Submit your post

Follow Us

सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा, 'BJP IT सेल के अमित मालवीय को एक दिन में हटाओ, वरना...'

सुब्रमण्यम स्वामी. भाजपा के वरिष्ठ नेता. राज्यसभा सांसद. कथित ऑनलाइन ट्रोलिंग से परेशान होकर उन्होंने BJP से कहा है कि अमित मालवीय को कल यानी 10 सितम्बर तक BJP IT सेल से हटा दें.

ट्वीट किया,

“अगर कल तक अमित मालवीय को भाजपा के IT सेल से नहीं हटाया जाता है, जैसा मैंने जेपी नड्डा (पार्टी अध्यक्ष) को प्रस्ताव दिया है, तो इसका मतलब है कि पार्टी आलाकमान की मुझे बचाने की कोई ख़्वाहिश नहीं है. अब चूंकि पार्टी में ऐसा कोई फ़ोरम नहीं है, जहां पर मैं काडर ओपिनियन ले सकूं, ऐसे में मुझे अपना बचाव ख़ुद ही करना होगा.”

क्या है मामला?

सुब्रमण्यम स्वामी अपने तीखे तेवरों के लिए जाने जाते हैं. विपक्ष ही नहीं, अपने दल के नेताओं पर भी उनकी टिप्पणियों से कई बार विवाद पैदा हो जाता है. ऐसे में वह हमेशा सुर्खियों में बने रहते हैं. हाल ही में उन्होंने अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर भारत की गिरती जीडीपी की बात करते हुए कुछ वीडियो पोस्ट किए. इनमें इस बात का भी जिक्र है कि कैसे देश की अर्थव्यवस्था को फिर से पटरी पर लाया जा सकता है. इन ट्वीट पर कई लोगों ने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया. ट्रोल करने वाले वो लोग थे, जो खुद को देशभक्त और बीजेपी समर्थक बताते थे.

इस बाबत 7 सितंबर को बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट किया था,

“बीजेपी आईटी सेल धूर्तता पर उतर आया है. इसके कुछ सदस्य फर्जी आईडी बनाकर मुझ पर व्यक्तिगत हमले कर रहे हैं. अगर मेरे फॉलोअर भी बदले में किसी पर व्यक्तिगत हमला करें, तो मैं इसका जिम्मेदार नहीं होऊंगा. मैं वैसे ही इसके लिए जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता, जैसे बीजेपी को आईटी सेल की धूर्तता के लिए जिम्मेदार नहीं माना जा सकता.”

स्वामी यहीं पर नहीं रुके, बल्कि अमित मालवीय को भी आड़े हाथों लेते हुए कहा कि बेहतर होगा कि बीजेपी उन्हें हटा दे. उन्होंने लिखा कि ये मालवीय कैरेक्टर गंदगी और दंगे फैला रहा है. उन्होंने लिखा कि हम ‘मर्यादा पुरुषोत्तम’ की पार्टी के हैं, न कि रावण और दु:शासन की पार्टी के.

पहला मौक़ा नहीं है जब सुब्रमण्यम स्वामी ने भाजपा और भाजपा की नीतियों को निशाने पर लिया है. दिवंगत अरुण जेटली रहे हों या निर्मला सीतारमण. वित्त नीतियों पर सरकार को आड़े हाथों लेते रहे हैं. और अब है ये नया झाम.


लल्लनटॉप वीडियो : बीजेपी आईटी सेल ने अपने ही वरिष्ठ नेता को ट्रोल कर दिया!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

बंगाल में केंद्रीय मंत्री के काफिले पर हमला हुआ तो ममता बनर्जी ने उलटा क्या आरोप मढ़ दिया?

बंगाल में केंद्रीय मंत्री के काफिले पर हमला हुआ तो ममता बनर्जी ने उलटा क्या आरोप मढ़ दिया?

लगातार हो रही हिंसा की जांच के लिए होम मिनिस्ट्री ने अपनी टीम बंगाल भेज दी है.

पंजाबी फ़िल्मों के मशहूर एक्टर-डायरेक्टर सुखजिंदर शेरा का निधन

पंजाबी फ़िल्मों के मशहूर एक्टर-डायरेक्टर सुखजिंदर शेरा का निधन

कीनिया में अपने दोस्त से मिलने गए थे, वहां तेज बुखार आया था.

सलमान खान ने मदद मांगने वाले 18 साल के लड़के को यूं दिया सहारा!

सलमान खान ने मदद मांगने वाले 18 साल के लड़के को यूं दिया सहारा!

कुछ दिन पहले ही कोरोना से अपने पिता को गंवा दिया.

उत्तराखंड में एक और आपदा, उत्तरकाशी और रुद्रप्रयाग के पास बादल फटा

उत्तराखंड में एक और आपदा, उत्तरकाशी और रुद्रप्रयाग के पास बादल फटा

भारी नुक़सान की ख़बरें लेकिन एक राहत की बात है

क्या वाकई केंद्र सरकार ने मार्च के बाद वैक्सीन के लिए कोई ऑर्डर नहीं दिया?

क्या वाकई केंद्र सरकार ने मार्च के बाद वैक्सीन के लिए कोई ऑर्डर नहीं दिया?

जानिए वैक्सीन को लेकर देश में क्या चल रहा है.

Covid-19: अमेरिका के इस एक्सपर्ट ने भारत को कौन से तीन जरूरी कदम उठाने को कहा है?

Covid-19: अमेरिका के इस एक्सपर्ट ने भारत को कौन से तीन जरूरी कदम उठाने को कहा है?

डॉक्टर एंथनी एस फॉउसी सात राष्ट्रपतियों के साथ काम कर चुके हैं.

रेमडेसिविर या किसी दूसरी दवा के लिए बेसिर-पैर के दाम जमा करने के पहले ये ख़बर पढ़ लीजिए

रेमडेसिविर या किसी दूसरी दवा के लिए बेसिर-पैर के दाम जमा करने के पहले ये ख़बर पढ़ लीजिए

देश भर से सामने आ रही ये घटनाएं हिला देंगी.

कुछ लोगों को फ्री, तो कुछ को 2400 से भी महंगी पड़ेगी कोविड वैक्सीन, जानिए पूरा हिसाब-किताब

कुछ लोगों को फ्री, तो कुछ को 2400 से भी महंगी पड़ेगी कोविड वैक्सीन, जानिए पूरा हिसाब-किताब

वैक्सीन के रेट्स को लेकर देशभर में कन्फ्यूजन की स्थिति क्यों है?

कोरोना से हुई मौतों पर झूठ कौन बोल रहा है? श्मशान या सरकारी दावे?

कोरोना से हुई मौतों पर झूठ कौन बोल रहा है? श्मशान या सरकारी दावे?

जानिए न्यूयॉर्क टाइम्स ने भारत के हालात पर क्या लिखा है.

PM Cares से 200 करोड़ खर्च होने के बाद भी नहीं लगे ऑक्सीजन प्लांट, लेकिन राजनीति पूरी हो रही है

PM Cares से 200 करोड़ खर्च होने के बाद भी नहीं लगे ऑक्सीजन प्लांट, लेकिन राजनीति पूरी हो रही है

यूपी जैसे बड़े राज्य में केवल 1 प्लांट ही लगा.