The Lallantop
Logo
लल्लनटॉप का चैनलJOINकरें

क्या होता है E-Visa जिसे भारत फिलहाल चीन से आने वालों को नहीं देगा?

चीनी नागरिकों के लिए ही नहीं, वहां से आने वाले विदेशी नागरिकों के लिए भी e-visa की सुविधा कुछ वक्त के लिए बंद कर दी गई है.

post-main-image
भारत ने चीन से अगली सूचना तक e-visa लेकर आने वाले यात्रियों का visa रद्द कर दिया है. चीन समेत उन सभी देशों के लिए जिनके कोई भी नागरिक चीन में रह रहे हों उनका वीज़ा अब मान्य नहीं होगा (तस्वीरें सांकेतिक)

भारत ने रविवार को चीन से आने वाले चीनी और अन्य विदेशी यात्रियों के लिए e-visa की सुविधा अस्थायी रूप से स्थगित कर दी. वजह क्या है? कोरोना वायरस. चीन में कोरोना वायरस के संक्रमण से 300 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. 17 हज़ार से ज़्यादा लोग के संक्रमित हो चुके हैं. अमेरिका, ब्रिटेन सहित 25 देशों में इस लाइलाज वायरस के फैलने का ख़तरा है. भारत में भी कोरोना वाइरस के तीन मामले सामने आ चुके हैं. भारत ने चीन में रह रहे करीब 650 भारतीयों को स्पेशल क्राफ्ट से भारत वापस बुलाया है. हालात को देखते हुए भारतीय दूतावास ने कहा कि तत्काल प्रभाव से e-visa के माध्यम से चीन से भारत की यात्रा पर रोक लगाई जाती है. ये फैसला चीनी नागरिकों और अन्य देशों के उन आवेदकों पर लागू होगा जो चीन में रहते हैं. इसी प्रकार से जिन लोगों को पहले ही e-visa जारी किया जा चुका है, उनका वीज़ा अब वैध नहीं है.


कोरोना वायरस की वजह से ऐसा पहली बार हुआ है जब भारत को वीज़ा पर इस तरह का कड़ा रुख अपनाना पड़ा है (सांकेतिक तस्वीर)
कोरोना वायरस की वजह से ऐसा पहली बार हुआ है जब भारत को वीज़ा पर इस तरह का कड़ा रुख अपनाना पड़ा है (सांकेतिक तस्वीर)

भारतीय दूतावास ने अपने आदेश में कहा कि जिन लोगों के लिए भारत की यात्रा बेहद जरूरी है, वे बीजिंग स्थित भारतीय दूतावास और शंघाई एवं ग्वांगझोउ में स्थित भारतीय वीजा आवेदन केंद्रों से संपर्क कर सकते हैं.


# लेकिन ये e-visa है क्या?

e-visa को लेकर आमतौर पर लोगों में ढेरों कन्फ्यूजन होते हैं. लोगों को लगता है कि ये visa असली वाला नहीं होता. कुछ लोगों को ये भी लगता है कि e-visa ज़रूरी नहीं होता. कुछ लोग ये सोचते हैं कि अगर visa मिल गया तो e-visa की ज़रूरत नहीं होगी?


अगर e-visa के लिए अप्लाई करना हो तो पासपोर्ट की फोटो कॉपी समेत कुछ ही कागज़ात और लगेंगे (तस्वीर सांकेतिक)
अगर e-visa के लिए अप्लाई करना हो तो पासपोर्ट की फोटो कॉपी समेत कुछ ही कागज़ात और लगेंगे (तस्वीर सांकेतिक)

इन सब सवालों के जवाब समझेंगे. इससे पहले ये समझ लीजिए कि ये e-visa कितने तरह का होता है?

तो e-visa होता है 5 किस्म का.

e-Tourist Visa

e-Business Visa

e-Conference Visa

e-Medical Visa

e-Medical Attendent Visa


विश्व स्वास्थ्य संगठन WHO ने दुनिया भर में मेडिकल इमर्जेंसी घोषित कर दी है (सांकेतिक तस्वीर)
विश्व स्वास्थ्य संगठन WHO ने दुनिया भर में मेडिकल इमर्जेंसी घोषित कर दी है (सांकेतिक तस्वीर)

हर देश के visa अप्रूवल के अपने नियम होते हैं. इसी तरह से वीज़ा कितने समय तक मान्य होगा ये भी नियम सभी देशों के अपने होते हैं. हम यहां समझेंगे कि भारत आने के लिए e-visa के क्या नियम और क़ायदे हैं.

