Submit your post

Follow Us

CRED ऐप क्या है जिसके ऐड में राहुल द्रविड़ गुस्से में आग-बबूला हो रहे हैं?

एक ऐप है CRED. इसका ऐड आपने TV या यूट्यूब पर कभी न कभी तो देखा ही होगा. इनके ऐड में गोविंदा और माधुरी दीक्षित जैसी सितारे तक काम कर चुके हैं. इस बार ये जो ऐड लेकर आए हैं, उसमें कुछ ऐसा हो रहा है जो शायद ही किसी ने सोच होगा. हमेशा शांत रहने वाले, ‘द वॉल’ के नाम से मशहूर, भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ गुस्सा कर रहे हैं. वो भी ऐसा वैसा नहीं, रेड सिग्नल पर गाड़ी में बैठे चीख चिल्ला रहे हैं, दूसरी गाड़ियों को बल्ले से मार रहे हैं, खुद को इंदिरानगर का गुंडा बता रहे हैं. जिसे भी ऐड दिखाया उसकी हंसी जरूर निकल गई.

भारतीय क्रिकेट टीम के मौजूद कप्तान विराट कोहली ने ट्विटर पर इस ऐड को साझा करते हुए मज़ाकिया अंदाज़ में लिखा, “राहुल भाई की ये साइड तो पहले कभी नहीं देखी.” पहले नीचे लगा हुआ ट्वीट देखिए और उसमें लगे हुए ऐड का वीडियो:

क्रेड के इस वीडियो ऐड के यूट्यूब डिस्क्रिप्शन में लिखा है, “हाय, मैं राहुल द्रविड़ इस वीडियो का डिस्क्रिप्शन लिख रहा हूं. क्षमा करें, मैंने अपना आपा खो दिया. मैं इन दिनों मेडिटेशन कर रहा हूं.”

डिस्क्रिप्शन के आखिर में लिखा है, “अगर वो लाल SUV वाला अजय, जिसने मुझे 8 अप्रैल को ओवरटेक किया था, ये पढ़ रहा है, तो मुझे एक हफ़्ते में फ़िर से वहीं पर मिलो. मैं इंतज़ार करूंगा.”

ये तो बात हो गई ऐड की और उसमें पनपने वाले और कभी न देखे जाने वाले राहुल द्रविड़ के गुस्से की. अब हम आपको ये भी बता देते हैं कि आखिर ये क्रेड ऐप है क्या? जिसने ये सियापा मचा रखा है.

क्या है क्रेड ऐप?

एक बार की बात है घर पर TV पर क्रिकेट मैच चल रहा था. हम और हमारे पिताश्री देख रहे थे. लगभग हर दूसरे-तीसरे ऐड ब्रेक में क्रेड का ऐड आ रहा था. हमने अपने पिताश्री से पूछा कि आपको पता है क्रेड क्या है? उन्होंने कहा कि पेटीएम जैसा ऐप होगा. पैसा चुकाओ दुकान पर, ट्रेन की टिकट बुक करो वग़ैरह-वग़ैरह. तब समझ आया कि ये कंफ्यूज़न बहुत लोगों को है. अगर आपको भी ये कंफ्यूज़न है तो हम इसे दूर किए देते हैं.

ऑफिस की भाग दौड़ करने वाले लोग क्रेडिट कार्ड खूब इस्तेमाल करते हैं. सभी नहीं, मगर फिर भी बहुत सारे. बहुत लोगों के पास तो दो-दो, तीन-तीन कार्ड होते हैं. अब इनसे शॉपिंग की जाती है, इधर उधर के बिल भरे जाते हैं और फिर महीने भर बाद इनका बिल चुका दिया जाता है. ठीक वैसे ही जैसे पनवाड़ी वाले के पास या मोहल्ले की राशन की दुकान पर महीने-महीने का खाता चलता है. क्रेड बस क्रेडिट कार्ड के इन्हीं बिल को जमा करने वाला ऐप्लिकेशन है.

कैसा है क्रेड का एक्सपीरियंस?

Cred Use
क्रेड ऐप का इंटरफ़ेस ये है.

हम क्रेड को 2 साल से चला रहे हैं. अपने ऐड में ये बिल जमा करने पर जिन कैशबैक और ईनाम की बात करते हैं, वो बस बात बराबर ही है. आप जितने रुपए का बिल चुकाते हैं आपको उतने ही क्रेड कॉइन मिलते हैं. आप इन कॉइन से कैशबैक मांग सकते हैं या फिर इस ऐप पर बिकने वाले सामान या वाउचर को खरीदने में इस्तेमाल कर सकते हैं. हर बार बिल भरने के बाद आपको कैशबैक जीतने का मौका मिलता है. इसके लिए कभी 1000 क्रेड कॉइन इस्तेमाल होते हैं, तो कभी 5000. इनमें कैशबैक 1000 रुपए या 5000 रुपए तक निकल सकता है. मगर कभी ये कैशबैक 6-7 रुपए निकलता है, तो कभी 15-20 रुपए. अगर आप क्रेड कॉइन की मदद से शॉपिंग या वाउचर खरीदना चाहते हैं, तो ये आपको बस कुछ पैसों का डिस्काउंट दिला देता है.

