Submit your post

Subscribe

Follow Us

चुनाव के वक़्त अपने किन वीडियोज के वायरल होने से डर रहे हैं कुमार विश्वास

कुमार विश्वास भी भावना आंटी के आहत होने से परेशान हैं. तो लाइव आए, फेसबुक लाइव बहुत सही चीज है. आदमी कंबल ओढ़े-ओढ़े पीएम से पूछ सकता है, इस साल की गजक मीठी काहे नहीं है जी? लेकिन कुमार विश्वास लाइव जाएं तो बड़ी बात होती है. काहे के वो बड़े आदमी हैं. उनके फेसबुक पेज पर लाइक बहुत ज्यादा हैं, उसके आठ गुना कम वोट पाकर राहुल गांधी अमेठी से चुनाव जीत गए थे. जित्ते कुमार विश्वास की अपडेट पर लाइक आ जाते हैं उतने तो खुद कुमार विश्वास को वोट नहीं मिले थे.

तो तमाम बातों के बीच एक बात उनने कही, बताया मैं सालों से शो करता आया हूं. लेकिन जैसे ही चुनाव आते हैं. भावना आहत होने लगती है. ऐसे वीडियोज आना शुरू हो जाते हैं जिससे लोग ऑफेंड होने लगते हैं. और जाहिर सी बात है, ऐसे तमाम वीडियोज कटे-पिटे होते हैं. पुराने होते हैं. कुमार बताइन पहले 48 और 52 सेकंड के आते थे. अब 8 और 10 सेकंड के आने लगे हैं. तो हमने खोजा वो कौन से वीडियो हैं, जिन्हें खोद कर निकाला जाता है और भावनाएं आहत कराई जाती हैं. आखिर कउन से हैं वो वीडियो जिनकी बात कुमार विश्वास कर रहे थे.

एक ये वीडियो, जिसके जरिये कहा जाता है कुमार विश्वास ने इस्लाम और हुसैन साहब का अपमान किया है. भावनात्मक लोग चाहें तो सेव कर लें.

ये वीडियो जिसमें उन्होंने केरल से आई नर्सों पर टिप्पणी की थी.

और ये वो वाला जो सबसे ऑफेंडिंग माना जाता है, जिसमें उन्होंने शंकर जी पर टिप्पणी की थी.

एक ये वाला जिसमें वो तमाम अवॉर्ड्स के लिए कुछ कह रहे हैं, हालांकि इससे लोग ज्यादा आहत नहीं हुए, काहे के वो अवॉर्ड पाए लिखने-पढने वालों और अवॉर्ड्स लौटाने वालों से पहले ही आहत हुए रहते हैं.

एक ये जो हाल में ही चढ़ा है, तेरह सेकंड का है, और इसमें पंजाबियों पर चुटकुला है. पंजाब में चुनाव है और शायद इसी वीडियो की बात कुमार कर भी रहे थे.

तो ये वीडियोज हैं मोटा-मोटी. और कुछ आपके हाथ लगें तो आप भी साझा कीजिए. हम स्टोरी में जोड़ेंगे.भगत-सनेही अपनी श्रद्धा से शेयर करें. डाउनलोड करें व्हाट्सएप पर फैलाएं. आआपा कार्यकर्ता इसे डिफेंड हेतु ले जाएं, काउंटर लॉजिक दें. कांग्रेस के कार्यकर्ता क्या करें कि… बताएं. बताएं ये कि कांग्रेस में कार्यकर्ता भी होते हैं?


 

ये भी पढ़ें 

दिल्ली के अपने विधायक को पंजाब में चुनाव लड़ाने ले जा रहे केजरीवाल

ट्विटर पर कुमार विश्वास और रिजिजू के बीच ‘भभ्भड़’ मच लिया!

AAP लोग प्लीज सोशल मीडिया ट्रेनिंग ले लो, लोग मजाक उड़ाते हैं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

देववृंद के बाद अब बदलेंगे इन शहरों के भी नाम!

टाइम आ गया है जब यूपी में जगहों के नाम बदलने की बात चल रही है. हमारी ओर से भी कुछ सुझाव लिखे जाएं.

