Submit your post

Follow Us

पड़ताल: क्या मोबाइल कंपनियां लॉकडाउन 3.0 खत्म होने तक इंटरनेट मुफ़्त में दे रही हैं?

दावा

मैसेजिंग प्लेटफ़ॉर्म वॉट्सऐप पर फ़्री इंटरनेट से जुड़ा एक मैसेज वायरल हो रहा है. इसमें दावा किया जा रहा है कि सभी मोबाइल कंपनियों ने तीसरा लॉकडाउन समाप्त होने तक मुफ़्त डेटा देने का ऐलान किया है. ये सुविधा उठाने के लिए आपको बस एक लिंक पर क्लिक करना होगा.

वायरल मैसेज में जो लिखा है वो हम यहां लिख रहे हैं, बिना भाषाई बदलाव केः

Covid-19: सभी मोबाइल कंपनियो का एलान 

कोरोना महामारी के कारण 17 मई 2020 तक लाॅकडाउन के वजह से मोबाइल कंपनियों नें सभी मोबाइल यूजर को फ्री इन्टरनेट देने का ऐलान किया है ताकि आप घर बैठे अपना काम कर सके। कृपया घर में रहकर कोरोना वायरस (Covid-19) को फैलने से रोकें।

नोट:- नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करके अपना फ़्री रीचार्ज प्राप्त करें  

 👉🏼 https://telecom.covid19offer.live

 कृपया ध्यान दे: यह ऑफर केवल 17 मई 2020 तक ही सिमित है!

वॉट्सऐप पर घूम रहा मेसेज.
वॉट्सऐप पर घूम रहा मेसेज.

कोरोना संक्रमण की आशंका के कारण पूरा देश 25 मार्च से लॉकडाउन में है. तीसरे लॉकडाउन के लिए 17 मई की डेडलाइन रखी गई है.

पड़ताल

‘दी लल्लनटॉप’ ने वायरल मेसेज की विस्तार से पड़ताल की. हमारी पड़ताल में ये दावा फ़र्ज़ी निकला.

सबसे पहले हमने दिए गए लिंक को ‘Incognito Mode’ में खोला. पहले ही पेज पर फ़्री रिचार्ज़ का बैनर दिखा. इसके नीचे ऑफ़र प्राप्त करने का प्रोसेस बताया गया था. इसके अनुसार, वेरिफ़िकेशन के लिए आपको 10 ग्रुप या दोस्तों को वॉट्सऐप पर ये मेसेज भेजना होगा. उसके बाद ही आप इस सुविधा का लाभ उठा पाएंगे.

लिंक पर क्लिक करने पर पहला पेज ऐसा दिखता है.
लिंक पर क्लिक करने पर पहला पेज ऐसा दिखता है.

रिचार्ज के ऑप्शन पर क्लिक करने पर हमें एक दूसरा पेज मिला. इसमें ऑफ़र पाने के लिए एक और टास्क दिया गया. इस बार टास्क एक ऐप इंस्टॉल करने का था. पेज पर मौजूद जानकारी के अनुसार, ऐप इंस्टॉल करने के बाद ही आपका रजिस्ट्रेशन कंफ़र्म होगा. 

रिचार्ज़ के लिंक पर क्लिक करने पर ऐप इंस्टॉल करने के लिए कहा जाता है.
रिचार्ज़ के लिंक पर क्लिक करने पर ऐप इंस्टॉल करने के लिए कहा जाता है.

और, ऐप डाउनलोड करके आप इस ऑफ़र का लाभ ले सकते हैं. दिए गए लिंक पर क्लिक करने पर हमें गूगल प्ले पर ‘4Fun’ नामक ऐप का पता मिला. ये एक वीडियो शेयरिंग ऐप है.

रास्ता कोई और है, मंज़िलें कुछ और हैं.
रास्ता कोई और है, मंज़िलें कुछ और हैं.

इस पूरे प्रोसेस में कहीं भी मोबाइल नंबर नहीं मांगा गया. मोबाइल रिचार्ज़ के लिए मैसेज को वॉट्सऐप ग्रुप्स में शेयर करने के लिए कहना ठीक वैसा ही है, जैसे खाना बनाने के लिए पचास पुश-अप मारने के लिए कहा जाए. मतलब ये कि इन दोनों चीजों का आपस में कोई तालमेल ही नहीं है.

हमने इंटरनेट पर ऐसी जानकारी के बारे में सर्च किया. लेकिन, हमें ऐसी कोई प्रामाणिक रिपोर्ट नहीं मिली, जिसमें मोबाइल कंपनियों द्वारा 17 मई तक फ़्री इंटरनेट देने की बात कही गई हो. मोबाइल कंपनियां नए ऑफ़र्स की जानकारियां अपने वेरिफ़ाइड सोशल मीडिया अकाउंट्स पर साझा करती हैं. हमने मोबाइल कंपनियों की वेबसाइट और सोशल मीडिया अकाउंट्स की भी पड़ताल की. लेकिन, हमें वहां इस दावे से जुड़ी कोई सूचना नहीं मिली.

प्रेस इन्फ़ॉर्मेशन ब्यूरो की फ़ैक्ट-चेक इकाई ने भी इस वायरल दावे का खंडन किया. ट्वीट (आर्काइव लिंक) देखिए,

नतीजा

मोबाइल कंपनियों द्वारा 17 मई तक फ़्री इंटरनेट देने का वायरल दावा ग़लत है. डेटा कंपनियों ने ऐसा कोई ऐलान नहीं किया है. वायरल मेसेज के साथ शेयर किया जा रहा लिंक भी फ़र्ज़ी है. ये आपको गूगल प्ले स्टोर पर एक ऐप के लिंक पर ले जाता है, जिसका मोबाइल रिचार्ज़ से कोई लेना-देना नहीं है.

