Submit your post

Follow Us

राणा कपूर की तीन बेटियां, जिन पर CBI-ED की नजर है

यस बैंक. देश का चौथा सबसे बड़ा प्राइवेट बैंक. अभी बुरे दौर से गुजर रहा है. वित्तीय गड़बड़ियों और खस्ता आर्थिक स्थिति के चलते रिजर्व बैंक ने पाबंदी लगा रखी है. इसका कामकाज RBI ही देख रहा है. यस बैंक की स्थापना राणा कपूर ने 2003 में की थी. वे अब प्रवर्तन निदेशालय यानी ED की हिरासत में हैं. उन पर मनी लॉन्ड्रिंग यानी पैसों की हेराफेरी का आरोप है. 8 मार्च को उनकी बेटी रोशनी कपूर को देश छोड़ने से रोक दिया गया. मुंबई एयरपोर्ट पर. वह लंदन जा रही थीं. यह कदम ED के लुकआउट नोटिस के बाद उठाया गया.

जांच के दायरे में राणा कपूर का परिवार

ईडी ने राणा कपूर के परिवार के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया था. इसमें राणा की पत्नी बिंदू कपूर, बेटियों राखी कपूर टंडन, राधा कपूर और रोशनी कपूर के नाम थे. इसी वजह से रोशनी को ब्रिटिश एयरवेज की फ्लाइट में बैठने से रोक दिया गया. ईडी का आरोप है कि राणा कपूर ने बैंक से लोन देने के बदले में कई कॉर्पोरेट घरानों से रिश्वत ली. रिश्वत से मिले पैसों को राणा कपूर ने शेल कंपनियों यानी केवल कागजों में मौजूद कंपनियों में लगाया. ये कंपनियां राणा कपूर की पत्नी और बेटियों के नाम से हैं. ऐसे में ईडी की जांच के दायरे में पूरा कपूर परिवार है.

राणा कपूर की बेटियों के नाम कई शेल कंपनियां!

ईडी के अलावा सीबीआई भी राणा कपूर को लेकर जांच कर रही है. यस बैंक के दीवान हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड यानी DHFL को लोन देने और बदले में रिश्वत लेने के आरोप में सीबीआई जांच कर रही है. इसमें सीबीआई ने 7 मार्च को राणा कपूर के खिलाफ केस दर्ज किया था. सीबीआई का कहना है कि राणा कपूर और उनके परिवार को DHFL ने लोन के बदले रिश्वत दी. यह रिश्वत कपूर परिवार की कंपनियों को दी गई. ये कंपनियां राणा कपूर की बेटियों के नाम पर हैं. जांच एजेंसियों का कहना है कि ये कंपनियां फर्जी हैं.

राधा कपूर के नाम कई कंपनियां हैं.
राधा कपूर के नाम कई कंपनियां हैं.

आइये जानते हैं राणा कपूर की तीनों बेटियों  के बारे में, और ये भी कि वो क्यों जांच के घेरे में हैं.

राधा कपूर
यह राणा कपूर की सबसे बड़ी बेटी हैं. उनके पास प्रो कबड्डी लीग की टीम दबंग दिल्ली का मालिकाना हक भी है. फाइनेंशियल इंवेस्टर आदित्य खन्ना से उन्होंने शादी की है. वह अर्बन वेंचर्स नाम की कंपनी में डायरेक्टर भी हैं. इस कंपनी का नाम सीबीआई की एफआईआर में है. एफआईआर में कहा गया है कि यस बैंक ने DHFL को 3700 करोड़ रुपये का लोन दिया. बाद में अर्बन वेंचर्स को DHFL ने 600 करोड़ रुपये दिए. ऐसे में राधा कपूर भी जांच के घेरे में है.

राखी कपूर आईपीएल 2015 के दौरान सुर्खियों में आई थीं.
राखी कपूर आईपीएल 2015 के दौरान सुर्खियों में आई थीं.

