Submit your post

Follow Us

गंभीर और अफरीदी की बातें सुनकर लगता नहीं है कि दोनों 2007 की भिड़ंत कभी भूलेंगे

गौतम गंभीर और शाहिद अफरीदी में फाइट जारी है. क्रिकेट से नेता बन चुके गौतम गंभीर ने खुद के लिए वोट मांगते हुए दिल्ली में एक रैली में अफरीदी को मंदबुद्धि बता दिया. कहा कि अफरीदी की मेंटल ऐज अभी 16 साल है और उन्हें मनोचिकित्सक से दिखाने की जरूरत है. गंभीर ने इंडिया टु़डे से बात करते हुए कहा,” मुझे पता है शाहिद अफरीदी अपनी किताब अच्छे से बेच लेंगे. कुछ लोग उम्र से तो बड़े हो जाते हैं मगर दिमाग से नहीं. वो 36 या 37 साल के होंगे मगर मुझे पता है कि उनकी दिमागी उम्र 16 साल से ज्यादा नहीं है.”

शाहिद अफरीदी ने 4 मई को अपनी आत्मकथा ‘गेम चेंजर’ लॉन्च की है जिसमें गंभीर के बारे में लिखा है कि गंभीर ऐसा खिलाड़ी है जो कभी डॉन ब्रैडमैन बनता है तो कभी जेम्स बॉन्ड. उसे बहुत एटिट्यूड है मगर उसका कोई खास क्रिकेट रिकॉर्ड नही है. गंभीर ने कहा, “मेरे क्रिकेट रिकॉर्ड्स सबसे सामने हैं.आईसीसी टेस्ट प्लेयर ऑफ द ईयर बनने से लेकर टेस्ट सीरीज जीतने और वर्ल्ड कप विजेता बनने तक सारे रिकॉर्ड्स देख लीजिए. लोग तय कर लेंगे कि मैंने देश के लिए क्या क्या किया है. कुल लोग सच में दिमागी तौर पर बीमार हैं और उन्हें मनोचिकित्सक के पास जाने की जरूरत है.” साथ ही गंभीर ने ट्वीट करके अपनी प्रतिक्रिया दी और अफरीदी को टैग करके लिखा, ” अफरीदी तुम सच में मजाक हो. खैर, हम तो अभी भी पाकिस्तानियों को मेडिकल टूरिज्म के लिए वीजा दे रहे हैं. मैं तुम्हें निजी तौर पर किसी मनोचिकित्सक के पास ले चलूंगा.”

अब उधर से अफरीदी ने भी जवाब देने में देर नहीं की. कहा,” गंभीर को दिमागी दिक्कत है. अगर उसको जरूरत है तो मैं उसे अस्पताल में दिखा सकता हूं. अगर उसको पाकिस्तान का वीजा लेने में कोई दिक्कत हो तो मैं वो भी जल्दी दिलवा दूंगा.”

अब जान लीजिए दोनों के बीच में उस टकराव के बारे में जो दुनिया ने 2007 के एशिया कम में देखा था. कानपुर में वनडे मैच खेला जा रहा था. गंभीर बैटिंग कर रहे थे और अफरीदी बॉलिंग. इतने में किसी बात को लेकर दोनों भिड़ गए. गाली गलौज पर उतर आए. गंभीर और अफरीदी के बीच वो लड़ाई फिजिकल हो जाती अगर अंपायर मौके पर उन्हें अलग न करते. उस मैच में अफरीदी को मैच फीस का 95 फीसदी और गंभीर को 65 फीसदी जुर्माना हुआ था.

अब उस घटना को याद करते हुए अफरीदी ने अपनी किताब में लिखा है कि “गंभीर डॉन ब्रैडमैन और जेम्स बॉन्ड की मिश्रित नस्ल के हैं. कराची में हम ऐसे लोगों को सरयाल कहते हैं. यानी जो जलकर खत्म हो चुका हो. मैं खुशनुमा और पॉजीटिव लोगों को पसंद करता हूं. इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है कि आप अग्रेसिव हैं या नहीं, मगर आपको पॉजीटिव होना पड़ेगा और गंभीर बिल्कुल भी पॉजीटिव नहीं हैं.”


लल्लनटॉप वीडियो भी देखें-

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अब केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने लगवाया नारा, "देश के गद्दारों को, गोली मारो *लों को"

क्या केन्द्रीय मंत्री ऐसे बयान दे सकता है?

माओवादियों ने डराया तो गांववालों ने पत्थर और तीर चलाकर माओवादी को ही मार डाला

और बदले में जलाए गए गांववालों के घर

बंगले की दीवार लांघकर पी. चिदम्बरम को गिरफ्तार किया, अब राष्ट्रपति मेडल मिला

CBI के 28 अधिकारियों को राष्ट्रपति पुलिस मेडल दिया गया.

झारखंड के लोहरदगा में मार्च निकल रहा था, जबरदस्त बवाल हुआ, इसका CAA कनेक्शन भी है

एक महीने में दूसरी बार झारखंड में ऐसा बवाल हुआ है.

BJP नेता कैलाश विजयवर्गीय लोगों को पोहा खाते देख उनकी नागरिकता जान लेते हैं!

विजयवर्गीय ने कहा- देश में अवैध रूप से रह रहे लोग सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा हैं.

CAA-NRC, अयोध्या और जम्मू-कश्मीर पर नेशन का मूड क्या है?

आज लोकसभा चुनाव हुए तो क्या होगा मोदी सरकार का हाल?

JNU हिंसा केस में दिल्ली पुलिस की बड़ी गड़बड़ी सामने आई है

RTI से सामने आई ये बात.

CAA पर सुप्रीम कोर्ट में लगी 140 से ज्यादा याचिकाओं पर बड़ा फैसला आ गया

असम में NRC पर अब अलग से बात होगी.

दिल्ली चुनाव में BJP से गठबंधन पर JDU प्रवक्ता ने CM नीतीश को पुरानी बातें याद दिला दीं

चिट्ठी लिखी, जो अब वायरल हो रही है.

CAA और कश्मीर पर बोलने वाले मलयेशियाई PM अब खुद को छोटा क्यों बता रहे हैं?

हाल में भारत और मलयेशिया के बीच रिश्तों में खटास बढ़ती गई है.