Submit your post

Follow Us

कोच पद के लिए रवि शास्त्री vs राहुल द्रविड़ डिबेट पर कपिल देव ने क्या कहा?

साउथैम्पटन में World Test Championship फाइनल में भारत को मिली हार के बाद कप्तान विराट कोहली के साथ कोच रवि शास्त्री भी आलोचकों के निशाने पर है. एक तरफ विराट कोहली को कप्तानी से हटाने की मांग हो रही है तो दूसरी तरफ कोच को बदलने की. इसी बीच अब भारत में पहला वर्ल्ड कप लाने वाले कप्तान कपिल देव कोच रवि शास्त्री के समर्थन में आ गए हैं.

1983 के वर्ल्ड कप हीरो कपिल देव का मानना है कि अगर रवि शास्त्री अच्छा काम जारी रखते है तो उनको हेड कोच के पद से हटाने की कोई ज़रुरत नहीं है. उनका ये बयान ऐसे समय पर आया है जब ये अटकलें लग रही हैं कि T20 World Cup के बाद रवि शास्त्री का कार्यकाल खत्म होगा तो राहुल द्रविड़ उनकी जगह हेड कोच का पद संभाल सकते है.

आपको बता दें कि रवि शास्त्री की गैर मौजूदगी में राहुल द्रविड़ श्रीलंका दौरे पर गई भारतीय टीम को कोच कर रहे हैं. रवि शास्त्री, विराट कोहली के साथ इंग्लैंड में भारतीय टीम को कोच कर रहे है. वहीं राहुल द्रविड़, शिखर धवन के साथ श्रीलंका के दौरे पर.

कपिल देव ने रवि शास्त्री के समर्थन में आगे कहा कि उनके नेतृत्व में भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया को ऑस्ट्रेलिया में दो बार हराया है. 2019 विश्व कप के सेमी-फाइनल और WTC के फाइनल में पहुंचा है.

एबीपी न्यूज के शो में अपनी बात रखते हुए कपिल देव ने कहा,

“मुझे नहीं लगता कि इसके बारे में बोलने की कोई जरूरत है. इस श्रीलंका सीरीज को खत्म होने दें. हमें पता चलेगा कि हमारी टीम ने किस तरह का प्रदर्शन किया है. यदि आप एक नया कोच बनाने की कोशिश कर रहे हैं, इसमें कुछ भी गलत नहीं है.

फिर, अगर रवि शास्त्री अच्छा काम करना जारी रखते हैं, तो उन्हें हटाने का भी कोई कारण नहीं है. केवल समय ही बताएगा. मुझे लगता है कि यह हमारे कोच और खिलाड़ियों पर अनावश्यक दबाव डालेगा.”

कोच के अलावा उन्होंने भारतीय टीम के वर्कलोड पर भी बात की. भारत के पहले वर्ल्डकप विनिंग कैप्टन को लगता है कि भारतीय टीम बहुत ज्यादा क्रिकेट खेल रही है. उन्होंने कहा,

”भारत के पास बड़ी बेंच स्ट्रेंथ है. अगर खिलाड़ियों को मौका मिलता है और भारत दो टीमों को इकट्ठा कर सकता है जो इंग्लैंड और श्रीलंका दोनों में जीत का दावा कर सकती हैं, तो इससे बेहतर कुछ नहीं हो सकता. अगर युवाओं को मौका मिले तो इसमें कोई बुराई नहीं है.

लेकिन यह टीम मैनेजमेंट को तय करना होगा कि क्या उन्हें एक साथ दो टीमों पर इस तरह का दबाव बनाना चाहिए.”

आपको बता दें कि शिखर धवन की अगुवाई में भारत का श्रीलंका दौरा 13 जुलाई से शुरु होना है, जिसमें 3 वनडे और 3 टी20 खेले जाएंगे. वहीं विराट कोहली की अगुवाई में 5 टेस्ट मैच की सीरीज खेली जाएगी, जिसकी शुरुआत 4 अगस्त से होगी.

इस स्टोरी को लिखा है हमारे साथ इंटर्नशिप कर रहीं गरिमा भारद्वाज ने.


टी20 वर्ल्ट कप न जिता पाए तो क्या छिन जाएगी विराट कोहली की कप्तानी?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

नेमावर हत्याकांड: आरोपी सुरेंद्र चौहान की प्रॉपर्टी पर चली जेसीबी, CBI जांच की मांग उठी

कांग्रेस का आरोप है कि भाजपा नेता होने के चलते सुरेंद्र चौहान को इस मामले में संरक्षण मिला.

जम्मू एयरफोर्स स्टेशन पर धमाका, DGP दिलबाग सिंह बोले-ड्रोन से हुआ हमला

दो संदिग्धों को हिरासत में लिया गया है.

आंदोलन के सात महीने पूरे, किसानों ने देशभर में राज्यपालों को सौंपे ज्ञापन,कुछ जगहों पर झड़प

चंडीगढ़ और पंचकुला में बवाल.

कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ही नहीं, शशि थरूर का अकाउंट भी लॉक कर दिया था ट्विटर ने

ट्विटर ने क्या वजह बताई?

एक्ट्रेस पायल रोहतगी को अहमदाबाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया

मामला एक वायरल वीडियो से जुड़ा है.

CBSE और ICSE की परीक्षाएं रद्द करने के खिलाफ याचिकाओं को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज किया

नंबर देने के फॉर्मूले से सुप्रीम कोर्ट भी सहमत.

LJP में कलह की वजह बताए जा रहे सौरभ पांडेय के बारे में रामविलास पासवान ने चिट्ठी में क्या लिखा था?

चिराग को राजनीति में आने की सलाह किसने दी थी?

सरकार फिल्मों के सर्टिफिकेशन में क्या बदलाव करने जा रही, जो फ़िल्ममेकर्स की आज़ादी छीन सकता है?

कुछ वक़्त से लगातार हो रहे हैं फ़ेरबदल.

यूनिवर्सिटी-कॉलेजों में लग रहे 'थैंक्यू मोदी' के बैनर पर बवाल क्यों हो रहा है?

क्या यूनिवर्सिटीज़ और कॉलेजों को सरकारी प्रचार के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है?

ये किन दो नेताओं को चुनाव से ठीक पहले योगी आदित्यनाथ ने बड़ा काम दे दिया है?

कौन हैं रामबाबू हरित और जसवंत सैनी?