Submit your post

Follow Us

किसानों के हक की आवाज उठा रहे योगेंद्र यादव को संयुक्त किसान मोर्चा ने सस्पेंड क्यों कर दिया?

किसानों के बड़े संगठन संयुक्त किसान मोर्चा (Samyukta Kisan Morcha ) ने योगेंद्र यादव (Yogendra Yadav) पर एक्शन लिया है. उन्हें एक महीने के लिए सस्पेंड कर दिया है. उनके ऊपर कार्रवाई को लेकर लंबे समय से चर्चा चल रही थी. उन्हें सस्पेंड करने के पीछे की वजह लखीमपुर की घटना से जुड़ी है. आइए बताते हैं पूरा मामला.

क्यों किया गया योगेंद्र यादव को सस्पेंड?

3 अक्टूबर को यूपी के लखीमपुर खीरी में किसानों पर गाड़ी चढ़ाने से 4 किसानों की मौत हो गई थी. उसके बाद हुई हिंसा में बीजेपी के तीन कार्यकर्ताओं की भी मौत हुई थी. किसानों पर गाड़ी चढ़ाने के मामले में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा सवालों में हैं. आशीष मिश्रा समेत कई कई लोगों की गिरफ्तारी भी हो चुकी है. हिंसा में मारे गए बीजेपी कार्यकर्ताओं में से एक शुभम मिश्रा के परिवार से मिलने के लिए योगेंद्र यादव उनके घर गए थे और संवेदना व्यक्त की थी. उन्होंने सोशल मीडिया पर उस मुलाकात की अपनी तस्वीरें भी साझा की थीं. उन्होंने इसे लेकर ‘द प्रिंट’ में एक लेख भी लिखा था.

उस समय योगेंद्र यादव ने कहा था कि,

“शहीद किसान श्रद्धांजलि सभा से वापसी में बीजेपी कार्यकर्ता शुभम मिश्रा के घर गए. परिवार ने हम पर गुस्सा नहीं किया. बस दुखी मन से सवाल पूछे: क्या हम किसान नहीं? हमारे बेटे का क्या कसूर था? आपके साथी ने एक्शन रिएक्शन वाली बात क्यों कही? उनके सवाल कान में गूंज रहे हैं!”

 

उस मुलाकात के बाद से ही योगेंद्र यादव के खिलाफ एक्शन की बात हो रही थी. ऐसे में गुरुवार 21 अक्टूबर को संयुक्त किसान मोर्चा ने अपनी इंटरनल मीटिंग बुलाई और उस मीटिंग में ये बड़ा फैसला लिया. योगेंद्र यादव को एक महीने के लिए सस्पेंड कर दिया गया. बताया जा रहा है कि योगेंद्र यादव को माफी मांगने का मौका दिया गया था. लेकिन उन्होंने इनकार कर दिया. उसी के बाद उनके खिलाफ ये कार्रवाई की गई.

फैसले पर योगेन्द्र यादव ने क्या कहा?

योगेन्द्र यादव ने कहा है कि वो हर हालत में किसान आंदोलन को मजबूत करने के लिए प्रतिबद्ध हैं और रहेंगे. संयुक्त किसान मोर्चा का अनुशासित सिपाही होने के नाते वह फैसले का पालन करेंगें.

योगेंद्र ने एक बयान भी जारी किया. इसमें कहा गया है,

‘ये मानवता और भारतीय संस्कृति है कि प्रतिद्वंद्वी का दुख साझा किया जाए. मेरा मानना है कि इससे आंदोलन कमजोर नहीं पड़ा है, बल्कि मानवीय भावनाओं को सार्वजनिक रूप से रखने पर ये मजबूत ही हुआ है. हालांकि निश्चित ही ये जरूरी नहीं कि आंदोलन में शामिल हर व्यक्ति इस मत से सहमत हो. मैं उम्मीद करता हूं कि इस मुद्दे पर उपयोगी बातचीत की जा सकती है.’

बता दें, योगेंद्र यादव एक सामाजिक कार्यकर्ता और चुनाव विश्लेषक हैं. वह साल 2015 तक आम आदमी पार्टी के सदस्य रहे हैं. आम आदमी पार्टी से निकलने के बाद उन्होंने प्रशांत भूषण के साथ मिलकर स्वराज अभियान संगठन की स्थापना की. ये संगठन भारतीय किसानों की गंभीर समस्याओं के मुद्दों पर काम करता है. योगेंद्र यादव किसान आंदोलन में लगातार सक्रिय रहे हैं और उनका पक्ष मीडिया के सामने रखते रहे हैं.


वीडियो – लखीमपुर कांड का ये दूसरा वीडियो देख आपका मन विचलित हो जाएगा!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने पीएम मोदी के लिए क्या कहा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

उपचुनाव के नतीजे एक जगह पर.

जेल से बाहर आए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, मन्नत के लिए रवाना

जेल से बाहर आए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, मन्नत के लिए रवाना

3 अक्टूबर को आर्यन खान को गिरफ्तार किया गया था.

वरुण गांधी ने कहा- UP में किसानों का फसल जलाना सरकार के लिए शर्म की बात, जेल कराऊंगा

वरुण गांधी ने कहा- UP में किसानों का फसल जलाना सरकार के लिए शर्म की बात, जेल कराऊंगा

किसानों के बहाने फिर बीजेपी पर निशाना साध रहे वरुण गांधी?

कन्नड़ सुपरस्टार पुनीत राजकुमार की सिर्फ 46 की उम्र में डेथ!

कन्नड़ सुपरस्टार पुनीत राजकुमार की सिर्फ 46 की उम्र में डेथ!

ट्विटर पर फिल्म इंडस्ट्री ने पुनीत को किया भारी मन से याद.