Submit your post

Follow Us

डॉनल्ड ट्रंप दूसरी बार भी महाभियोग से कैसे बच गए?

जनवरी-2021 में ही अमेरिका की संसद पर हुए हमले के मामले में पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को बड़ी राहत मिली है. अमेरिकी सीनेट ने उन्हें हिंसा भड़काने और भीड़ को उकसाने के आरोपों से बरी कर दिया है. सीनेट में महाभियोग प्रस्ताव पर वोटिंग हुई. 57 सीनेटरों ने ट्रंप को दोषी करार दिया, जबकि 43 सीनेटरों ने ऐसा नहीं माना. महाभियोग के लिए जरूरी वोट 67 थे. यानी 10 वोट और ट्रंप के खिलाफ पड़ते तब उन पर महाभियोग की कार्रवाई होती. ट्रंप के खिलाफ दूसरी बार महाभियोग प्रस्ताव लाया गया था और वो इस बार भी बच गए.

इस दौरान पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की पार्टी (रिपब्लिकन पार्टी) के 7 सदस्यों ने महाभियोग प्रस्ताव के पक्ष में वोट दिया. आपको बता दें कि कुल 100 में से डेमोक्रेटिक पार्टी के सदस्यों की संख्या 50 है और ट्रंप को दोषी ठहराने के लिए उन्हें 17 वोटों की आवश्यकता थी. ट्रंप के वकीलों ने करीब 4 घंटे तक दलीलें दीं. दोनों पक्षों की दलीलों को ज्यूरी का काम कर रहे सीनेटरों ने सुना और सवाल किए. इसके बाद 100 सदस्यों वाली सीनेट में वोटिंग हुई और ट्रंप बरी हो गए.

महाभियोग मुकदमे से बरी होने के बाद ट्रंप ने कहा कि ये हमारे देश के इतिहास में अभी तक का सबसे बड़ा विच हंट था. कोई राष्ट्रपति कभी इससे नहीं गुजरा है. ट्रंप ने अपने बयान में कहा,

“किसी राष्ट्रपति को पहले ये कभी नहीं झेलना पड़ा है, और ये अभी भी जारी है क्योंकि हमारे विरोधी ये नहीं भूले हैं कि करीब 75 मिलियन लोगों ने कुछ ही महीनों पहले हमें वोट किया है.”

ट्रंप ने कहा कि मैं सबसे पहले वकीलों और अन्य लोगों की अपनी टीम को धन्यवाद देना चाहूंगा क्योंकि उन्होंने न्याय और सच के लिए बिना थके काम किया है. उन्होंने कहा,

“मैं यूएस सीनेटर्स और कांग्रेस सदस्यों को धन्यवाद देना चाहूंगा जो संविधान के लिए खड़े हुए. और उन कानूनी सिद्धांतों के लिए जो हमारे देश के दिल में बसते हैं.”

कैपिटल बिल्डिंग में क्या हुआ था?

6 जनवरी को ट्रंप समर्थकों ने चुनाव में धांधली के आरोप लगाते हुए वॉशिंगटन डीसी में मौजूद कैपिटल बिल्डिंग में जमकर हंगामा मचाया. यहां अमेरिकी कांग्रेस के लोग बैठते हैं. लोगों की भीड़ इस बिल्डिंग के भीतर घुस गई. तोड़फोड़ की. पुलिस से झड़प हुई. आंसू गैस के गोले दागे गए. बवाल में एक महिला समेत चार लोगों की मौत भी हो गई थी.


 

वीडियो- फेसबुक और ट्विटर के बाद अब यूट्यूब ने भी ट्रम्प का अकाउंट सस्पेंड मार दिया!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

मृतक व्यक्ति पर नाबालिग से बलात्कार का आरोप था.

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5G के रोल आउट को लेकर दिक्कतें चालू.

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

बीमा कंपनी गाड़ी चोरी या दुर्घटनाग्रस्त होने का बहाना बनाए तो ये आदेश दिखा देना.

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

दबी जुबान में क्या कह रही है पुलिस?

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

जानेंगे बैंक FD में क्यों घट रही है लोगों की दिलचस्पी.

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

तौकीर रजा कांग्रेस पर आरोप लगा चुके हैं कि उसने मुसलमानों पर आतंकी का टैग लगाया.

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

जानिए UPA के समय हुई इस डील ने कैसे देश को शर्मसार किया.

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

बीबीसी का आरोप, टीम के साथ नरसिंहानंद के समर्थकों ने गाली-गलौज और धक्का-मुक्की की.

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

मुख्य आरोपी के साथ उसके दोस्तों को पुलिस ने पकड़ लिया है.

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

पार्टी के इस कदम से आहत हरक सिंह रावत मीडिया के सामने भावुक हो गए.