Submit your post

Follow Us

उत्तराखंड के मंत्री का दावा- ऐप के जरिए बारिश को आगे-पीछे, कम-ज्यादा कर सकते हैं

उत्तराखंड. अक्सर आने वाली आपदाओं के कारण चर्चा में रहता है. कभी भूस्खलन की घटनाएं होती हैं तो कभी बादल फटने के मामले सामने आते हैं. लेकिन लगता है कि उत्तराखंड के आपदा प्रबंधन पुनर्वास मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने इन सबका हल निकाल लिया है. उन्होंने एक ऐप की तलाश कर ली है. हैरान मत होइए. आप सही सुन रहे हैं. धन सिंह रावत ने दावा किया है कि एक ऐसा ऐप भी है जिसके जरिए बारिश को कम-ज्यादा या आगे-पीछे किया जा सकता है.

धन सिंह रावत के पास उत्तराखंड सरकार के कई महत्वपूर्ण विभाग हैं. इनमें चिकित्सा स्वास्थ्य, चिकित्सा शिक्षा, सहकारिता, उच्च शिक्षा, आपदा प्रबंधन पुनर्वास, और प्रोटोकॉल जैसे विभाग शामिल हैं. सोमवार 30 अगस्त को न्यूज24 ने एक वीडियो ट्विटर पर शेयर किया. इसमें उत्तराखंड सरकार में मंत्री धन सिंह रावत कह रहे हैं,

“आईआईटी रुड़की को भी हमने जोड़ा है. जो हमारे अनुसंधान केंद्र हैं, उनको भी जोड़ा है. तीन-चार लोगों को जोड़ा है उसमें. और हमने कहा है कि वो ये तय करेंगे कि किस क्षेत्र में कितनी आपदा आने वाली है. ताकि हम वहां लोगों को पहले से अलर्ट कर देंगे. हम अपनी मशीनरी को अलर्ट कर देंगे. चाहे पीडब्ल्यूडी का है, चाहे सिंचाई विभाग का है, चाहे जो भी है. चाहे स्थानीय प्रशासन है.”

इसके बाद उन्होंने ऐप के जरिए बारिश का जिक्र किया और कहा,

“अब तो एक ऐसा ऐप भी आ रहा है जो ये कह रहा है कि अगर कहीं बारिश होती है तो बारिश को थोड़ा कम ज्यादा या आगे पीछे भी कर सकते हैं. भारत सरकार को मैं वो प्रेजेंटेशन दिखाने वाला हूं. और भारत सरकार यदि उसमें अनुमति दे देती है तो कई राज्यों के लिए ये बहुत अच्छा हो सकता है.”

अगर आपको अब भी भरोसा नहीं हो रहा है तो लीजिए वीडियो भी देखिए-

बयान सामने आने के बाद लोग कहां चुप बैठने वाले थे. वे अब धन सिंह रावत के कमेंट पर मजे ले रहे हैं. कुछ उदाहरण देखिए, विकास नाम के यूजर ने कहा,

“बहुत दिन से सन्नाटा था, चलो कोई तो आया जिंदादिल.”

केशव शरण नाम के एक ट्विटर यूजर ने लिखा.

“मुझे लगता है ये नेताजी विज्ञान को फेल करके ही मानेंगे. वजह ये है कि इन लोगों को कोई पूछता तो है नहीं. इसलिए सुर्खियों में आने के लिए सस्ती लोकप्रियता का सहारा लेते हैं.

एक और ट्विटर यूजर आशा श्री नाम लिखती हैं,

“कमाल हो गया मंत्री जी, बारीश को आगे पीछे कर सकते हो. तो ठीक है, बिहार, एमपी में बाढ़ और बारिश लोगों को बहुत परेशान करती हैं, वहां भी कृपा कर दीजिए. उत्तराखंड में बादल फटने से तबाही बहुत होती है, उससे भी राहत दे दीजिए.”

