Submit your post

Follow Us

यूपी: BJP कार्यकर्ता को 5 बार लगी कोरोना वैक्सीन, छठवीं डोज का टाइम भी दे दिया!

देश में कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine) लगाने का अभियान जोर शोर से चल रहा है. हाल ही में पीएम मोदी के जन्मदिन पर एक ही दिन में ढाई करोड़ से ज्यादा वैक्सीन लगाने का रिकॉर्ड भी बना था. इसी बीच यूपी के मेरठ (Meerut) जिले से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. यहां एक शख्स को पांच बार वैक्सीन लगा दी गई. यही नहीं छठवीं बार वैक्सीन लगवाने के लिए तारीख भी दे दी गई है. कम से कम डॉक्युमेंट्स तो यही कहते हैं. आपको ये जानकर भी हैरानी होगी कि इस शख्स के पास तीन ऑनलाइन टीकाकरण प्रमाणपत्र मौजूद हैं. आजतक के उस्मान चौधरी की रिपोर्ट के मुताबिक, रामपाल सिंह सरधना में बीजेपी के बूथ अध्यक्ष रहे हैं.

बुजुर्ग को मिले तीन सर्टिफिकेट

यूपी का जिला मेरठ, इसकी तहसील है सरधना. यहां के रहने वाले 73 साल के बुजुर्ग चौधरी रामपाल सिंह को कागजों में पांच बार वैक्सीन लग गई है. वैसे तो उन्होंने पहली वैक्सीन डोज 16 मार्च को और दूसरी 8 मई 2021 को ली थी. रामपाल ने बताया कि स्वास्थ्य केंद्र पर जाकर वैक्सीन लगवाने के बाद उन्हें वैक्सीनेशन का सर्टिफिकेट भी दिया गया. लेकिन बाद में जब उन्होंने ऑनलाइन अपना सर्टिफिकेट निकलवाना चाहा तो उन्हें 2 बार और वैक्सीनेशन के सर्टिफिकेट मिले. तीसरे सर्टिफिकेट में तो एक ही डोज लगी बताई गई है और अगली डोज के लिए दिसंबर 2021 की तारीख दी गई है.

हालांकि हकीकत में रामपाल को सिर्फ 2 डोज़ ही लगी हैं, वो भी मार्च से मई के बीच. दूसरे कंपलीट वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट में वैक्सीनेशन की तारीख 15 मई और 15 सितंबर लिखी है. रामपाल सिंह के सर्टिफिकेट में और भी अजीबोगरीब बातें दिखीं.

# हर बार वैक्सीन लगाने वाली नर्स का नाम एक ही है.

# पहले सर्टिफिकेट में उम्र 73 साल लिखी है तो दूसरे में 60 साल.

# पहले सर्टिफिकेट में पहचान के तौर पर आधार कार्ड दर्ज है औऱ दूसरे में पैन कार्ड

Vaccination Certificate
वैक्सीनेशन के दोनों सर्टिफिकेट में रामपाल सिंह का नाम है लेकिन उम्र और पहचान पत्र के डॉक्युमेंट्स अलग-अलग हैं. (फोटो-आजतक)

रामपाल ने स्वास्थ्य विभाग में अनियमितताओं को लेकर भी आरोप लगाए. उन्होंने आजतक को बताया कि जब उन्होंने ऑनलाइन अपना प्रमाण पत्र निकलवाना चाहा तो नहीं निकला. इसके बाद वो सरधना के स्वास्थ्य विभाग ऑफिस पर पहुंचे और अपनी परेशानी बताई. उन्होंने आरोप लगाया कि स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टर और कर्मचारी उन्हें परेशान करते रहे और उन्हें बार-बार चक्कर कटवाते रहे. उनका आधार कार्ड और पैन कार्ड भी कर्मचारियों ने ले लिया.

 

मेडिकल ऑफिसर बोले, हैकिंग हुई!

इस मामले पर जब मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ.अखिलेश मोहन से बात की गई तो उन्होंने आजतक से कहा कि यह पहला केस है, जब किसी को दो से ज्यादा डोज लगी हुई सर्टिफिकेट में दिख रही हैं. शुरुआती तौर पर ये मामला किसी साजिश या शरारत का नजर आ रहा है. ऐसा लगता है कि कुछ शरारती तत्वों ने पोर्टल को हैक करके ऐसा किया है. डॉ. अखिलेश के मुताबिक, घटना की जांच डिस्ट्रिक्ट इम्यूनाइजेशन ऑफिसर डॉ. प्रवीण गौतम को सौंपी गई है.

आधे घंटे में ही लगा दीं दोनों डोज़

वैक्सीनेशन में लापरवाही की एक खबर केरल से भी आई है. समाचार एजेंसी IANS के मुताबिक, केरल की 84 वर्षीय महिला को 30 मिनट के अंतराल में कोविड वैक्सीन की दोनों खुराक दे दी गईं. घटना एर्नाकुलम जिले के अलुवा स्थित सरकारी अस्पताल की है. टीकाकरण के लिए अपने बेटे के साथ गई थंदम्मा ने कहा,

“पहली खुराक लगने के बाद मैं कमरे से लौट आई. जब मैं बाहर थी तो मैंने अपने बेटे से कहा कि मैं अपने जूते भूल गई हूं. जब मैं जूते लेने के लिए लौटी तो एक महिला अधिकारी आई और मुझसे कहा कि जूते छोड़ो और अंदर आओ. उसने मेरी बात सुनने की भी परवाह नहीं की. वह मुझे अंदर ले गई और एक कुर्सी पर बिठा दिया. बैठते ही एक और महिला आई और मुझे दूसरा शॉट लगा दिया.”

थंदम्मा ने कहा कि जब मैंने बार-बार वैक्सीन की दो डोज लगाए जाने की बात कही तो उन्होंने मुझे एक घंटे के लिए एक कमरे में बैठने को कहा. जब डॉक्टरों को पता चला कि सब कुछ ठीक है, तब मुझे घर लौटने की अनुमति दी गई. उन्होंने बताया कि इसके बाद स्वास्थ्य अधिकारियों ने कई बार फोन किया  और पूछा कि उनकी तबीयत कैसी है. थंदम्मा के मुताबिक उनकी तबीयत ठीक है.


वीडियो – ऐसे हुआ वैक्सीनेशन तो कैसे पूरा होगा दिसंबर तक सबको वैक्सीनेट करने का टारगेट?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

मृतक व्यक्ति पर नाबालिग से बलात्कार का आरोप था.

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5G के रोल आउट को लेकर दिक्कतें चालू.

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

बीमा कंपनी गाड़ी चोरी या दुर्घटनाग्रस्त होने का बहाना बनाए तो ये आदेश दिखा देना.

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

दबी जुबान में क्या कह रही है पुलिस?

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

जानेंगे बैंक FD में क्यों घट रही है लोगों की दिलचस्पी.

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

तौकीर रजा कांग्रेस पर आरोप लगा चुके हैं कि उसने मुसलमानों पर आतंकी का टैग लगाया.

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

जानिए UPA के समय हुई इस डील ने कैसे देश को शर्मसार किया.

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

बीबीसी का आरोप, टीम के साथ नरसिंहानंद के समर्थकों ने गाली-गलौज और धक्का-मुक्की की.

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

मुख्य आरोपी के साथ उसके दोस्तों को पुलिस ने पकड़ लिया है.

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

पार्टी के इस कदम से आहत हरक सिंह रावत मीडिया के सामने भावुक हो गए.