Submit your post

Follow Us

पाकिस्तान के इस फैसले से साफ़ हो गया कि वो वर्ल्ड कप जीतने नहीं, इंडिया को हराने आए हैं

737
शेयर्स

एक बात बताइए. टीमें वर्ल्ड कप क्यों खेलती हैं? सीधी बात है, जीतने के लिए. लेकिन किस से जीतने के लिए? जो भी उसके खिलाफ खेल रहा हो उससे या किसी एक खास टीम के खिलाफ? वैल, पाकिस्तान को देखकर ऐसा लगता है कि वो दूसरी कैटेगरी में आते हैं. ऐसा लगता है पाकिस्तान के लिए वर्ल्ड कप दो चरणों में बंटा हुआ है. एक बिफोर इंडिया मैच और एक आफ्टर इंडिया मैच. जो होना है वो इंडिया से मैच के बाद होगा. जो करना है इंडिया के मैच के लिए करना है. वर्ल्ड कप जीतें ना जीतें इंडिया से ज़रूर जीतना है. जीतें ना जीतें अपनी कोशिश में कोई कमी नहीं छोड़नी है. मलतब कम से कम ऐसा लगना ज़रूर चाहिए कि कोशिश जारी है.

अभी इसका एक ताजा उदाहरण मिला है. ऐसा हुआ था कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने वर्ल्ड कप के दौरान, दो को छोड़कर, किसी भी खिलाड़ी को अपने परिवार या पत्नी के साथ रहने की इजाजत नहीं दी थी. ऐसा इसलिए क्योंकि हाल ही में पाकिस्तान की टीम इंग्लैंड के खिलाफ 5 वनडे मैचों की सीरीज खेलने के लिए इंग्लैंड में थी. पाक खिलाडियों के परिवार वाले साथ थे. नतीजा. 0-4 से हार. अब बोर्ड को लगता है कि ये उनके परिवार के साथ रहने के कारण हुआ है. हुआ होगा. तो बोर्ड ने क्या किया कि परिवार को साथ आने से मना कर दिया. लेकिन बदला कुछ नहीं. पहला प्रैक्टिस मैच खेला और हार गए.

लेकिन अब इस कहानी में एक ट्विस्ट आया है. पाकिस्तान बोर्ड ने खिलाडियों को एक ‘चॉकलेट प्रॉब्लम’ दी है. अगर उसे सॉल्व कर लिया तो इनाम में चॉकलेट नहीं परिवार का साथ मिलेगा. उस प्रॉब्लम से पहले कुछ नहीं. बोर्ड ने कहा है कि अब खिलाड़ी पत्नियों को साथ रख सकेंगे. लेकिन इंडिया से मैच के बाद. अब परिवार का साथ सुखद रहेगा या नहीं ये तो मैच के बाद ही पता चलेगा. लेकिन मैच से पहले एक गेम पर फोकस. कोई डिस्टर्बेंस नहीं.

वैसे बीसीसीआई ने भी भारतीय खिलाडियों के लिए भी कुछ ऐसी ही हिदायत जारी की है. खिलाड़ियों की पत्नियां वर्ल्ड कप शुरू होने के 20 दिन बाद उनके साथ रह सकती हैं. लेकिन उनका पाकिस्तान ऑब्सेशन जैसा कुछ नहीं है. बोर्ड चाहता है कि खिलाड़ी पहले कंडीशंस में ढल जाए. बोर्ड जानता है कि माहौल में ढलने के लिए कितना समय चाहिए. क्योंकि अगर नहीं ढलना हो तो आप एक सीरीज हारने और 1 महीने से इंग्लैंड में होकर भी नहीं ढल सकते. जैसा पाकिस्तान के साथ हो रहा है.


वीडियो: इंग्लैंड-पाक के हर मैच में 350 से ऊपर का स्कोर वर्ल्ड कप 2019 के हिसाब से अच्छी खबर नहीं है


 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

देश के आधे पुलिसवाले मानकर बैठे हैं कि मुसलमान अपराधी होते ही हैं

पुलिसवाले और क्या सोचते हैं, ये सर्वे पढ़ लो

वो आदमी, जिसने पद्म श्री, पद्म भूषण और पद्म विभूषण ठुकरा दिया था

उस्ताद विलायत ख़ान का सितार और उनकी बातें.

विधानसभा में पॉर्न देखते पकड़ाए थे, BJP ने उपमुख्यमंत्री बना दिया

और BJP ने देश में पॉर्न पर प्रतिबंध लगाया हुआ है.

आईफोन होने से इतनी बड़ी दिक्कत आएगी, ब्रिटेन में रहने वालों ने नहीं सोचा होगा

मामला ब्रेग्जिट से जुड़ा है. लोग फॉर्म नहीं भर पा रहे.

पूर्व CBI जज ने कहा, ज़मानत के लिए भाजपा नेता ने की थी 40 करोड़ की पेशकश

और अब भाजपा के "कुबेर" गहरा फंस चुके हैं.

आशीर्वाद मांगने पहुंचे खट्टर, आदमी ने खुद को आग लगा ली

दो बार मुख्यमंत्री से मिला, फिर भी नहीं लगी नौकरी.

नेटफ्लिक्स पर आने वाली शाहरुख़ की 'बार्ड ऑफ़ ब्लड' में कश्मीर क्यूं खचेर रहा है पाकिस्तान?

पाकिस्तानी आर्मी के प्रवक्ता के बयान पर सोशल मीडिया कहने लगा 'पीछे तो देखो'.

केरल बाढ़ के हीरो आईएएस कन्नन गोपीनाथन ने कश्मीर मसले पर नौकरी छोड़ते हुए ये बातें कही हैं

नौकरी छोड़ दी. अब न कोई सेविंग्स है, न ही रहने को अपना ख़ुद का घर.

धरती पर क्राइम तो रोज़ होते हैं, लेकिन पहली बार अंतरिक्ष में हुए क्राइम की खबर आई है

अंतरिक्ष में रहते क्राइम करने की बात चौंकाती है.

अरुण जेटली नहीं रहे, यूएई से पीएम मोदी ने कुछ यूं किया याद

गौतम गंभीर ने जेटली को पिता तुल्य बताया.