Submit your post

Follow Us

तमिलनाडु में विस्फोटक चबाने से छह साल के बच्चे की मौत हो गई

तमिलनाडु का तिरुचिरापल्ली. इसके समीप है अलगरई गांव. यहां छह साल के एक बच्चे की मौत हो गई. उसने मछली पकड़ने के लिए लाया गया विस्फोटक चबा लिया था. बच्चे का नाम विष्णु देव था.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, विष्णु के पिता भूपति एक दिहाड़ी मज़दूर हैं. वह अपने भाई गंगाधरन के साथ कावेरी नदी में मछली पकड़ने जाते हैं. इसके लिए विस्फोटक की मदद भी लेते हैं. 9 जून को गंगाधरन अपने दो दोस्तों के साथ विस्फोटक खरीदने गया. तीनों ने पत्थर की खदान में काम करने वाले सेल्वाकुमार से तीन जिलेटिन स्टिक खरीदीं.

इसके बाद ये तीनों मछली पकड़ने गए. एक स्टिक बची रह गयी. तो उसे लेकर ये तीनों भूपति के घर आए. यहां चारपाई पर ही स्टिक छोड़ दिया, जिसे खाने की चीज़ समझकर विष्णु ने चबा लिया. चबाते ही उसके मुंह में विस्फोट हो गया. अस्पताल के रास्ते में उसकी मौत हो गई.

पुलिस को इंफॉर्म नहीं किया गया

भूपति और उसके दोस्तों ने पकड़े जाने के डर से पुलिस को इंफॉर्म नहीं किया. उन्होंने उसी रात खुद से बच्चे का अंतिम संस्कार कर दिया. हालांकि, आसपड़ोस के लोगों ने घटना की सूचना थोट्टीयम पुलिस को दे दी. छानबीन के बाद 10 जून को पुलिस ने भूपति, गंगाधरन, मोहनराज और सेल्वाकुमार को गिरफ्तार कर लिया. एक अन्य आरोपी तमिलारासन की तलाश अभी जारी है.

इंडियन पीनल कोड (IPC) के सेक्शन 304 (ii) और विस्फोटक पदार्थ एक्ट के सेक्शन 5 के तहत केस दर्ज कर लिया है.

लोकल विस्फोटक का इस्तेमाल होता रहता है

लोग पानी में ब्लास्ट करते हैं, जिससे मछलियां मर जाती हैं या सुन्न हो जाती हैं. ये मछलियां पानी की सतह पर तैरने लगती हैं, और ये लोग इन्हें पकड़ लेते हैं. इसे ‘ब्लास्ट फिशिंग’ या ‘डायनामाइट फिशिंग’ भी कहा जाता है. आपको बता दें कि मछली पकड़ने के लिए जिलेटिन स्टिक या किसी भी विस्फोटक का इस्तेमाल करना ग़ैरकानूनी है. इस तरह के मामले भी सामने आते रहे हैं, जब इस तरह मछली पकड़ने वाले खुद ही जिलेटिन स्टिक के फटने की वजह से ज़ख़्मी हो गए. इन दिनों पटाखों और विस्फोटक से होने वाली कई वारदात सामने आ रही हैं. केरल के पलक्कड़ इलाके में पटाखों से भरा अनानास खाने से एक गर्भवती हथिनी की मृत्यु हो गई. फिर हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर जिले में आटे में छुपाए हुए पटाखे चबाने की वजह से गाय का जबड़ा टूट जाने की खबर आई. तमिलनाडु के त्रिची में मांस के अंदर पटाखे छुपाकर एक गीदड़ को मारा गया. इस मामले में पुलिस ने 12 लोगों को गिरफ्तार किया है.


वीडियो देखें: केरल में पटाखे से गर्भवती हथिनी की मौत के बारे में पुलिस ने अब क्या बताया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

WHO ने कोरोना पर राहत देने वाली बात की तो दुनियाभर के वैज्ञानिकों ने कहा, “अरी मोरी मईया!”

पलटकर WHO से ही सबूत मांग रहे हैं लोग.

ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनकी मां को हुआ कोरोना इंफेक्शन, दिल्ली के अस्पताल में भर्ती

बीते कुछ दिनों से दोनों की तबीयत खराब थी.

बिहार: अमित शाह ने वर्चुअल रैली में तेजस्वी को घेरा, कहा-लालटेन राज से एलईडी युग में आ गए

तेजस्वी यादव ने रैली पर 144 करोड़ खर्च करने का आरोप लगाया.

गर्भवती ने 13 घंटे तक आठ अस्पतालों के चक्कर लगाए, किसी ने भर्ती नहीं किया, मौत हो गई

महिला की मौत के बाद अब जिला प्रशासन जांच की बात कर रहा है.

दिल्ली के सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में अब सिर्फ दिल्ली वालों का इलाज होगा

दिल्ली के बॉर्डर खोले जाने पर भी हुआ फैसला.

लद्दाख में तनाव: भारत-चीन सेना के कमांडरों की मीटिंग में क्या हुआ, विदेश मंत्रालय ने बताया

6 जून को दोनों देशों के सेना के कमांडरों की मीटिंग करीब 3 घंटे तक चली थी.

पहले से फंसी 69000 शिक्षक भर्ती में अब पता चला, रुमाल से हो रही थी नकल!

शुरू से विवादों में रही 69 हजार शिक्षक भर्ती में जुड़ा एक और विवाद

'निसर्ग' चक्रवात क्या है और ये कितना ख़तरनाक है?

'निसर्ग' नाम का मतलब भी बता रहे हैं.

कोरोना काल में क्रिकेट खेलने वाले मनोज तिवारी ‘आउट’

दिल्ली में हार के बाद बीजेपी का पहला बड़ा फैसला.

1 जून से लॉकडाउन को लेकर क्या नियम हैं? जानिए इससे जुड़े सवालों के जवाब

सरकार ने कहा कि यह 'अनलॉक' करने का पहला कदम है.