Submit your post

Follow Us

महाराष्ट्र में भारी बारिश, दो दिनों में 136 लोगों की मौत, इन 6 जिलों में अलर्ट

महाराष्ट्र में लगातार हो रही बारिश के चलते 136 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं हजारों लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है. कई जिलों में बाढ़ जैसे हालात हैं. जबकि कई जगहों से भूस्खलन की खबरें भी आई हैं. NDRF और SDRF की टीमें राहत और बचाव के कामों में लगी हैं. मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक बारिश जारी रह सकती है.

इंडिया टुडे की एक खबर के मुताबिक आर्म्ड फोर्सेस भी राहत और बचाव के कामों में NDRF की मदद कर रही है. मौसम विभाग ने महाराष्ट्र के 6 जिलों के लिए ‘बेहद भारी’ बारिश की चतावनी और रेड अलर्ट जारी किया है. रायगढ़, रत्नागिरी, सिंधुदुर्ग, पुणे, सतारा और कोल्हापुर जिलों के लिए ये चेतावनी जारी की गई है.

रिपोर्ट के मुताबिक शनिवार, 24 जुलाई की सुबह साउथ गोवा के दूधसागर और सनाऊलिम (Sonaulim) के बीच एक पैसेंजर ट्रेन पटरी से उतर गई. पिछले कुछ दिनों से महाराष्ट्र में बारिश के कारण कहीं बाढ़ के हालात हैं तो कहीं भूस्खलन हो रहा है. अभी तक इन घटनाओं में 136 लोगों की मौत हो चुकी है. एक अधिकारी ने बताया कि सबसे अधिक मौतें रायगढ़ और सतारा जिलों में हुई हैं.

गुरुवार 22 जुलाई को रायगढ़ जिले के महाद तहसील में भूस्खलन के कारण 38 लोगों की मौत हुई थी. NDRF की टीमें गांववालों की मदद से राहत कार्य कर रही हैं. रायगढ़ जिले की कलेक्टर निधि चौधरी ने कहा, ‘महाराष्ट्र के रायगढ़ ज़िले में भूस्खलन की 2 अलग-अलग घटनाओं में कुल 44 लोगों की मौत हुई है. 25 से ज्यादा लोग अभी भी मलबे में दबे हैं.’

22 जुलाई की रात में सतारा जिले के आंबेघर और मीरगांव नाम के गावों में भी भूस्थलन हुआ. सतारा के एसपी ग्रामीण एजय कुमार बंसल ने कहा कि इस भूस्खलन के कारण आठ घर गलबे में दब गए हैं. हालांकि इन घटनाओं में अभी तक किसी की मौत नहीं हुई है. इसी तरह रत्नागिरी जिले में भूस्खलन हुआ था. वहां 10 लोगों के मलबे में फंसे होने की आशंका जताई जा रही है.

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक पुणे डिवीजन से 84, 452 लोगों को बारिश के चलते सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है. कोल्हापुर से होकर बहने वाली पंचगंगा नदी का जलस्तर काफी बढ़ा हुआ है. इसके पास बसे 54 गांव बाढ़ से पूरी तरह प्रभावित हैं जबकि 821 गावों में इसका आंशिक असर है. 10 राज्य हाईवे समेत 39 सड़कें आवागमन के लिए बंद कर दी गई हैं.

महाराष्ट्र सरकार ने राज्य में बारिश के कारण मरने वालों के परिवार को 5 लाख सहायता राशि देने की घोषणा की है. मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि सभी घायलों का इलाज सरकारी पैसे से कराया जाएगा. हालात काबू करने के लिए NDRF की 14 टीमों को तैनात किया गया है. सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि वे खुद हेलीकॉप्टर से बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा करने के लिए जा रहे हैं. वे रायगढ़ जिले के तलाई गांव भी जाएंगे जहां भूस्खलन हुआ है.

वहीं पीएम मोदी ने भी जान गंवाने वालों के प्रति अपनी संवेदनाएं प्रकट कीं. उनकी ओर से भी मृतकों के परिवारों को 2-2 लाख रुपये देने की घोषणा की गई है. पीएम ने कहा कि महाराष्ट्र के हालातों पर सरकार निगाह बनाए हुए है और हर तरह से मदद की जाएगी.


वीडियो- मुंबई के चेंबूर में एक घर की दीवार भरभराकर गिरने से 17 लोगों की मौत

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?