राखी कपूर टंडन
राणा कपूर की दूसरे नंबर की बेटी. इनका नाम 2015 के आईपीएल के समय सुर्खियों में आया था. 33 साल की राखी आईपीएल-8 के फाइनल की प्रजेंटेशन सेरेमनी में मौजूद थीं. उस समय यस बैंक आईपीएल से जुड़ा हुआ था. ऐसे में राखी ने यस बैंक की ओर से पुरस्कार दिए थे. राखी के सामने आने के बाद वह सोशल मीडिया पर वे ट्रेंड करने लगी थी. उन्हें मिस्ट्री गर्ल कहा गया. फिर सामने आया कि राखी यस बैंक के ब्रांड मैनेजमेंट और स्ट्रैटजी काम देखती थीं. उनकी शादी अलकेश टंडन से हुई हैं. वो दिल्ली के रहने वाले हैं और कारोबारी हैं. उनका स्टील किंग लक्ष्मी मित्तल से पारिवारिक संबंध है. राखी भी ईडी की जांच के दायरे में है. वे भी कपूर परिवार की कई कंपनियों में डायरेक्टर हैं.

रोशनी कपूर अधिकतर समय लंदन में ही रहती हैं.
रोशनी कपूर अधिकतर समय लंदन में ही रहती हैं.

रोशनी कपूर
राणा कपूर की सबसे छोटी बेटी. ईडी का कहना है कि 25 साल की रोशनी 20 से ज्यादा कंपनियों में डायरेक्टर हैं. इनमें से एक कंपनी यस बैंक की प्रमोटर हैं. रोशनी के साथ ही उनकी बहन राखी कपूर टंडन भी इसमें डायरेक्टर हैं. इस कंपनी का नाम ART Capital है. इसके पास यस बैंक की 3.28 प्रतिशत हिस्सेदारी है. ART Capital ईडी की जांच के घेरे में है.


Video: यस बैंक: इन गलतियों की वजह से RBI ने की कार्रवाई

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अमेरिकी कंपनी ने कोरोना की अंडर ट्रायल वैक्सीन का चूहे पर ट्रायल किया, तो क्या हुआ?

जुलाई के महीने को लेकर अहम बात भी कह डाली है.

केजरीवाल ने लॉकडाउन 4 में बहुत सारी छूट दे दी हैं

ऑड-ईवन आ गया, लेकिन ट्रांसपोर्ट में नहीं.

लॉकडाउन 4: पर्सनल गाड़ी से शहर या राज्य के बाहर जाने के क्या नियम हैं?

केंद्र सरकार ने इस पर क्या कहा है?

कोरोना संक्रमण के बीच स्विगी ने बहुत बुरी खबर दी है

दो दिन पहले जोमैटो ने भी ऐसा ही ऐलान किया था.

ममता बनर्जी ने लॉकडाउन के नियमों में बहुत बड़ा बदलाव किया है

केंद्र सरकार की नई बात मानने से मना कर दिया!

लॉकडाउन 4.0: सरकार ने जारी की गाइडलाइंस, जानें क्या खुलेगा और क्या बंद रहेगा

31 मई तक के लिए लॉकडाउन बढ़ाया गया है.

घर जाने को लेकर राजकोट में 500 मज़दूरों का सब्र जवाब दे गया, सड़क पर उतरे

हंगामे के बीच पुलिस घायल, किसी तरह शांत हुआ मामला.

चोटिल बेटे को खटिया पर लादकर 900 किमी दूर घर के लिए निकल पड़ा ये मज़दूर

पंजाब से चला था परिवार, मध्य प्रदेश जाना था.

20 लाख करोड़ के राहत पैकेज की आख़िरी किश्त में मनरेगा को 40 हजार करोड़, अन्य को क्या मिला?

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सात सेक्टर्स के लिए घोषणाएं कीं.

यूपी: औरैया में दो ट्रक टकराने से 24 मज़दूर मारे गए, योगी ने कई पुलिसवालों को सस्पेंड किया

पीएम मोदी ने घटना पर शोक जताया है.