वैसे बता दें कि बारिश पर कंट्रोल का तो नहीं, लेकिन वैज्ञानिकों ने कृत्रिम बारिश कराने का दावा जरूर किया है. बारिश को नियंत्रित करने की बात शायद पहले कहीं नहीं सुनी गई है.

हालांकि हो सकता है कि धन सिंह रावत जो कहना चाह रहे हैं, उसे ठीक तरीके से बता नहीं पाए. शायद इसी कारण उनकी बात सुनने में अजीब लग रही है. धन सिंह रावत बता रहे हैं कि भारी बारिश जैसी आपदा से निपटने के लिए आईआईटी रुड़की और सरकारी अनुसंधान केंद्रों के सहयोग से टूल बनाया जा रहा है. इस टूल के जरिए मौसम और बारिश के बारे में पता किया जा सकेगा.

अच्छा ही है अगर किसी टूल से पता चल सके कि किस क्षेत्र में कितनी बारिश आने वाली है. इससे राहत और आपदा प्रबंधन से जुड़ी तैयारियां की जा सकेंगी. लेकिन पहली बार में धन सिंह रावत की बात पर भरोसा करना मुश्किल है.


वीडियो- उत्तराखंड में चुनाव से पहले अरविंद केजरीवाल ने वहां की जनता से क्या वादा कर दिया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

कुरान को लेकर अफवाह उड़ी और बांग्लादेश के कई हिस्सों में सांप्रदायिक तनाव फैल गया.

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

जज ने दोनों पक्षों की दलीलें तो सुनी लेकिन अपना फैसला रिज़र्व रख दिया.

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

किसी ने लोन लेकर परिवार को नया घर दिया था तो कोई दिवंगत पिता के शोक में जाने वाला था.

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

पुलिस ने संदिग्ध आतंकी के पास से एके-47, हैंड ग्रेनेड और कई कारतूस मिलने का दावा किया है.

Urban Company की महिला 'पार्टनर्स' ने इसके खिलाफ मोर्चा क्यों खोल दिया है?

Urban Company की महिला 'पार्टनर्स' ने इसके खिलाफ मोर्चा क्यों खोल दिया है?

ये महिलाएं अर्बन कंपनी के लिए ब्यूटिशियन या स्पा वर्कर का काम करती हैं.

लखीमपुर केस में आशीष मिश्रा 12 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार

लखीमपुर केस में आशीष मिश्रा 12 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार

जांच में सहयोग नहीं करने का आरोप.

नवाब मलिक ने कहा-NCB ने 11 को हिरासत में लिया था फिर 3 को छोड़ क्यों दिया?

नवाब मलिक ने कहा-NCB ने 11 को हिरासत में लिया था फिर 3 को छोड़ क्यों दिया?

NCB की रेड को फर्जी बताया, ज़ोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े की कॉल डिटेल की जांच की मांग की

आशीष मिश्रा लखीमपुर में हैं या नहीं? पिता अजय मिश्रा और रिश्तेदारों के जवाबों ने सिर घुमा दिया

आशीष मिश्रा लखीमपुर में हैं या नहीं? पिता अजय मिश्रा और रिश्तेदारों के जवाबों ने सिर घुमा दिया

अजय मिश्रा कुछ और कह रहे, परिवारवाले कुछ और कह रहे.

RBI ने ऑनलाइन पैसा ट्रांसफर करने वालों को बड़ी खुशखबरी दी है

RBI ने ऑनलाइन पैसा ट्रांसफर करने वालों को बड़ी खुशखबरी दी है

RBI की मॉनिटरी पॉलिसी कमिटी (MPC) की बैठक आज खत्म हो गई.

लखीमपुर: SC ने यूपी सरकार से रिपोर्ट मांगते हुए ऐसी बात पूछी है कि जवाब देना मुश्किल हो सकता है

लखीमपुर: SC ने यूपी सरकार से रिपोर्ट मांगते हुए ऐसी बात पूछी है कि जवाब देना मुश्किल हो सकता है

विस्तृत रिपोर्ट दाखिल करने के लिए यूपी सरकार को एक दिन का वक्त दिया है.