भारतीय राजनयिकों और सुरक्षा अधिकारियों को वापस बुला लिया है. भारतीय दूतावास ने अफगानिस्तान में आने, रहने और काम करने वाले सभी भारतीयों को अपनी सुरक्षा के संबंध में बेहद सावधानी बरतने को कहा है. बढ़ती हिंसा के मद्देनजर गैर-जरूरी यात्रा से बचने की सलाह भी दी है.


दुनियादारी: अफ़गानिस्तान में तालिबान क्यों पहुंचा कंधार?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

अब यूपी में प्राइवेट स्कूलों से पैरंट्स पूछ सकेंगे फीस क्यों बढ़ाई

उत्तर प्रदेश के प्राइवेट स्कूल RTI के दायरे में आ गए हैं.

इंग्लैंड दौरे पर गए भारतीय दल में पॉज़िटिव केस मिलने पर सौरव गांगुली क्या बोले?

दादा ने Wimbledon-Euro देखने बिना मास्क जाने पर भी कुछ कहा है.

'बधाई हो' फेम एक्ट्रेस सुरेखा सीकरी का कार्डियक अरेस्ट की वजह से निधन

तीन बार नेशनल अवॉर्ड विजेता रह चुकी सुरेखा सीकरी पिछले दिनों ब्रेन स्ट्रोक के बाद बाथरूम में गिर गई थीं.

यूपी: सपा के प्रदर्शन में कथित तौर पर लगे 'पाकिस्तान जिंदाबाद' के नारे, 5 गिरफ्तार

समाजवादी पार्टी ने इस मामले पर क्या कहा, जान लीजिए.

साल 2020 में भारत में कैंसर के करीब 62,000 मामलों के लिए शराब जिम्मेदार- स्टडी

अध्ययन रिपोर्ट में ये भी सामने आया है कि भारत में शराब का सेवन बढ़ा है.

दिनेश कार्तिक ने बताया, IPL कप्तानी किसकी वजह से गई

मॉर्गन को कप्तानी मिली तो उनका क्या रिएक्शन था?

लखनऊ: थाना इंचार्ज पर हमला, हाथ से मोबाइल छीना, जान बचाने के लिए अलग से पुलिस बुलानी पड़ी

थाना इंचार्ज पर आरोप है कि उन्होंने चोरी के एक आरोपी पर थर्ड डिग्री का इस्तेमाल किया था.

कृणाल पांड्या से विवाद के बाद दीपक हूडा ने लिया ये बड़ा फैसला

इरफान पठान बोले, ये बड़ा नुकसान है.

जब राहुल द्रविड़ ने संजू से पूछा, 'क्या मेरी टीम के लिए खेलोगे?'

संजू की नज़र में द्रविड़ क्यों हैं खास.

ऋषभ पंत के पॉज़िटिव आने के बाद टीम इंडिया के लिए और बुरी खबर

भारतीय दल के चार और सदस्य हुए आइसोलेट.