Submit your post

Follow Us

हिंसा प्रभावित इलाकों का दौरा करने के बाद क्या बोले राहुल गांधी?

पिछले दिनों दिल्ली के कई इलाकों में हिंसा हुई. आधिकारिक तौर पर 46 लोग मारे गए. कई घायल हुए. गाड़ियां, घर, दुकानें, यहां तक कि स्कूल तक जला दिये गए. अस्पताल पर भी हमला किया गया. हिंसा रुकी तो राख से ढंकी गलियों और पत्थरों से पटी सड़कों की तस्वीरें हमारे सामने थीं. अब हिंसा प्रभावित इलाकों में जिंदगी धीरे-धीरे पटरी पर लौट आई है, लोग हिंसा के डर से उबरने की कोशिश कर रहे हैं.

इस बीच कांग्रेस नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल 4 मार्च को दिल्ली के हिंसा प्रभावित इलाकों में गया. कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी इस प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा थे. टीम नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली के बृजपुरी इलाके में पहुंची. यहां उन्होंने उस स्कूल का दौरा किया, जो हिंसा के दौरान आगजनी का शिकार हुआ था.

राहुल गांधी ने मीडिया से बातचीत में कहा,

जब हिन्दुस्तान में हिंसा होती है, जब कैपिटल में हिंसा होती है, तो दुनिया में हिन्दुस्तान का जो रेप्युटेशन है, उस पर चोट पहुंचती है. जो हिन्दुस्तान की स्ट्रेंथ थी, जो हमारी स्ट्रेंथ थी, भाईचारा एकता प्यार, उसको यहां जलाया गया है. नष्ट किया गया है. और इस प्रकार की राजनीति से सिर्फ स्कूल का नुकसान नहीं होता है. हिन्दुस्तान और भारत माता का नुकसान होता है.

राहुल गांधी के साथ कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल में मुकुल वासनिक, कुमारी शैलजा, अधीर रंजन चौधरी, केसी वेणुगोपाल, रणदीप सुरजेवाला, के सुरेश, गौरव गोगोई और ब्रह्म मोहिंद्रा शामिल थे.

कांग्रेस सांसद के. सुरेश ने कहा कि बाकी विपक्षी दलों के नेताओं ने दंगा प्रभावित इलाकों का दौरा किया था, इस वजह से हम पर दबाव था. उन्होंने कहा,

‘कांग्रेस के सांसदों ने दंगा-प्रभावित इलाकों का दौरा नहीं किया था, लेकिन IUML और सीपीआई-लेफ्ट के सांसद दौरा कर चुके थे, इसलिए हमारे क्षेत्रों में हम पर बहुत ज्यादा दबाव था.

दिल्ली की हिंसा को लेकर कांग्रेस गृहमंत्री अमित शाह का इस्तीफा मांग रही है. बजट सत्र का दूसरा चरण 2 मार्च से शुरू हो गया है. दिल्ली हिंसा को लेकर विपक्ष सरकार पर हमलावर है.


दिल्ली दंगे में पुलिसवाले के सामने पिस्टल चलाने वाला शाहरुख आखिर गिरफ्तार हो गया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

राज्यसभा की 18 सीटों में से कांग्रेस और बीजेपी ने कितनी जीतीं?

नतीजे आने शुरू हो गए हैं.

दिल्ली के हेल्थ मिनिस्टर सत्येंद्र जैन ऑक्सीजन सपोर्ट पर, दूसरे अस्पताल में शिफ्ट किए गए

कुछ दिन पहले कोरोना पॉज़िटिव आए थे, अब प्लाज़मा थेरेपी दी जाएगी.

चीनी सेना की यूनिट 61398, जिससे पूरी दुनिया के डेटाबाज़ डरते हैं

बड़ी चालाकी से काम करती है ये यूनिट.

गलवान घाटी में झड़प के बाद भी चीनी सेना मौजूद, 200 से ज्यादा ट्रक और टेंट लगाए

सैटेलाइट से ली गई तस्वीरों में यह सामने आया है.

पेट्रोल-डीजल के दाम में फिर से उबाल क्यों आ रहा है?

रोजाना इनके दाम घटने-बढ़ने की पूरी कहानी.

उत्तर प्रदेश में एक IPS अधिकारी के ट्रांसफर पर क्यों तहलका मचा हुआ है?

69000 भर्ती में कार्रवाई का नतीजा ट्रांसफर बता रहे लोग. मगर बात कुछ और भी है.

गलवान घाटी: LAC पर भारत के तीन नहीं, 20 जवान शहीद हुए हैं, कई चीनी सैनिक भी मारे गए

लड़ाई में हमारे एक के मुकाबले तीन थे चीनी सैनिक.

गलवान घाटीः वो जगह जहां भारत-चीन के बीच झड़प हुई

पिछले कुछ समय से यहां पर दोनों देशों की सेनाएं आमने-सामने हैं.

लद्दाख: गलवान घाटी में भारत-चीन झड़प पर विपक्ष के नेता क्या बोले?

सेना के एक अधिकारी समेत तीन जवान शहीद हुए हैं.

क्या परवीन बाबी की राह पर चल पड़े थे सुशांत?

मुकेश भट्ट ने एक इंटरव्यू में कहा.