Submit your post

Follow Us

पैगंबर पर विवादित बयान: भीड़ ने बसें, थाना फूंक दिखाई बहादुरी

यूपी कैबिनेट मिनिस्टर आजम खां ने RSS मेंबर्स को होमोसेक्सुअल कहा. इस पर हिंदू महासभा के नेता कमलेश तिवारी ने पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी कर दी. बस इन दो नेताओं की बकलोली की वजह से बंगाल जल उठा. पश्चिम बंगाल के मालदा में रविवार को ढाई लाख मुस्लिम रैली के लिए जुटे. लेकिन रैली में आए कुछ लोग जल्द ही हिंसा करने पर उतर आए.

ढाई लाख मुस्लिमों ने नेशनल हाईवे नंबर 34 पर रैली निकाली. भड़की भीड़ ने दो दर्जन से ज्यादा गाड़ियों में आग लगा दी. पुलिस स्टेशनों पर हमला किया. पुलिस ने फौरन धारा 144 लगा दी. सोमवार को भी कर्फ्यू लगा हुआ है. मुस्लिम समुदाय की डिमांड है कि तिवारी को फांसी पर लटका दिया जाए. तिवारी फिलहाल जेल में बंद हैं. झड़प की शुरुआत हाईवे से गुजर रही बस के मुसाफिरों और रैली के लोगों की बहस से हुई.

द इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, गुस्साए लोगों ने जमकर लूटपाट की. दुकानों में आग लगाई. थाने पर हुए हमले के बाद थाने से पुलिसवाले निकलकर भागे. बाद में पुलिसवालों ने भी कई राउंड फायरिंग की. बताते हैं कि गोलियां लगने से दो लोग घायल हो गए.

सोशल मीडिया से फैली आग
ये बयान दिसंबर में दिया गया था. यूपी में माहौल बिगड़ता देख सीएम अखिलेश यादव ने तिवारी के खिलाफ कार्रवाई का आदेश दिया. तिवारी 2 दिसंबर से बयान की वजह से जेल में बंद हैं. लेकिन सोशल मीडिया में उनका बयान वायरल हो गया. मुस्लिम धर्मगुरुओं की नजर पड़ी. बस फिर क्या था. एकजुट हो गए ढाई लाख मुस्लिम. और भीड़ में से कुछ बकलोलों ने वही किया, जो अक्सर होता आया है. शांति, सुकूं खत्म करने की नापाक कोशिश.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

दिल्ली में फ्री बिजली-पानी को लेकर BJP ने 'संकल्प पत्र' में क्या कहा?

दिल्ली में 2070 तक साफ पानी की सुविधा मिलेगी!

चौथे T20I में विराट कोहली कुछ ऐसा कर गए, जो न्यूज़ीलैंड ने सोचा नहीं था

कोहली ने फील्डिंग में किया कमाल.

TikTok से टक्कर लेगा Google का ये नया ऐप, नाम है Tangi

आप भी इस तरह के वीडियो बनाकर अपलोड कर सकते हैं.

पूर्व महिला क्रिकेटर ने विराट कोहली को क्यों सुनाई खरी-खरी?

अभी टीम के साथ न्यूज़ीलैंड टूर पर हैं कोहली.

भारत में कोरोना वायरस का पहला कन्फर्म केस, चीन से 400 भारतीयों को लाने की तैयारी

दुनियाभर में 7000 से ज्यादा मामले.

पूर्व DSP दविंदर सिंह को हिज्बुल से लगातार 'तय सैलरी' मिल रही थी!

कहा जा रहा है कि दविंदर NIA जांच में सहयोग नहीं कर रहा है.

इंडिगो पायलट ने जो सवाल उठाया है, उससे कुणाल कामरा तो बहुत खुश होंगे!

अब एयरलाइन ने कमिटी बनाकर जांच करने की बात कही.

न्यूज़ीलैंड के तीन मुख्य गेंदबाज इंडिया के ख़िलाफ़ वनडे सीरीज़ से बाहर हो गए हैं

2019 वर्ल्ड कप के बाद न्यूज़ीलैंड की पहले वनडे सीरीज़ है.

जामिया में फायरिंग पर गृह मंत्री अमित शाह ने क्या कहा?

इस घटना के बाद आम आदमी पार्टी ने अमित शाह का इस्तीफा मांगा है.

जामिया फायरिंग में घायल युवक कौन है?

एक नाबालिग ने 'ये लो आज़ादी’ चिल्लाकर प्रोटेस्टर्स पर गोली चला दी थी.