Submit your post

Follow Us

इस वजह से सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी UPSC एग्जाम टालने की याचिका

UPSC यानी सिविल सर्विसेज की प्रिलिम्स या प्रारंभिक परीक्षा को आगे बढ़ाने को लेकर दाखिल याचिका सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी है. मतलब अब एग्जाम अपनी तय तारीख 4 अक्टूबर को ही देशभर के निश्चित सेंटरों पर होगा.

कोर्ट ने नहीं मानी याचिकाकर्ता की दलील

IAS, IPS के ये एग्जाम कराने वाली संस्था UPSC ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल करके कहा था कि वह एग्जाम को आगे बढ़ाने में असमर्थ है. ऐसे में कोर्ट ने याचिका दायर करने वाले पक्ष की दलीलों को भी सुना, लेकिन उनमें इतना दम नहीं लगा कि परीक्षा टालने का आदेश दिया जाए.

याचिकाकर्ता के वकील ने दलील दी-

बहुत से लोग ऐसे हैं, जो खुद कोरोना वॉरियर्स हैं. कई डॉक्टर हैं, जो इस एग्जाम में हिस्सा लेना चाहते हैं लेकिन वो नहीं आ पाएंगे. कई जगहों पर यातायात के साधन पूरी तरह उपलब्ध नहीं हैं. देश में ट्रेनों का संचालन भी पूरी तरह  शुरू नहीं हुआ है. ऐसे में एग्जाम की तारीख न बदलने से काफी मुश्किल पेश आएगी.

कोर्ट ने इस पर कहा-

जिन लोगों की बात आप कर रहे हैं, वो संख्या में बहुत कम हैं. इतने कम लोगों के लिए एग्जाम को टालना व्यावहारिक नहीं है. जहां तक बात यातायात के साधनों की है, तो ज्यादातर जगह पर लॉकडाउन खुल गया है. देश के किसी न किसी हिस्से में ऐसी दिक्कतें बनी रहती हैं, जिससे परिवहन आंशिक तौर पर बाधित रहे. यह तर्क परीक्षा को आगे बढ़ाने के लिए काफी नहीं है. अगर कोई मजबूत तथ्य है तो पेश करें.

कोर्ट ने सुनवाई के बाद UPSC को निर्देश दिए कि वह कोविड प्रोटोकॉल का पालन करवाए. निश्चित दूरी बनाए रखने और सेनिटाइजेशन आदि का पूरा ख्याल रखे. इसके लिए वह अपने सेंटरों को निर्देश दे सकती है.

सुप्रीम कोर्ट याचिका करने वालों की दलील से संतुष्ट नजर नहीं आया.
याचिका डालने वालों की दलील से संतुष्ट नजर नहीं आया सुप्रीम कोर्ट .

आखिरी अटेंप्ट वालों को मिल सकती है छूट

सुप्रीम कोर्ट ने इस बात को माना कि जिन लोगों का यह आखिरी अटेंप्ट है, उनके लिए परेशानी का सबब हो सकता है. कोर्ट ने केंद्र सरकार से कहा कि वह UPSC से आखिरी अटेंप्ट वालों का एग्जाम छूट जाने पर एक और अटेंप्ट की व्यवस्था पर बात करे. यह अटेंप्ट सिर्फ उन्हें ही मिले, जो आयु सीमा के दायरे में हों. मतलब उन्हीं कैंडिडेट्स को दोबारा एग्जाम का मौका मिल सकता है, जिनके अटेंप्ट इस बार खत्म हो जाएंगे लेकिन अधिकतम उम्र अभी पूरी नहीं हुई है.


वीडियो – प्रदीप ने UPSC परीक्षा दी, जिसमें एक बार IRS जॉइन किया और दूसरी बार टॉप कर गए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सभी आरोपियों को बरी करते हुए कोर्ट ने कहा - इन्होंने बाबरी मस्जिद को बचाने की कोशिश की थी

आ गया है 28 साल पुराने मामले में फ़ैसला

हाथरस के कथित गैंगरेप मामले पर विराट कोहली ने क्या कहा?

अक्षय कुमार ने भी ट्वीट किया है.

सिर्फ़ 6 लोगों की इस मीटिंग के टलने को पी चिदंबरम ने 'अभूतपूर्व' क्यूं कह डाला?

तो क्या इस वक़्त देश के पास अर्थव्यवस्था सही करने का सिर्फ़ एक बटन बचा है?

पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह नहीं रहे, पीएम मोदी ने कहा- "बातें याद रहेंगी"

जसवंत सिंह अटल सरकार के कद्दावर मंत्रियों में से थे.

IPL2020 के जरिए टीम इंडिया में आएगा फाजिल्का का ये लड़का?

सबकी उम्मीदें शुभमन गिल से लगी है.

आप दीपिका और रकुल प्रीत में उलझे रहे और राजस्थान में इतना बड़ा कांड हो गया!

दो दिन से बवाल चल रहा है.

मोदी सरकार ने भ्रष्टाचार रोकने वाले इस क़ानून को जरूरी बनाने की बात से पलटी मार ली

और यह जानकारी ख़ुद सरकार ने दी है.

किसान कर्फ्यू से पहले किसानों ने कहां-कहां ट्रेन रोक दी है?

कई ट्रेनों को कैंसिल किया गया, कई के रूट बदले गए.

केंद्रीय मंत्री सुरेश अंगड़ी का कोविड-19 से निधन

दिल्ली के एम्स में उनका इलाज चल रहा था.

धोनी का वर्ल्ड कप जिताने वाला सिक्सर याद है! वो अब स्टेडियम में अमर होने वाला है

भारत में किसी खिलाड़ी को जो मुकाम हासिल नहीं हुआ, वो अब धोनी को मिलने वाला है.