वो दस किस्से जब सुरों की, ग्लैमर की दुनिया के बाशिंदे बड़ा दिल न दिखा सके

शायर कहता है, 'जो आला जर्फ़ होते हैं, हमेशा झुक के मिलते हैं'. शायर कुछ नहीं जानता.

फेसबुक पर इन पांच तरह के कवियों से बच के रहना

विश्व कविता दिवस पर सप्रेम.

चुनाव हारने के लिए ही नहीं, इन कैटेगरीज में भी गिनीज बुक में दर्ज होंगे राहुल गांधी!

राहुल गांधी का नाम गिनीज बुक वर्ल्ड रिकॉर्ड के लिए भेजा गया है, वजह तो जान ही गए होगे.

वो शख्स जो दुनिया में लेफ्ट की पहली चुनी हुई सरकार लाया

और ये इनके नाम अकेला रिकॉर्ड नहीं है. 19 मार्च को दुनिया छोड़ गए थे.

उत्तराखंड का वो ज़िला जो इस वक़्त देश के पांच ताकतवर लोगों का घर है

जी हां पांच. दो तो नए नवेले बने सीएम ही हैं.

शशि कपूर ने बताया था, दुनिया थर्ड क्लास का डिब्बा है

आज शशि कपूर का जन्मदिन है. पढ़िए उनके दस यादगार डायलॉग्स.

इन तरीकों से बीजेपी को मिलेगा यूपी में अपना नया मुख्यमंत्री

एक ऑप्शन ऐसा है, जिससे न बीजेपी को न गठबंधन और न राहुल गांधी को आपत्ति होगी.

मैंने बांटी हैं जहां में इस क़दर खुशियां, मेरे अप्रेजल का जो हाल सुनेगा वो रो देगा

अप्रेजल वाली चिट्ठियां आने लगी हैं, हमें कुछ शेर आए, रट डालिए न जाने कब जरूरत पड़ जाए.

इन भोजपुरी फिल्मों के बस नाम पढ़कर पेट में भगदड़ मच जाती है

यहां 'कट्टा तनल दुपट्टा पर, गइल भंइसिया पानी में' और 'तोहार चुम्मां बिटामिन A ह' फिल्मों के नाम होते हैं.

पोस्टमॉर्टम हाउस

फिल्म रिव्यू: अनारकली ऑफ़ आरा

'रंडी हो, रंडी से कम हो या फिर बीवी हो, हाथ पूछकर लगाना.'

डेडपूल-2 का ये नंगा सीन अब सब देखेंगे, पहलाज निहलानी खुद दिखा रहे हैं

सुपर-हीरो के निर्वस्त्र ढुंगे के बचाव में कितनी प्यारी बातें की हैं उन्होंने.

गद्दी हथियाने का ये खूनी किस्सा आपको किसी की याद दिलाएगा

फिल्म डायरेक्टर सुधीर मिश्रा ने इंडिया टुडे कॉन्क्लेव के लिए 12 मिनट की एक शॉर्ट फिल्म 'लाइफ सपोर्ट' बनाई है.

फ़िल्म रिव्यू : ट्रैप्ड

अपने ही कमरे में 25 दिन के लिए कैद लड़के की कहानी.

होली के बाद ऐसे रंगे रहते हैं, हमारे शहर के अखबार

देश जब जेएनयू मुद्दे पर गर्म होता है, तो वहां खबर छपती है, 'जमीनी विवाद में भतीजे ने चाचा का सिर फोड़ा.

आज़ादी पर एक नई फिल्मः जिस-जिस को क्रांति करनी है, देख लो

चे गुवेरा की टीशर्ट पहनकर मैक-डी जाने वालों के लिए.

मूवी रिव्यू: लोगन एक्स-मेन सीरीज की सबसे महान फिल्म है

ये फिल्म अंतरी बुखार की तरह आपको कंपकंपाएगी, हफ़्तों तक पीछा नहीं छोड़ेगी.

35 साल बाद सुभाष नागरे ने पिस्तौल उठाई है, रामू बैक इन फॉर्म

सरकार-3 का नया ट्रेलर आ गया है.

बजरंगबली घुस गए मस्ज़िद में, झुका दिया सर

वायरल वीडियो.

फ़िल्म रिव्यू: रंगून

विशाल भारद्वाज की नई फ़िल्म.