Submit your post

Follow Us

यूपी ATS ने जिस मसीरुद्दीन को आतंकी बताया, उसे परिवार ने बेगुनाह बताते हुए क्या दावा कर डाला?

उत्तर प्रदेश के आतंकवाद निरोधक दस्ते (ATS) ने रविवार 11 जुलाई को लखनऊ में दो संदिग्ध आतंकियों को गिरफ्तार किया था. इन दोनों के नाम मिनहाज अहमद और मसीरुद्दीन उर्फ मुशीर बताए गए हैं. मिनहाज को लखनऊ के काकोरी स्थित उसके घर से गिरफ्तार किया गया था. वहीं, मसीरुद्दीन को राजधानी के नौबस्ता इलाके से अरेस्ट किया गया. आजतक की एक रिपोर्ट के मुताबिक, मसीरुद्दीन की पत्नी सईदा ने दावा किया है कि वो डेढ़ साल पहले तक ई-रिक्शा चलाता था. सईदा ने ATS की कार्रवाई को लेकर भी कुछ जानकारी दी है.

क्या कहा सईदा ने?

आजतक से जुड़े समर्थ श्रीवास्तव के मुताबिक, सईदा ने मसीरुद्दीन को निर्दोष बताया है और दावा किया है कि ATS उनके घर से खाना बनाने वाला प्रेशर कुकर ले गई. सईदा ने बताया कि रविवार को ATS कमांडो की टीम ने उनके घर पर रेड मारी थी. उन्होंने कहा,

‘मेरे पति बेगुनाह हैं. पुलिस वाले एक्सप्लोसिव के नाम पर घर का सामान्य प्रेशर कुकर उठा ले गए.’

यहां बता दें कि ATS ने ये दावा किया है कि मसीरुद्दीन और मिनहाज अहमद कुकर बम के जरिये ही आतंकी साजिश को अंजाम देने की कोशिश में थे.

सईदा के मुताबिक, ATS की टीम पूछताछ के लिए घर के लोगों को मड़ियांव थाने ले गई. वहां कोई 45 मिनट की पूछताछ के बाद सईदा और अन्य लोगों को वापस घर जाने को कहा गया, लेकिन मसीरुद्दीन को गिरफ्तार कर लिया गया.

Ats
रविवार 11 जुलाई को हुई कार्रवाई के दौरान यूपी एटीएस की टीम. (तस्वीर- पीटीआई)

क्या बोले परिवार के बाकी सदस्य?

मसीरुद्दीन के परिवार में पत्नी सईदा के अलावा उसकी मां शाहजहां बानो, 3 बेटियां और एक 4 साल का बेटा है. समर्थ श्रीवास्तव से बातचीत में परिवार ने बताया कि सबसे छोटी बेटी को शुगर की समस्या है. उसे हर 3 दिन में इंसुलिन लेना पड़ता है. इन लोगों ने बताया कि पहले वे लखनऊ के ही खदरा इलाके में रहते थे. बाद में नौबस्ता आ गए. यहां का उनका मकान अभी पूरी तरह नहीं बना है.

मसीरुद्दीन की मां शाहजहां बानो ने रिपोर्टर से कहा कि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि उनके साथ ऐसा होगा. शाहजहां बानो ने कहा,

‘कभी नहीं सोचा था कि ये दिन देखने को मिलेगा और मेरे बेटे को आतंकी बता दिया जाएगा. वो कभी इन सब चीजों में शामिल नहीं था. उसे फंसाया गया है.’

वहीं, बेटी जैना ने कहा,

‘मेरे पापा के बारे में मोहल्ले में किसी से भी पूछेंगे तो कोई बुरा नहीं बोलेगा. पापा को उठा के ले गए और कुछ बताया भी नहीं. हमारी किताबें बिखेर दीं और पापा को घसीट के ले गए. अब उनके जाने के बाद घर कैसे चलेगा, बहन को इंसुलिन कैसे लगेगी, कुछ नहीं पता.’

ATS
कार्रवाई के दौरान एक घर से एक्सप्लोसिव बरामद होने का दावा. (तस्वीर- पीटीआई)

क्या हैं ATS के दावे?