अब ये भी समझ लीजिए कि e-Tourist Visa और e-Business Visa अपने अप्रूवल की तारीख़ से 1 साल तक के लिए मान्य होते हैं. मेडिकल वीज़ा 60 और कॉन्फ्रेंस वीज़ा 30 दिनों के लिए मान्य होते हैं. मेडिकल वीज़ा पर तीन लोग भारत आ सकते हैं. जबकि कॉन्फ्रेंस वीज़ा पर एक व्यक्ति भारत आ सकता है.


# कैसे मिलता है e-visa

इसी सवाल में ये जवाब भी मिल जाता है कि साधारण visa और e-visa में क्या फ़र्क होता है.

भारत आने वाले सभी विज़िटर्स के लिए वैलिड visa होना ज़रूरी है. साधारण visa को apply करने का तरीका अलग होता है. सामान्य visa के लिए विज़िटर को अपना पासपोर्ट अपने सभी कागज़ात के साथ जमा कराना होता है. इस visa का अप्रूवल पासपोर्ट के भीतर स्टाम्प किया होता है. ये प्रक्रिया कई तरह के काग़ज़ और समय लेती है. इस visa में देर लगती है लेकिन फ़ायदा ये होता है कि ये ज़्यादा समय के लिए मान्य होता है और इस visa पर कई बार भारत आ सकते हैं. जैसे अगर ये visa एक साल के लिए मान्य होता है तो विज़िटर इस visa पर साल भर में कई बार भारत आ सकते हैं.


दिल्ली एयरपोर्ट पर आवागमन से संबंध रखने वाले सभी विभाग एलर्ट पर हैं (सांकेतिक तस्वीर)
दिल्ली एयरपोर्ट पर आवागमन से संबंध रखने वाले सभी विभाग एलर्ट पर हैं (सांकेतिक तस्वीर)

जबकि थोड़े दिनों के लिए भारत आने वाले लोग visa के लिए ऑनलाइन apply कर सकते हैं. ये visa ऑनलाइन ही अप्रूव होगा. काग़ज़ कम लगेंगे और प्रोसेस होने में भी कम टाइम लगेगा. इसके बाद जब यात्री भारत आएगा तब उसके पासपोर्ट पर visa का स्टाम्प लगेगा. यहीं पर यात्री की उंगलियों के निशान भी लिए जाएंगे.

लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि भारत आकर एयरपोर्ट से भी e-visa apply किया जा सकता है. बिना visa के विज़िटर भारत के एयरपोर्ट पर नहीं उतर सकता.


# कहां उतर सकते हैं e-visa के साथ विज़िटर्स?

ऑनलाइन वीज़ा के साथ भारत के चुनिंदा एयरपोर्ट पर उतर सकते हैं. दिल्ली, अहमदाबाद, अमृतसर समेत 22 एयरपोर्ट हैं जहां यात्री अपने ऑनलाइन वीज़ा के साथ उतर सकते हैं. इसके अलावा अगर विज़िटर पानी के रास्ते भारत की यात्रा कर रहा है तो केवल 5 बंदरगाहों पर उतर सकता है. चेन्नई, कोच्चि,गोवा, मंगलोर और मुंबई सीपोर्ट. अगर आप सड़क से भारत की यात्रा कर रहे हैं तो e-visa काम नहीं करेगा.


# किसे मिल सकता है e-visa

162 देश के लोग ये e-visa apply कर सकते हैं. अगर कोई पाकिस्तान का नागरिक है या उसके पिछली पीढ़ियों में से कोई भी पाकिस्तान से संबंध रखता है तो वो e-visa नहीं apply कर सकता. इस केस में सामान्य visa ही apply करना पड़ेगा.




वीडियो देखें:

बजट 2020: वित्त मंत्री सीतारमण ने कहा अब आधार कार्ड देखकर पैन कार्ड दिया जाएगा