मगर फिर भी क्रेड के कुछ फायदे हैं. ये आपके सारे क्रेडिट कार्ड को एक जगह पर इकट्ठा कर देता है. आप यहां से इनका खर्च भी देख सकते हैं, बिल जमा करने की तारीख जान सकते हैं और यहीं से पेमेंट भी कर सकते हैं. हर क्रेडिट कार्ड को संभालने के लिए अलग-अलग बैंक ऐप फोन में डालकर रखने की जरूरत नहीं पड़ती. ये ठीक वैसा ही है, जैसे आप किसी UPI ऐप में अपने सभी बैंक के डेबिट कार्ड डालकर रख लें. पेमेंट करने के लिए आप कोई भी UPI ऐप या डेबिट कार्ड इस्तेमाल कर सकते हैं. क्रेड आपको हर बार ऑप्शन देता है कि आप इनकी खुद की UPI सर्विस का फायदा उठाएं, जिसे चालू हुए अभी बहुत टाइम नहीं हुआ है. इसे प्रमोट करने के लिए बाकी ऐप की तरह ये भी ऑफर वग़ैरह चला रहे हैं.

दिक्कत क्रेड के इंटरफेस की है. मतलब कि ऐप में होम और कार्ड वाली टैब (जहां आप अपने सारे कार्ड को देख सकते हैं) को छोड़कर बाकी सभी टैब में आइटम बड़े ही घुपचुप से घुसे हुए हैं. कुछ समझ ही नहीं आता कि क्या क्लिक कर रहे हैं और इससे होगा क्या.


वीडियो: जब मार्क ज़करबर्ग खुद सिग्नल चलाते मिले तो उसी ने ट्विटर पर मार्क के मज़े ले लिए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

आपको फर्जी शेयर टिप्स देकर इस परिवार ने करोड़ों का मुनाफा कैसे पीट लिया?

आपको फर्जी शेयर टिप्स देकर इस परिवार ने करोड़ों का मुनाफा कैसे पीट लिया?

Bull Run कांड में सेबी का फैसला, एक ही परिवार के 6 लोगों पर लगा बैन.

आदिवासी, आंदोलनकारी, पत्रकार और ऐक्ट्रेस, जानिए यूपी में कांग्रेस ने किन चेहरों पर दांव लगाया है?

आदिवासी, आंदोलनकारी, पत्रकार और ऐक्ट्रेस, जानिए यूपी में कांग्रेस ने किन चेहरों पर दांव लगाया है?

कांग्रेस की पहली लिस्ट में 50 महिला उम्मीदवार शामिल हैं

इस तस्वीर ने यूपी चुनाव से पहले सपा गठबंधन को लेकर क्या सवाल खड़े कर दिए?

इस तस्वीर ने यूपी चुनाव से पहले सपा गठबंधन को लेकर क्या सवाल खड़े कर दिए?

तस्वीर गौर से देखेंगे तो समझ आ जाएगा, हम तो बता ही देंगे.

योगी सरकार को एक और झटका, मंत्री दारा सिंह चौहान ने भी साथ छोड़ा

योगी सरकार को एक और झटका, मंत्री दारा सिंह चौहान ने भी साथ छोड़ा

बीते 24 घंटों के भीतर यूपी के दो कैबिनेट मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया है.

ITR फाइलिंग की डेडलाइन बढ़ी है, लेकिन नाचने से पहले ये खबर पढ़ लो!

ITR फाइलिंग की डेडलाइन बढ़ी है, लेकिन नाचने से पहले ये खबर पढ़ लो!

सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेस ने असल में क्या कहा है?

दिल्ली में प्राइवेट ऑफिस, रेस्टोरेंट और बार पूरी तरह बंद किए गए, छूट किसे मिली है ये जान लो

दिल्ली में प्राइवेट ऑफिस, रेस्टोरेंट और बार पूरी तरह बंद किए गए, छूट किसे मिली है ये जान लो

कोरोना के केस बढ़ने के बीच DDMA की नई गाइडलाइंस जारी.

यूपी में MSP कृषि लागत से ज्यादा नहीं तो BJP इसका ढोल क्यों पीट रही है?

यूपी में MSP कृषि लागत से ज्यादा नहीं तो BJP इसका ढोल क्यों पीट रही है?

यूपी में MSP की तारीफ़ का सच.

Nykaa का IPO अशनीर ग्रोवर और कोटक महिंद्रा के बीच जंग की वजह कैसे बन गया?

Nykaa का IPO अशनीर ग्रोवर और कोटक महिंद्रा के बीच जंग की वजह कैसे बन गया?

BharatPe के लीगल नोटिस और अशनीर ग्रोवर के 'गाली' वाले ऑडियो पर क्या बोला Kotak?

Xiaomi ने सरकार को कैसे लगा दिया 653 करोड़ का चूना?

Xiaomi ने सरकार को कैसे लगा दिया 653 करोड़ का चूना?

Xiaomi भारत में सबसे ज्यादा मोबाइल बेचने वाली चीनी कंपनी है.

नरसिंहानंद का एक और घटिया बयान, 'जिसने एक बेटा पैदा किया, उस मां को औरत मत मानना'

नरसिंहानंद का एक और घटिया बयान, 'जिसने एक बेटा पैदा किया, उस मां को औरत मत मानना'

नरसिंहानंद ने कहा, "मुसलमानों से हिंदुओं को मरवाओगे क्या?"