Submit your post

Follow Us

नोटबंदी का सबसे बड़ा तर्क आज लुड़ुस हो गया

6.02 K
शेयर्स

नोटबंदी सही कदम था या गलत, ये अब तक यक्ष प्रश्न था. कोई ठोस जानकारी थी ही नहीं, इसलिए हर कोई अपने हिसाब से तुक्के लगाता था. लेकिन 30 अगस्त, 2017 को जारी हुई रिज़र्व बैंक की वार्षिक रिपोर्ट में नोटबंदी का पूरा गणित पब्लिक कर दिया गया है. नोटबंदी के बाद ये पहला मौका है कि रिज़र्व बैंक ने सटीक आंकड़े जारी किए हैं.

इस रिपोर्ट के मुताबिक 1000 रुपए के नोटों में से सिर्फ 1.3 फीसदी ऐसे थे, जो रिज़र्व बैंक को वापस नहीं मिले.

नोटबंदी का शुरुआती लॉजिक यही था कि जिनके पास 1000 और 500 के नोटों की शक्ल में काला धन जमा है, वो नए नोटों के चलते चलन से बाहर हो जाता. इस हिसाब से चलन से बाहर हुए नए जारी हुए नोटों के अंतर को (कैश) काला धन मान लिया जाता. अनुमान था कि काला धन ज़्यादातर 1000 के नोटों की शक्ल में था. इसीलिए 1.3% का आंकड़े ने कई लोगों को हैरान किया.

यूपीए के ज़माने में वित्तमंत्री रहे पी चिदंबरम ने बिना देर किए एक ट्वीट भी चेंप दियाः

 

रिज़र्व बैंक की रिपोर्ट की मोटा-माटी बातें जानें:

# 8 नवंबर को जब नोटबंदी हुई, तब देश में 1000 रुपए के 67 करोड़ नोट चलन में थे.

# नोट बदलने की कवायद पूरी होने के बाद इन 67 करोड़ नोटों में से सिर्फ 8 करोड़ 90 लाख नोट वापस नहीं आए.

# नोटबंदी के बाद नए नोटों की किल्लत को लेकर रिज़र्व बैंक को खूब कोसा गया था. रिपोर्ट के मुताबिक नोटबंदी के बाद के महीनों में रिज़र्व बैंक ने 2,380 करोड़ नोट जारी किए. इनकी कुल कीमत 5.54 लाख करोड़ थी.

 

रिज़र्व बैंक के कुछ कर्मचारियों ने नोटबंदी को उनकी बदनामी का कारण बताया था
रिज़र्व बैंक के कुछ कर्मचारियों ने नोटबंदी को उनकी बदनामी का कारण बताया था

 

# मार्च 2017 के अंत में देश के बाज़ारों में कुल 13.1 लाख करोड़ का कैश सर्कुलेट हो रहा था. ये आंकड़ा पिछले साल की तुलना में 20.2% कम है.

# रिज़र्व बैंक ने साल 2016-17 में नोट छापने पर 7,965 करोड़ रुपए खर्च किए. पिछले साल ये खर्च 3,420 करोड़ था. इस साल हुए खर्च का बड़ा हिस्सा 500 और 2000 के नए नोट छापने में इस्तेमाल हुआ.

# नोटबंदी से पहले देश का 86.4% कैश 500 और 1000 के नोटों की शक्ल में मौजूद था. नोटबंदी के बाद 500 और 2000 रुपए के नोटों (माने बड़े नोटों) का देश के कैश में हिस्सा 73.4% पर आ गया था.

# मार्च 2017 के अंत तक 2000 के नोटों का शेयर देश के कुल कैश में 50.2% था.

इस सब पर सरकार का पक्ष रखने वित्तमंत्री अरुण जेटली ने एक प्रेसकॉन्फ्रेंस भी की. लगभग पूरे नोटों के वापस आ जाने पर उन्होंने कहा कि नोटबंदी का लक्ष्य नोटों को ज़ब्त करना नहीं था. भारत की अर्थव्यवस्था कैश आधारित है, और इसे बदलने की ज़रूरत है. कैश का चलन 17% नीचे आया भी है. सरकार का अगला लक्ष्य चुनावों में लगने वाले काले धन को खत्म करना है.


ये भी पढ़ेंः

200 रुपए के नोटों का ये खास फीचर आपको कभी पैसों की कमी नहीं होने देगा!

500 के नोटों में सिल्वर स्ट्रिप अलग-अलग जगह है, जानिए कौन सा असली है

पहली बार उर्जित पटेल ने सरकार को दिखाया कि RBI गवर्नर वो हैं

‘मैं धारक को मूर्ख बनाने का वचन देता हूं’

नोटबंदी के फैसले को लागू करने से ‘अपमानित’ हो गए RBI के एम्प्लॉइज

 

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
RBI releases demonetization figures in its Annual report 2017

क्या चल रहा है?

दिल्ली में 9वीं क्लास की बच्ची के पेट में दर्द हुआ, हॉस्पिटल में पता चला कि 6 महीने की प्रेग्नेंट है

'तुम्हारी मां का एक्सीडेंट हो गया है,' कहकर स्कूल से ले गया था एक पहचान वाला.

CWC 2019: ऋषभ पंत इंग्लैंड के लिए रवाना, धवन की जगह खेल सकते हैं

धवन को चोट लगी है और वह 3 हफ्ते के लिए टीम से बाहर हो गए हैं.

कारें चुराने के लिए क्रेन खरीदी और 200 कारें चुरा ली, बस एक गलती से पकड़े गए

पुलिस को पहले विश्वास ही नहीं हुआ था.

CWC 2019: पाकिस्तान के खिलाफ मैच से पहले विराट कोहली ने क्या कहा?

कई बातों के साथ धोनी को लेकर भी खुलकर बात की है.

यूपी में पेड़ से लटके मिले लड़का-लड़की, परिवार पर मार कर टांग देने का शक

शायद ये कोई लव स्टोरी थी...

पटरी से उतरी ट्रेन का वीडियो बना रहे पत्रकार को यूपी पुलिस ने पीटा, चेहरे पर पेशाब करने का आरोप

पत्रकार के मुताबिक उसे सिर्फ इस वजह से नहीं पीटा गया कि वो ट्रेन का वीडियो बना रहा था, दरअसल खुन्नस तो एक महीने पुरानी थी.

चारों ने कहा,'ट्रेन में बहुत गर्मी है, बेचैनी हो रही है,' फिर बेहोश हुए और मर गए

उत्तर प्रदेश, दिल्ली, राजस्थान, हरियाणा, बिहार, मध्य प्रदेश, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश...

गर्मी के मारे इन राज्यों का सबसे बुरा हाल है.

जहां फिल्में शूट कर शाहरुख, सलमान और आमिर सुपरस्टार बने, वो जगह बिक गई

मशहूर फिल्ममेकर कमाल अमरोही के इस स्टूडियो की जमीन पर इंडिया का सबसे बड़ा कॉर्पोरेट पार्क बनने जा रहा है.

2 साल का फतेहवीर, 109 घंटे बोरवेल में फंसा रहा, नहीं बचाया जा सका

एनडीआएफ, आर्मी और वॉलंटियर्स समेत कुल 1000 से ज्यादा लोग ऑपरेशन में जुटे थे.

रीढ़ के पास धंसी गोली की वजह से अकबरुद्दीन ओवैसी लंदन के अस्पताल में भर्ती

हर साल इलाज के लिए जाना पड़ता है लंदन