Submit your post

Follow Us

क्या कहता है IBC Amendment Bill, जिसे दिवालिया कंपनियों से निपटने के लिए लाया गया है

दिवालियापन. कंपनियों का दिवालिया घोषित होना आज के भारत के लिए कोई आम बात नहीं है. विजय माल्या, नीरव मोदी, मेहुल चौकसी, ललित मोदी. इन सारे नामों में क्या समानता है. यही कि बैंकों से हज़ारों करोड़ उधार लिए और चुकाने की बारी आई तो विदेश भाग लिए. ये तो वो बड़े नाम हैं जिनका जिक्र अलग-अलग वजहों से हम सुनते रहते हैं. असल में ऐसी सैकड़ों कंपनियां हैं, जो बैंकों से या किसी कर्ज देने वाली संस्था से पैसा उधार लेती हैं, लेकिन वापस नहीं चुका पातीं. दिवालिया हो जाती हैं. देश के बैंकों की बहुत बड़ी रकम डूबने वाले खाते में है. 8 लाख 34 हज़ार करोड़. यानी सरकार सालभर के लिए जितना बजट बनाती है उसके एक चौथाई हिस्से के बराबर.

तो बैंकों का पैसा कम डूबे, या जो डूब रहा हो उसे वापस वसूल किया जा सके, इस दिशा में मोदी सरकार ने 2016 में एक कानून बनाया था. तब दिवंगत अरुण जेटली वित्त मंत्री थे. उस कानून का नाम है- Insolvency and Bankruptcy Code (IBC), 2016. हिंदी में इसे कहते हैं दिवाला और शोधन अक्षमता कोड, 2016. इसमें डूबे हुए कर्ज का 330 दिन में समाधान करने का प्रावधान है.

इस प्रक्रिया को कॉरपोरेट इंसॉल्वेंसी रेसोल्यूशन प्रोसेस यानी CIRP कहते हैं. कर्ज़ देने वाले की तरफ से CIRP शुरू की जाती है. इसमें होता ये है कि कर्ज़ देने वाले की तरफ से एक कमेटी बनती है. और ये कमेटी तय करती है कि दिवालिया हो चुकी कंपनी से पैसा कैसे वसूलना है. क्या उसका अधिग्रहण करना है, या कंपनी के मैनेजमेंट में बदलाव करना है. और जब ये CIRP की प्रक्रिया चलती है तब दिवालिया कंपनी का पूरा कंट्रोल लोन देने वालों के हाथों में होता है.

ये तो हुई 2016 वाले कानून की बात. अब अरुण जेटली के लाए कानून में मौजूदा वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण बदलाव कर रही हैं. इस बदलाव के लिए संशोधन बिल लाया गया जिसका नाम है- Insolvency and Bankruptcy Code (Amendment) Bill 2021. इसमें कर्ज़ के निपटारे का एक नया तरीका निकाला गया है. इसका नाम है प्री-पैकेज्ड इंसॉल्वेंसी रेसॉल्यूशन. कोई भी ऐसी कंपनी या उद्योग जिसने 1 लाख रुपए से ज्यादा का कर्ज लिया है, वो नई प्रक्रिया में शामिल हो सकते हैं.

इसमें जो डिफॉल्टर है, यानी कर्ज़ नहीं चुका पाने वाली कंपनी के मालिक हैं, सेटलमेंट का प्रोसेस शुरू कर सकते हैं. कितना और कैसे कर्ज़ चुकाएंगे इसका प्लान वो लोन देने वालों को बता सकते हैं. इसके तहत 120 दिन में सेटलमेंट का काम करना होगा. और इस दौरान कर्ज़ में डूबे उद्योग का मैनेजमेंट मालिकों के पास ही रहेगा, कर्ज देने वालों के पास नहीं जाएगा.

कर्ज़ में डूबी लघु, सूक्ष्म या मध्यम साइज़ की कंपनियां के फायदे के लिए पुराने कानून में ये बदलाव किया गया है. ताकि ऐसा ना हो कि कर्ज़ नहीं चुका पाए तो इंसाफ करने का पूरा हक कर्ज़ देने वाले के हाथ में हो, दिवालिया होने वाले के पास भी कुछ अधिकार हों, और कंपनी का काम ना रुके. तो इस बिल पर भी संसद में कोई बहस नहीं हुई. ये बिल 28 जुलाई को लोकसभा से पारित हुआ और 3 अगस्त को राज्यसभा से भी पास हो गया. और अब राष्ट्रपति का ठप्पा लगते ही कानून बन जाएगा.


वीडियो- संसद में पास ट्रिब्यूनल रिफ़ॉर्म्स बिल के क़ानून में तब्दील होने से क्या बदलाव होंगे? 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

अली का रोल करने वाले इंडियन एक्टर अनुपम त्रिपाठी का सलमान-शाहरुख़ कनेक्शन क्या है?

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

ईमानदारी से स्कोर भी बताते जाना. हम इंतज़ार करेंगे.

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

अलवारो मोर्टे ने वेटर तक का काम किया हुआ है. और एक वक्त तो ऐसा था कि बकौल उनके कैंसर से जान जाने वाली थी.

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

हीरो बनने आए शरत सक्सेना कैसे गुंडे का चमचा बनने पर मजबूर हुए?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

एक वक़्त इंडस्ट्री में टॉप पर थे कुणाल और उनके गाने पार्टियों की जान हुआ करते थे.

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

IPL स्कैंडल, मॉडल्स के आरोप, अंडरवर्ल्ड कनेक्शंस के आरोप, एक्स वाइफ के इल्ज़ाम सब हैं इस कहानी में.

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रेन्सन की कहानी, जहां भी गए तहलका मचा दिया.

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

पहला चुनाव हार गए थे, बीजेपी ने राज्य की जिम्मेदारी सौंपी है.

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

उनके गाए 'पल' गाने के बगैर आज भी किसी कॉलेज का फेयरवेल पूरा नहीं होता.

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

आन्हां, ऐसे नहीं कि योग बस किए, दिखाना पड़ेगा कि बुद्धिबल कित्ता बढ़ा.