Submit your post

Follow Us

सुशांत और यशराज फिल्म्स के बीच क्या डील हुई थी, पता चल गया

सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड के केस में जांच चल रही है. पुलिस लगातार लोगों से पूछताछ कर रही है. इसी सिलसिले में पुलिस ने यशराज फिल्म्स से उनके और सुशांत के बीच हुए कॉन्ट्रैक्ट की कॉपी मांगी थी. यशराज ने दे दी थी. जिसके ज़रिए पता चला कि दोनों के बीच क्या डील हुई थी.

‘इंडिया टुडे’ के दिव्येश सिंह की रिपोर्ट के मुताबिक, इस कॉन्ट्रैक्ट के तहत YRF ने सुशांत को तीन फिल्मों के लिए साइन किया था. पहली फिल्म के लिए उन्हें 30 लाख रुपए दिए जाने थे. अगर पहली हिट होती, तो दूसरी फिल्म के लिए सुशांत को 60 लाख मिलते. दोनों हिट होती तो तीसरी के लिए एक करोड़ मिलते.

‘फिल्मी बीट’ की रिपोर्ट के मुताबिक, अगर पहली हिट और दूसरी फ्लॉप होती, तो तीसरी के लिए 30 लाख ही मिलते. अगर पहली फ्लॉप और दूसरी हिट होती, तो तीसरी के लिए 60 लाख रुपए मिलते. कौन-सी फिल्म हिट है और कौन-सी फ्लॉप, इसका फैसला YRF के हाथ में था.

कौन-सी फिल्म्स बनी थीं?

सुशांत ने इस कॉन्ट्रैक्ट के तहत YRF की पहली फिल्म की ‘शुद्ध देसी रोमांस’. जो कि साल 2013 में आई थी. इसके लिए उन्हें 30 लाख रुपए मिले. दूसरी फिल्म की ‘डिटेक्टिव ब्योमकेश बक्शी’, जो 2015 में आई थी. इस फिल्म के लिए सुशांत को मिले एक करोड़ रुपए. हालांकि, YRF के साथ ये सुशांत की दूसरी फिल्म थी, लेकिन उन्हें एक करोड़ रुपए मिले, ऐसा क्यों हुआ, इसकी वजह अभी साफ नहीं हुई.

तीसरी फिल्म थी ‘पानी’. जिसे शेखर कपूर डायरेक्ट करने वाले थे. YRF के कुछ अधिकारियों के मुताबिक, आदित्य चोपड़ा और शेखर कपूर के बीच कुछ क्रिएटिव डिफरेंसेज हो गए थे, जिस वजह से ये फिल्म बन नहीं पाई.

ये था सुशांत और YRF के बीच हुआ कॉन्ट्रैक्ट. सुशांत ने 14 जून को मुंबई के अपने फ्लैट पर सुसाइड किया था. पुलिस ने शुरुआती जांच में पाया कि सुशांत छह महीने से डिप्रेशन से जूझ रहे थे. वहीं कूपर अस्पताल ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बताया कि एक्टर की मौत फांसी की वजह से दम घुटने से हुई है. हालांकि पुलिस मामले की जांच कर रही है. इधर सोशल मीडिया पर लोग सुसाइड के पीछे बॉलीवुड में फैले नेपोटिज़्म को ज़िम्मेदार बता रहे हैं.


वीडियो देखें: रणवीर शौरी ने सुशांत सिंह राजपूत, गॉडफादर और अवॉर्ड शो को लेकर बड़ी बातें कह दी हैं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

'कोरोनिल' पर पतंजलि के आचार्य बालकृष्ण पूरी तरह यू-टर्न मार गए!

पतंजलि का दावा था कि 'कोरोनिल' दवा कोरोना वायरस ठीक करने में कारगर होगी.

चीन के ऐप तो बैन हो गए, पर उन भारतीयों का क्या जो इनमें काम करते हैं

चीनी ऐप के कर्मचारियों में घबराहट है.

चीनी ऐप पर बैन के बाद चीन ने भारत के बारे में क्या बयान दिया है?

भारत को कैसी जिम्मेदारी याद दिलाई चीन ने?

लगभग 16 मिनट के राष्ट्र के नाम संदेश में नरेंद्र मोदी ने क्या काम की बात की?

संदेश का सार यहां पढ़िए.

भारत सरकार के चाइनीज़ ऐप बंद करने के स्टेप पर TikTok ने चिट्ठी में क्या लिखा?

अपने यूज़र्स के बारे में भी कुछ कहा है.

PM CARES के तहत बने देसी वेंटिलेटर इस हाल में मिले कि लौटाने की नौबत आ गई

और ख़राब वेंटिलेटर बनाने वालों ने क्या सफ़ाई दी?

भारत में चीन के 59 मोबाइल ऐप बैन, टिकटॉक, यूसी, वीचैट भी लपेटे में

कहा कि देश की सुरक्षा की ख़ातिर इन्हें बैन किया जा रहा है.

गैंगस्टर आनंदपाल एनकाउंटर के बाद हुई हिंसा के लिए CBI ने चार्जशीट में किस-किस का नाम जोड़ा है?

एनकाउंटर की सीबीआई जांच की मांग को लेकर हिंसा हुई थी.

क्या अरुणाचल में चीन भारतीय सीमा में 50 किलोमीटर तक घुस गया है?

बीजेपी सांसद ने यह दावा किया है.

पतंजलि का कोरोनिल लॉन्च करने वाले डॉक्टर ने दवा की सबसे बड़ी गड़बड़ी बता दी!

मरीज़ों को केवल कोरोनिल नहीं दी गई थी.