Submit your post

Follow Us

पठानकोट: पाकिस्तान में 4 संदिग्ध हिरासत में

पठानकोट हमले की जांच पर इंडिया ने पाकिस्तान को सबूत सौंप दिए हैं. पड़ोसी देश की सरकार और खुफिया एजेंसी ISI जांच में लगी हैं. ISI ने बैन संगठनों के चार लीडरों को हिरासत में लिया है.

पाकिस्तानी अखबार ‘द न्यूज’ ने इस बारे में खबर छापी है. पाकिस्तान के पीएमओ के मुताबिक, गिरफ्तार किए गए लोग बैन आतंकी संगठन जैश-ए-मुहम्मद से ताल्लुक रखते हैं.

‘द न्यूज’ ने एक सरकारी अधिकारियों के हवाले से लिखा है कि शुरुआती जांच में कंफर्म हो गया है कि सभी 6 आतंकी पाकिस्तान की जमीन से ही भारत में घुसे थे.

एक सरकारी अफसर ने बताया कि इंडिया ने जो सबूत दिए हैं, उन्हें ISI के अलावा किसी एजेंसी से शेयर नहीं किया गया है. सूत्रों के मुताबिक, ISI ने कुछ लोगों को गिरफ्तार किया है. जांच और छापेमारी जारी है. जब जांच का विस्तार होगा तो बाकी लॉ एनफोर्समेंट एजेंसियां और संगठन इसमें शामिल होंगे.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

कोरियोग्राफर सरोज खान हॉस्पिटल में भर्ती, सांस लेने में दिक्कत हो रही थी

कोरोना टेस्ट भी करवाया गया.

गलवान घाटी में अपने सैनिकों के मारे जाने पर चीन ने क्या कहा?

भारत को आशंका है कि चीन के करीब 40 जवान मारे गए थे.

बस कंडक्टर 4 साल तक हाईवे पर ट्रक ड्राइवरों के साथ घूमे, डॉक्यूमेंट्री शूट की, अब बेस्ट फिल्म का अवॉर्ड मिला

अमर माईबाम ने डॉक्यूमेंट्री बनाई है – Highways of Life.

नक्सल प्रभावित क्षेत्र में बच्चों को IIT के लिए पढ़ाने वाले IPS पर बनी फिल्म, कहां रिलीज़ हो रही है?

जाने-माने निर्देशक प्रकाश झा ने बनाई है, 'परीक्षा-दी फाइनल टेस्ट'.

विराट कोहली को सचिन जैसा बताने वालों को गावस्कर की ये बात सुननी चाहिए

किस मामले में रिचर्ड्स, लक्ष्मण और विश्वनाथ जैसे हैं कोहली?

जिस छोटी सी कंपनी ने भारत पर दो सौ साल राज किया, उस पर हिंदी सीरीज़ बनने जा रही है

मशहूर लेखक ने इस पर मशहूर किताब लिखी, अब इसके एक्सक्लूसिव राइट्स भारतीय प्रड्यूसर ने हासिल किए.

बिहार चुनाव को लेकर चुनाव आयोग ने ये सात बड़े संकेत दिए हैं

कंटेनमेंट जोन में रहने वाले और कोरोना संक्रमित कैसे वोट करेंगे?

पाकिस्तान क्रिकेट के लिए बुरी खबर, ये 10 क्रिकेटर कोरोना वायरस की चपेट में हैं

पाकिस्तान के इंग्लैंड दौरे पर संकट हो गया है.

पतंजलि की कोरोना की दवा पर आयुष मंत्रालय ने कहा- ज़रा रुक जाइए!

रामदेव कोरोना की दवा बेचने की तैयारी में थे, लेकिन...

क्या है फैविपिराविर टैबलेट, जिसे अब तक कोरोना के लिए सबसे कारगर बताया जा रहा

आसान भाषा में इसका सारा गणित समझिए.