उत्तर प्रदेश पुलिस की ATS ने मिनहाज अहमद और मसीरुद्दीन को लेकर दावा किया है कि ये दोनों मिलकर एक बड़ा आतंकी मॉड्यूल ऑपरेट कर रहे थे. उसके मुताबिक, ATS को इनके पास से असलहे और विस्फोटक मिले हैं. आजतक की एक रिपोर्ट के मुताबिक, मसीरुद्दीन कथित रूप से ई-रिक्शे की बैटरी से बम बनाने की कोशिश कर रहा था.

गिरफ्तारी के बाद UP ATS के IG जीके गोस्वामी ने बताया था कि दोनों संदिग्ध आतंकी अल-कायदा समर्थित ‘अंसार गजवातुल हिंद’ से जुड़े हैं. उनके मुताबिक, अल-कायदा ने 2014 में भारतीय उपमहाद्वीप में ये आतंकी संगठन खड़ा किया था. लखनऊ में मिनहाज अहमद और मसीरुद्दीन कथित रूप से इसके लिए काम कर रहे थे.

जीके गोस्वामी ने ये भी दावा किया कि ये लोग 15 अगस्त से पहले किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की तैयारी कर रहे थे और लखनऊ इनका खास निशाना था. पुलिस का कहना है कि इन संदिग्ध आतंकियों का कश्मीर से लिंक है और इनके पास से लाइव बम भी बरामद हुआ है. पुलिस के मुताबिक, पहले ये दोनों स्लीपर सेल थे, लेकिन बाद में एक्टिव होकर आतंकी साजिश को अंजाम देने की कोशिश करने लगे.

इस बीच आई अपडेट्स के मुताबिक, सोमवार को 12 जुलाई को मसीरुद्दीन और मिनहाज अहमद को अदालत के सामने पेश किया गया. बताया गया है कि अदालत ने दोनों को 14 दिन की पुलिस कस्टडी में भेज दिया है.


वीडियो- गुजरात पुलिस ने हिज्बुल आतंकी बता पकड़ा था, अब कश्मीर लौटे NGO ऑफिसर की कहानी जानें

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

भाजपा समर्थकों पर लाठीचार्ज करने वाले थानेदार की विदाई में नाचे पुलिसवाले भी सस्पेंड

थानेदार को किया गया था लाइन हाजिर.

कांवड़ यात्रा को उत्तराखंड की 'ना' लेकिन यूपी की 'हां', आखिर होगा क्या?

कोरोना संकट के चलते पिछले साल कांवड़ यात्रा पर ब्रेक लग गया था.

मोदी कैबिनेट फेरबदल: शपथ लेने वाले 43 मंत्रियों के बारे में जानिए

15 कैबिनेट मंत्रियों ने ली शपथ.

कैबिनेट विस्तार से पहले टीम मोदी के 2 कद्दावर मंत्रियों ने भी इस्तीफा दे दिया है

राष्ट्रपति ने 12 मंत्रियों के इस्तीफे मंजूर कर लिए हैं.

दलितों के घर ढहाने और महिलाओं से छेड़खानी के आरोपों पर क्या बोली आजमगढ़ पुलिस?

भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर ने इसे 'पुलिस की गुंडागर्दी' करार दिया है.

मुस्लिम औरतों की बोली लगाने वाली वेबसाइट की लिंक शेयर कर घिरा राइट विंग 'पत्रकार'

बवाल हुआ तो शिकायत करने वाली औरतों को ही कोसने लगे.

नेमावर हत्याकांड: आरोपी सुरेंद्र चौहान की प्रॉपर्टी पर चली जेसीबी, CBI जांच की मांग उठी

कांग्रेस का आरोप है कि भाजपा नेता होने के चलते सुरेंद्र चौहान को इस मामले में संरक्षण मिला.

जम्मू एयरफोर्स स्टेशन पर धमाका, DGP दिलबाग सिंह बोले-ड्रोन से हुआ हमला

दो संदिग्धों को हिरासत में लिया गया है.

आंदोलन के सात महीने पूरे, किसानों ने देशभर में राज्यपालों को सौंपे ज्ञापन,कुछ जगहों पर झड़प

चंडीगढ़ और पंचकुला में बवाल.

कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ही नहीं, शशि थरूर का अकाउंट भी लॉक कर दिया था ट्विटर ने

ट्विटर ने क्या वजह बताई?