Submit your post

Follow Us

कोरोना काल में गणेश विसर्जन और मोहर्रम को लेकर योगी सरकार सख़्त मूड में है

कोरोना काल में धार्मिक जमावड़ों पर पाबंदी जारी है. उत्तर प्रदेश सरकार ने साफ कह दिया है कि 30 सितंबर तक किसी तरह के धार्मिक और राजनीतिक कार्यक्रम नहीं हो सकेंगे. ये रोक गणेश विसर्जन और मोहर्रम पर भी लागू रहेगी. कोविड-19 की गाइडलाइंस का पालन करते हुए कोई जुलूस, झांकी या शोभायात्रा नहीं निकाली जा सकती. 10 दिन चलने वाला गणेश उत्सव 22 अगस्त से ही गणेश चतुर्थी के साथ शुरू हो चुका है. वहीं मोहर्रम का महीना 29 अगस्त से शुरू हो रहा है. उत्तर प्रदेश के डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने बताया कि शांति समिति, धर्मगुरुओं, ताजियादारों के साथ बैठकर उन्हें आयोजन के संबंध में केंद्र और प्रदेश सरकार के दिशा-निर्देशों के बारे में बताया गया है. अपील की गई है कि इसका पालन कराने में मदद करें. कहीं भी भीड़ न जुटाएं.

तो आप भी अपनी धार्मिक परंपरा निभाएं, लेकिन भीड़ लगाने से और भीड़ में जाने से बचें.

ख़ैर, गणेश उत्सव और मोहर्रम की बात हो रही है तो इन दोनों के बारे में भी कुछ बात कर लेते हैं.

गणेश उत्सव

पौराणिक मान्‍यताओं के मुताबिक, शिव-पार्वती के पुत्र गणेश का जन्म भाद्रपद मास में शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को हुआ था. इसलिए इस दिन गणेश चतुर्थी मनाते हैं. गणेश चतुर्थी के दिन लोग गणपति स्थापना करते हैं. इसके बाद अगले 10 दिन तक गणेश उत्सव चलता है. महाराष्ट्र में इसकी बहुत धूम रहती है. हर साल तस्वीरें आती रही हैं, देखी होंगी आपने.

Ganesh 11
गणेश उत्सव की धूम. (फाइल फोटो- PTI)

चतुर्थी के 10 दिन बाद गणपति विसर्जन होता है. हालांकि कई लोग 5, 7, 9 दिन बाद भी विसर्जन करते हैं. अपनी श्रद्धा, सुविधा और संकल्प के अनुसार. आमतौर पर विसर्जन के समय काफी भीड़ होती है. इस बार कोरोना को देखते हुए लोग सतर्क हैं. बड़े समारोहों पर पाबंदी है. हम सबको भी भीड़ से बचना होगा. त्योहार मनाएंगे, लेकिन घर पर.

मोहर्रम

मोहर्रम इस्लामिक कैलंडर का पहला महीना है. यह बकरीद के आखिरी महीने के बाद आता है. मोहर्रम सिंबल है कर्बला की जंग का. इस जंग में इमाम हुसैन की कुर्बानी दी गई थी. वही हुसैन, जो सुन्नी मुस्लिमों के चौथे खलीफा और शिया मुस्लिम के पहले इमाम कहे जाने वाले हजरत अली के बेटे थे.

Shia 11
शिया अपने शरीर को खंजर से घायल कर लेते हैं.

मोहर्रम मातम का महीना होता है. हुसैन पर हुए ज़ुल्मों को याद कर शिया मुस्लिम मोहर्रम महीने के 10वें दिन मातम करते हैं. मातमी जुलूस भी निकलता है. इस बार मोहर्रम का महीना 29 अगस्त (चांद दिखने पर निर्भर) से शुरू हो रहा है. लेकिन कोरोना की वजह से मातमी जुलूस निकालने की मनाही रहेगी.


मोहर्रम में शिया मुसलमान खुद को ज़ख़्मी क्यों करते हैं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

पाकिस्तान के किस बयान में इंडिया ने एक के बाद एक पांच झूठ पकड़ लिए हैं?

पाकिस्तान ने आतंकवाद फैलाने में भारत का नाम ले लिया, बस हो गया काम.

सोनिया-राहुल को पत्र लिखने पर कांग्रेस मंत्री ने नेताओं से कहा, ‘खुल्लमखुल्ला टहलने नहीं दूंगा’

माफ़ी नहीं मांगने पर परिणाम भुगतने की बात कर डाली.

प्रशांत भूषण के खिलाफ़ अवमानना का मुक़दमा सुन रहे सुप्रीम कोर्ट के इन तीन जजों की कहानी क्या है?

पूरी रामकहानी यहां पढ़िए.

महाराष्ट्र: रायगढ़ में पांचमंज़िला इमारत ढही, 50 से ज़्यादा लोग दबे

एनडीआरएफ की तीन टीमें राहत के काम में जुटी हैं.

क्या 73 दिन में कोरोना वैक्सीन आ रही है? बनाने वाली कंपनी ने बताई सच्ची-सच्ची बात

कन्फ्यूजन है कि खुश होना है या अभी रुकना है?

प्रशांत भूषण ने कही ये बात, तो कोर्ट बोला- हजार अच्छे काम से गुनाह करने का लाइसेंस नहीं मिल जाता

बचाव में उतरे केंद्र की अपील, सजा न देने पर विचार करें, सुप्रीम कोर्ट ने दिया दो-तीन दिन का वक्त

सुशांत पर सुप्रीम कोर्ट ने CBI जांच का आदेश दिया, महाराष्ट्र के वकील को आपत्ति

कोर्ट ने कहा, सारे काग़ज़ CBI को दे दीजिए.

बिहार : महीनों से बिना सैलरी के पढ़ा रहे हैं गेस्ट टीचर, मांगकर खाने की आ गई नौबत!

इस पर अधिकारियों ने क्या जवाब दिया?

सलमान खान की रेकी करने वाला शार्प शूटर पकड़ा गया

जनवरी में रची गई थी सलमान खान की हत्या की साजिश!

रोहित शर्मा और इन तीन खिलाड़ियों को मिलेगा इस साल का खेल रत्न!

इसमें यंग टेबल टेनिस सेंसेशन का भी नाम शामिल है.