Submit your post

Follow Us

सिंघु बॉर्डर पर युवक की हत्या का मामला, लखबीर के परिवार ने क्या कहा?

सिंघु बॉर्डर पर 15 अक्टूबर को एक युवक की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी. मृतक की पहचान लखबीर सिंह के रूप में हुई थी. अब मृतक के परिवार का आरोप है कि इस हत्या के पीछे कोई साजिश है. उनका कहना है कि ज़रूर किसी ने लखबीर को सिखों के पवित्र ग्रंथ की बेअदबी करने के लिए उकसाया होगा. लखबीर के साले सुखबीर ने इंडिया टुडे से बात करते हुए कहा –

“लखबीर कभी पवित्र ग्रंथ की बेअदबी नहीं कर सकते थे. उन्हें ज़रूर किसी ने उकसाया होगा, भड़काया होगा. वो पिछले हफ्ते 50 रुपये लेकर घर से निकले थे. हमें तो अंदाजा भी नहीं था कि वे सिंघु बॉर्डर पर हो सकते हैं. हमें न्याय चाहिए. जिसने भी उन्हें उकसाया हो, उसे ढूंढा जाना चाहिए.”

सुखबीर ने कहा कि अगर लखबीर ने पवित्र ग्रंथ की बेअदबी की भी थी तो निहंगों को उनकी हत्या नहीं करनी चाहिए थी. वे कहते हैं कि निहंगों को चाहिए था कि उन्हें पकड़ लेते, बांध लेते और उनके होश में आने का इंतज़ार करते ताकि पूछताछ की जा सके, लेकिन हत्या तो नहीं करनी चाहिए थी.

वहीं पंजाब के तरनतारन स्थित मृतक लखबीर सिंह के घर में 15 अक्टूबर से ही भारी भीड़ जुटी हुई है. स्थानीय लोगों का कहना है कि लखबीर सिंह भले ही नशा करता था, मगर वो बुरा इंसान नहीं था. लोगों को हैरत है कि इतनी बेरहमी से उसकी हत्या कैसे की गई.

इंडिया टुडे से बात करते हुए स्थानीय निवासी सुरिंदर कौर ने बताया कि –

“वह नशे का आदी था, लेकिन आज तक कोई ऐसी ग़लत हरकत नहीं की. वो तो आज तक कभी अमृतसर तक नहीं गया तो यह मानना मुश्किल है कि वह दिल्ली कैसे पहुंच गया.”

लखबीर सिंह की पड़ोसन कवलजीत कौर ने कहा,

“लखबीर को नशा करने की आदत थी, लेकिन वह श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी नहीं कर सकता. लखबीर ने गांव में भी कभी किसी को नुकसान नहीं पहुंचाया, न ही उसने कभी किसी का बुरा किया. शुक्रवार से वो घर नहीं आया था.”

इस मर्डर केस में 15 अक्टूबर की ही देर रात एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया. निहंग सरदार सरबजीत सिंह के सरेंडर करने के बाद उन्हें क्राइम ब्रांच खरखोदा और कुंडली थाना पुलिस ने गिरफ्तार किया.

क्या हुआ था सिंघु बॉर्डर पर?

सिंघु बॉर्डर पर किसानों का प्रदर्शन चल रहा है. शुक्रवार, 15 अक्टूबर को एक शव मिला. 35 साल के इस युवक की बेरहमी से हत्या कर दी गई थी. उसके हाथ कटे थे. हत्या के पीछे निहंग सिखों के होने की बात पता चली. आरोप है कि उन्होंने ही उस शख्स का हाथ काटा और जान ली.

लखबीर सिंह के पिता का नाम दर्शन सिंह है.  6 महीने की उम्र में फूफा हरनाम सिंह ने लखबीर सिंह को गोद ले लिया था. लखबीर सिंह पेशे से मजदूर थे और उनकी उम्र 35-36 साल थी. SC जाति के लखबीर सिंह तरन-तारान जिले के चीमा खुर्द गांव के रहने वाले थे. उनके माता-पिता की मौत हो चुकी है. परिवार में अब सिर्फ एक विधवा बहन (राज कौर) है. उनकी पत्नी जसप्रीत कौर साथ में नहीं रहती थी. वह उनके तीन बच्चों को लेकर अलग रहती हैं. इसमें तीन बेटियां शामिल हैं. जिनकी उम्र 8 से 12 साल के बीच है.

इंडिया टुडे के रिपोर्टर मोहित शर्मा की ख़बर के मुताबिक लखबीर हत्या से 3 दिन पहले ही सिंघु बॉर्डर आए थे. यहां निहंग कैंप में रह रहे थे. बताया जा रहा है कि घटना के दिन लखबीर सिंह सरबलोह ग्रंथ के साथ पाए गए. इस पर एक निहंग ने आपत्ति जताई और उनसे कुछ सवाल किए. इसके बाद ही विवाद शुरू हो गया. आरोप है कि इसी के बाद निहंगों ने मिलकर लखबीर सिंह को पकड़ लिया, उन्हें पीटा, एक कलाई काट दी. कई वार के बाद जब लखबीर मरणासन्न हालात में आ गए तो उसे मरने के लिए छोड़ दिया गया और शव बैरिकेड से टांग दिया गया.


सिंघु बॉर्डर पर किसानों के साथ लंगर खाने के बाद किसने की फायरिंग?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने पीएम मोदी के लिए क्या कहा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

उपचुनाव के नतीजे एक जगह पर.

जेल से बाहर आए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, मन्नत के लिए रवाना

जेल से बाहर आए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, मन्नत के लिए रवाना

3 अक्टूबर को आर्यन खान को गिरफ्तार किया गया था.

वरुण गांधी ने कहा- UP में किसानों का फसल जलाना सरकार के लिए शर्म की बात, जेल कराऊंगा

वरुण गांधी ने कहा- UP में किसानों का फसल जलाना सरकार के लिए शर्म की बात, जेल कराऊंगा

किसानों के बहाने फिर बीजेपी पर निशाना साध रहे वरुण गांधी?

कन्नड़ सुपरस्टार पुनीत राजकुमार की सिर्फ 46 की उम्र में डेथ!

कन्नड़ सुपरस्टार पुनीत राजकुमार की सिर्फ 46 की उम्र में डेथ!

ट्विटर पर फिल्म इंडस्ट्री ने पुनीत को किया भारी मन से याद.

Facebook का नाम बदलने के बाद क्या अब आपका अकाउंट Meta पर खुलेगा?

Facebook का नाम बदलने के बाद क्या अब आपका अकाउंट Meta पर खुलेगा?

इससे फेसबुक पर क्या कुछ फर्क पड़ने वाला है?