Submit your post

Follow Us

तस्वीरों में: किसानों के 'रेल रोको' आंदोलन ने रेलवे के लिए क्या आफ़त मचाई?

लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा के विरोध में और आरोपियों के ख़िलाफ़ कार्रवाई की मांग को लेकर किसानों ने 18 अक्टूबर को देशभर में कई जगहों पर ‘रेल रोको’ आंदोलन किया. इसके तहत शाम 4 बजे तक अलग-अलग रूट्स पर ट्रेनें रोकी गईं. इस आंदोलन के चलते उत्तर पूर्व रेलवे को दिल्ली-UP रूट की कुछ ट्रेनों को रद्द करने का ऐलान करना पड़ा. वहीं, कई ट्रेनों के रूट डायवर्ट किए गए.

7 जोन में किसानों ने रेल रोको आंदोलन के तहत ट्रेनें रुकवाईं. 184 रेलवे लोकेशंस पर किसान धरने पर बैठे.

290 से अधिक ट्रेनें कथित रूप से प्रभावित हुईं और 40 से अधिक ट्रेनें रद्द की गईं.

Whatsapp Image 2021 10 18 At 12.15.08 Pm

मध्य प्रदेश में शहीद किसान श्रद्धांजलि पदयात्रा और अन्य प्रांतों में शहीद कलश यात्रा निकाली गई.  लोकनीति सत्याग्रह पदयात्रा वाराणसी के अपने गंतव्य तक पहुंची.

लखनऊ पुलिस कमिश्नरेट की तरफ़ से आदेश आया कि जो भी लोग किसानों द्वारा बुलाए इस रेल रोको आंदोलन में हिस्सा लेंगे, उनके ख़िलाफ़ सीआरपीसी की धारा 144 के तहत कार्रवाई होगी और नॉर्मलसी बिगाड़ने वाले लोगों के ख़िलाफ़ रासुका भी लगाई जा सकती है.

Whatsapp Image 2021 10 18 At 12.14.28 Pm

43 ट्रेनें कैंसल की गईं. एक ट्रेन डायवर्ट और क़रीब 50 ट्रेनों को आंशिक रूप से कैंसल किया गया.

Whatsapp Image 2021 10 18 At 12.14.45 Pm

लखीमपुर खीरी कांड के बाद किसान लगातार मोदी कैबिनेट के मंत्री और आरोपी आशीष मिश्रा के पिता अजय मिश्रा टेनी को मंत्री पद से बर्ख़ास्त करने की मांग कर रहे हैं. इसी को लेकर रेल रोको जैसे प्रदर्शन किए जा रहे हैं.

उत्तर प्रदेश में पुलिस ने कई जगह किसान नेताओं को हिरासत में लिया है. मध्य प्रदेश में पुलिस ने गुना, ग्वालियर, रीवा, बामनिया (झाबुआ) और अन्य जगहों पर प्रदर्शनकारियों को गिरफ़्तार किया.

Whatsapp Image 2021 10 18 At 12.14.01 Pm

संयुक्त किसान मोर्चा की तरफ़ से रेल रोको आंदोलन रखा गया था. रविवार 17 अक्टूबर को भी मोर्चे की तरफ से कहा गया कि जब तक खीरी मामले में न्याय नहीं मिलता, तब तक अलग-अलग आंदोलन चलते रहेंगे.

पुलिस की तमाम चेतावनियां के बावजूद पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कई रेलवे लोकेशंस पर प्रदर्शन हुए. मेरठ के क़रीब मोदीनगर में प्रदर्शनकारियों ने चलती ट्रेन को रुकवा दिया.

 

Whatsapp Image 2021 10 18 At 12.13.57 Pm

आंदोलन में संख्या और जोश पंजाब और हरियाणा में सबसे ज़्यादा दिखा, क्योंकि किसान आंदोलन का सबसे ज़्यादा प्रभाव भी इन्हीं इलाक़ों में रहा.

एएनआई से संक्षेप में बात करते हुए, किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा,

“देश भर के विभिन्न ज़िलों में यह विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है. इस आंदोलन का समर्थन करने वाले ‘रेल रोको आंदोलन’ के बारे में जानते हैं. केंद्र सरकार ने अभी तक हमसे इस मामले में बात नहीं की है. “

Whatsapp Image 2021 10 18 At 12.13.43 Pm

फिलहाल लखीमपुर खीरी मामले के आरोपी आशीष मिश्रा पुलिस कस्टडी में हैं. उनके पिता अजय मिश्रा कह चुके हैं कि अगर उनके बेटे के ख़िलाफ़ लगे आरोप सही साबित हुए तो वे मंत्री पद छोड़ देंगे.


सिंघु बॉर्डर पर युवक का शव मिला तो संयुक्त किसान मोर्चा ने क्या दावा किया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

लगातार दूसरे दिन आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को बनाया निशाना, 2 की मौत, 1 घायल

पुलिस और सुरक्षा बलों ने इलाके को घेरा.

केरल में भारी बारिश से तबाही, 25 से ज़्यादा मौतें, कई लापता

पीएम मोदी ने केरल के मुख्यमंत्री से की बात.

श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले और पुलवामा में यूपी के मजदूर की गोली मारकर हत्या

कश्मीर ज़ोन पुलिस ने बताया घटनास्थलों को खाली कराया गया. तलाशी जारी.

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

राकेश टिकैत ने भी मीडिया से बात की है.

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

कुरान को लेकर अफवाह उड़ी और बांग्लादेश के कई हिस्सों में सांप्रदायिक तनाव फैल गया.

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

जज ने दोनों पक्षों की दलीलें तो सुनी लेकिन अपना फैसला रिज़र्व रख दिया.

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

किसी ने लोन लेकर परिवार को नया घर दिया था तो कोई दिवंगत पिता के शोक में जाने वाला था.

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

पुलिस ने संदिग्ध आतंकी के पास से एके-47, हैंड ग्रेनेड और कई कारतूस मिलने का दावा किया है.

Urban Company की महिला 'पार्टनर्स' ने इसके खिलाफ मोर्चा क्यों खोल दिया है?

ये महिलाएं अर्बन कंपनी के लिए ब्यूटिशियन या स्पा वर्कर का काम करती हैं.

लखीमपुर केस में आशीष मिश्रा 12 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार

जांच में सहयोग नहीं करने का आरोप.