Submit your post

Follow Us

राजनाथ सिंह ने मान लिया, चीनी सैनिक लद्दाख में घुसे!

भारत और चीन के बीच LAC (लाइन ऑफ़ एक्चुअल कंट्रोल) पर सब ठीक नहीं चल रहा है. नाकू ला और लद्दाख, दोनों फ्रंट डिस्टर्ब हैं. पैंगोंग झील, गलवान नदी के पास कई दिनों से दोनों देशों के सैनिक आमने-सामने हैं. सीमा विवाद सुलझाने के लिए कई दौर की वार्ताएं हो चुकी हैं, मगर नतीजे के नाम पर वही ढाक के तीन पात. इस पूरे मामले पर केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने चीजें साफ़ की हैं.

न्यूज़ एजेंसी PTI की रिपोर्ट मुताबिक़ राजनाथ सिंह ने 2 मई को माना है कि पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में ‘ठीक-ठाक संख्या’ में चीनी सैनिक आ गए हैं. उन्होंने कहा कि भारत स्थिति से निपटने के लिए सभी जरूरी कदम उठा रहा है. केंद्र ने यह पहली बार माना है कि चीनी सैनिकों ने भारतीय क्षेत्र में अतिक्रमण किया है.

राजनाथ सिंह ने बताया कि 6 जून को भारत और चीन के सीनियर मिलिट्री लीडर्स के बीच बैठक होने वाली है. उन्होंने बताया कि लद्दाख क्षेत्र में भारत और चीन के बीच असहमति है और चीनियों ने यह समझकर कब्ज़ा किया है कि उन्हें लगता है कि उनका है. भारत ने वही किया है जो उसे करने की जरूरत है.

विपक्षी दल कांग्रेस लद्दाख मसले को लेकर चीन पर हमलावर है. 29 मई को कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा था कि चीन सीमा को लेकर सरकार की चुप्पी अटकलों और अनिश्चितताओं को हवा दे रही है. भारत सरकार को बताना चाहिए कि वहां चल क्या रहा है.

भारत की सड़क से है चीन को दिक्कत

भारत और चीन के सैनिक LAC पर टकराते रहते हैं. लेकिन लद्दाख का मसला शांत होने का नाम नहीं ले रहा. 9 मई को हुई झड़प के बाद कई दौर की वार्ताओं के बाद भी चीजें सामान्य नहीं हो सकी हैं. रिपोर्ट्स के मुताबिक़, भारत लद्दाख में एक सड़क बना रहा है. इन्फ्रास्ट्रक्चर मजबूत कर रहा है. भारत ने करीब 260 किलोमीटर लंबे दारबुक-श्योक-दौलत बेग ओल्डी DBO सड़क पिछले साल ही पूरी की है. इसके साथ ही कुछ लिंक रोड और पुल बनाए जा रहे हैं. चीन को ये हजम नहीं हो रहा. वह इस बात पर विरोध कर रहा है. इसी के चलते गतिरोध बढ़ा है. वे भारत के कंस्ट्रक्शन और एक निश्चित पॉइंट से आगे गश्त को लेकर आपत्ति कर रहे हैं.  इसी को लेकर सबसे पहले इस महीने के शुरू में दोनों ओर के सैनिक भिड़ गए थे.


विडियो- आयात बंद करके चीन को कितना नुकसान पहुंचा सकता है भारत?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कोरोना काल में क्रिकेट खेलने वाले मनोज तिवारी ‘आउट’

दिल्ली में हार के बाद बीजेपी का पहला बड़ा फैसला.

1 जून से लॉकडाउन को लेकर क्या नियम हैं? जानिए इससे जुड़े सवालों के जवाब

सरकार ने कहा कि यह 'अनलॉक' करने का पहला कदम है.

3740 श्रमिक ट्रेनों में से 40 प्रतिशत ट्रेनें लेट रहीं, रेलवे ने बताई वजह

औसतन एक श्रमिक ट्रेन 8 घंटे लेट हुई.

कंटेनमेंट ज़ोन में लॉकडाउन 30 जून तक बढ़ाया गया, बाकी इलाकों में छूट की गाइडलाइंस जानें

गृह मंत्रालय ने कंटेनमेंट ज़ोन के बाहर चरणबद्ध छूट को लेकर गाइडलाइंस जारी की हैं.

मशहूर एस्ट्रोलॉजर बेजान दारूवाला नहीं रहे, कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी

बेटे ने कहा- निमोनिया और ऑक्सीजन की कमी से हुई मौत.

लॉकडाउन-5 को लेकर किस तरह के प्रपोज़ल सामने आ रहे हैं?

कई मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि 31 मई के बाद लॉकडाउन बढ़ सकता है.

क्या जम्मू-कश्मीर में फिर से पुलवामा जैसा अटैक करने की तैयारी में थे आतंकी?

सिक्योरिटी फोर्स ने कैसे एक्शन लिया? कितना विस्फोटक मिला?

लद्दाख में भारत और चीन के बीच डोकलाम जैसे हालात हैं?

18 दिनों से भारत और चीन की फौज़ आमने-सामने हैं.

शादी और त्योहार से जुड़ी झारखंड की 5000 साल पुरानी इस चित्रकला को बड़ी पहचान मिली है

जानिए क्या खास है इस कला में.

जिस मंदिर के पास हजारों करोड़ रुपये हैं, उसके 50 प्रॉपर्टी बेचने के फैसले पर हंगामा क्यों हो गया

साल 2019 में इस मंदिर के 12 हजार करोड़ रुपये बैंकों में जमा थे.