वायरल मेसेज पर भरोसा करने से आपका पर्सनल डेटा भी खतरे में पड़ सकता है. इसलिए, ऐसे फ़र्ज़ी लिंक्स पर क्लिक न करें और इसे आगे बढ़ने की चेन को तोड़ें. इस मैसेज का पूरा मकसद एक ऐप की डाउनलोडिंग बढ़ाना था. ऐसा करने से आपकी पर्सनल जानकारियां ग़लत हाथों में जा सकती है.

अगर आपको भी किसी ख़बर पर शक है
तो हमें मेल करें- padtaalmail@gmail.com पर.
हम दावे की पड़ताल करेंगे और आप तक सच पहुंचाएंगे.

कोरोना वायरस से जुड़ी हर बड़ी वायरल जानकारी की पड़ताल हम कर रहे हैं.
इस लिंक पर क्लिक करके जानिए वायरल दावों की सच्चाई.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पड़ताल

पड़ताल: नौजवान की मारपीट और धारदार हथियार से हत्या को मुस्लिमों से जोड़ते वीडियो का सच

पड़ताल: नौजवान की मारपीट और धारदार हथियार से हत्या को मुस्लिमों से जोड़ते वीडियो का सच

वॉट्सऐप पर वायरल वीडियो के एक हिस्से में भीड़ मारपीट कर लड़के को एक इमारत में खींचकर ले जाती है.

पड़ताल: सिद्धार्थ शुक्ला के आखिरी पलों का वीडियो बताकर भ्रम फैलाया जा रहा, जानिए सच

पड़ताल: सिद्धार्थ शुक्ला के आखिरी पलों का वीडियो बताकर भ्रम फैलाया जा रहा, जानिए सच

बिग बॉस विजेता रहे 40 साल के टीवी ऐक्टर सिद्धार्थ शुक्ला की 2 सितंबर को मुंबई में मौत हो गई.

पड़ताल: अमेरिकी सेना के बचे हेलिकॉप्टर्स तालिबान को मिले तो वे इन्हें सड़क पर दौड़ाने लग गए?

पड़ताल: अमेरिकी सेना के बचे हेलिकॉप्टर्स तालिबान को मिले तो वे इन्हें सड़क पर दौड़ाने लग गए?

दावा किया जा रहा है कि ये तालिबान की हेलिकॉप्टर ट्रेनिंग का वीडियो है.

पड़ताल: क्या आर्कटिक में चाँद ने ढक लिया सूरज? देखिए इस वीडियो का सच

पड़ताल: क्या आर्कटिक में चाँद ने ढक लिया सूरज? देखिए इस वीडियो का सच

ये वीडियो एक बार फिर वॉट्सऐप पर वायरल हो रहा है.

पड़ताल: न्यूज़ चैनल CNN ने नहीं की तालिबान की तारीफ, फर्जी है स्क्रीनशॉट

पड़ताल: न्यूज़ चैनल CNN ने नहीं की तालिबान की तारीफ, फर्जी है स्क्रीनशॉट

विवेक अग्निहोत्री, वरुण गांधी समेत कई वेरिफाइड यूज़र्स ने किया दावा.

पड़ताल: क्या इस साल 10वीं और 12वीं पास करने वाले स्टूडेंट्स को सरकारी नौकरी के लिए स्पेशल पेपर देना होगा?

पड़ताल: क्या इस साल 10वीं और 12वीं पास करने वाले स्टूडेंट्स को सरकारी नौकरी के लिए स्पेशल पेपर देना होगा?

न्यूज़ वेबसाइट के वायरल स्क्रीनशॉट का पूरा सच यहां जानिए.

पड़ताल: किन्नौर में हुए भूस्ख़लन के बाद हिमाचल के पहाड़ों में लगा है ये भयानक जाम?

पड़ताल: किन्नौर में हुए भूस्ख़लन के बाद हिमाचल के पहाड़ों में लगा है ये भयानक जाम?

हिमाचल समेत पूरे हिमालय क्षेत्र में पहाड़ दरकने की ख़बरें लगातार आ रही हैं.

पड़ताल: क्या घरेलू गैस की बढ़ी कीमतों की ज़िम्मेदार

पड़ताल: क्या घरेलू गैस की बढ़ी कीमतों की ज़िम्मेदार "55% टैक्स वसूलने वाली राज्य सरकारें" हैं?

दावा किया जा रहा है कि केंद्र सरकार मात्र 5% टैक्स ले रही है, जबकि राज्य सरकारें कई गुणा ज्यादा.

पड़ताल: क्या तस्वीर में दिख रही महिला अफ़ग़ानी राजदूत की बेटी हैं, जिसका पाकिस्तान में

पड़ताल: क्या तस्वीर में दिख रही महिला अफ़ग़ानी राजदूत की बेटी हैं, जिसका पाकिस्तान में "अपहरण" हुआ था?

अफ़ग़ानी राजदूत ने पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में उनकी बेटी का अपहरण होने का दावा किया था.

पड़ताल: क्या नागालैंड में उग रहे हैं ये खूबसूरत रंगीन भुट्टे?

पड़ताल: क्या नागालैंड में उग रहे हैं ये खूबसूरत रंगीन भुट्टे?

सोशल मीडिया पर वायरल इस तस्वीर को हज़ारों यूज़र लाइक कर चुके हैं.