Submit your post

Follow Us

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कोरोना वैक्सीन पर ऐसा क्या कह दिया कि सफाई देनी पड़ी

कोरोना वैक्सीन की किल्लत के बीच केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने एक सुझाव दिया. देश में वैक्सीन का उत्पादन बढ़ाने का सुझाव. कई और कंपनियों को वैक्सीन उत्पादन के काम में लगाने का सुझाव. लेकिन इस पर विवाद हो गया. सोशल मीडिया पर लोग कहने लगे कि वो ये बात खुद अपनी सरकार से क्यों नहीं कहते. अरविंद केजरीवाल भी ऐसा सुझाव दे चुके हैं. इसके बाद गडकरी ने सफाई दी. कहा कि उन्हें नहीं पता था कि उनकी सरकार पहले ही इस पर काम शुरू कर चुकी है. इसके लिए टीम को बधाई कि वो सही दिशा में हैं.

क्या कहा था नितिन गडकरी ने?

परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने 18 मई मंगलवार को विभिन्न विश्वविद्यालयों के कुलपतियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की थी. इस दौरान गडकरी ने कहा कि कोरोना वैक्सीन का उत्पादन बढ़ाने के लिए कुछ और दवा कंपनियों को इसका लाइसेंस दिया जाना चाहिए. कोविड के इलाज में काम आ रही दवाओं की कमी पूरा करने के लिए दवा कंपनियों को मंजूरी देने के लिये कानून बनाया जाना चाहिये. उन्होंने कहा था-

‘‘यदि टीके की आपूर्ति के मुकाबले उसकी मांग अधिक होगी तो इससे समस्या खड़ी होगी. इसलिये एक कंपनी के बजाय 10 और कंपनियों को टीके का उत्पादन करने में लगाया जाना चाहिये. इसके लिये वैक्सीन का पेंटेंट रखने वाली कंपनी को दूसरी कंपनियों द्वारा रॉयल्टी का भुगतान किया जाना चाहिये. वैक्सीन वाली कंपनी एक के बजाए 10 लोगों को लाइसेंस दे.”

नितिन गडकरी ने ये भी कहा था कि हर राज्य में ऐसी लैब मौजूद हैं, जिनके पास क्षमता है. अगर उनसे वैक्सीन का फॉर्मूला शेयर किया जाए तो वैक्सीन का प्रोडक्शन बढ़ सकता है. अगर ऐसा होता है तो 15 दिनों में ही इसका असर भी दिखाई देने लगेगा. देश में सप्लाई पूरी करने के बाद वैक्सीन बचें तो एक्सपोर्ट भी की जा सकती है.

विवाद बढ़ा तो क्या सफाई दी

नितिन गडकरी का ये बयान वायरल हो गया. लोगों ने गडकरी को सुझाव देना शुरू कर दिया कि वो ये बात केंद्र में अपनी सरकार को क्यों नहीं बताते. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने तंज कसते हुए कहा कि क्या उनके बॉस ये सुन रहे हैं? इशारा पीएम मोदी की तरफ था. रमेश का कहना था कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने 8 अप्रैल को भी ऐसा ही सुझाव दिया था. विवाद बढ़ा तो 19 मई की दोपहर नितिन गडकरी के एक के बाद एक तीन ट्वीट आए. इसमें उन्होंने लिखा,

स्वदेशी जागरण मंच की ओर से आयोजित कॉन्फ्रेंस में मैंने कोविड वैक्सीन के लिए सजेशन दिया था. मुझे नहीं पता था कि रसायन व उर्वरक मंत्री मनसुख मांडविया ने सरकार को पहले ही वैक्सीन का प्रोडक्शन बढ़ाने के लिए सजेशन दे रखा है. इस कॉन्फ्रेंस के बाद उन्होंने मुझे फोन करके ये भी बताया कि भारत सरकार कोरोना वैक्सीन के उत्पादन के लिए 12 अलग-अलग कंपनियों और प्लांट्स के साथ संपर्क में है. मुझे नहीं पता था कि मंत्रालय मेरे सजेशन से पहले ही इस पर काम कर रहा है. मैं बहुत खुश हूं और टीम को बधाई देना चाहता हूं कि वो सही दिशा में हैं.

 

 

नितिन गडकरी का ट्वीट.
नितिन गडकरी का ट्वीट.

बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी ऐसा सुझाव कुछ समय पहले दे चुके हैं. उन्होंने केन्द्र से कहा था कि देश में अगर दूसरी कंपनियों को वैक्सीन बनाने का फॉर्मूला दिया जाए तो प्रोडक्शन बढ़ाया जा सकता है. इस तरह देश में कम समय में बड़े स्तर पर वैक्सीनेशन किया जा सकेगा.

हाल में सरकार ने पोलियो वैक्सीन बनाने वाली हैदराबाद की कंपनी बिबकोल को बुलंदशहर प्लांट में कोवैक्सीन के उत्पादन की मंजूरी दी है. ये हर महीने 2 करोड़ कोवैक्सीन बनाएगी. अभी तक देश में कोरोना की तीन वैक्सीन को ही मंजूरी मिली है. कोवैक्सीन, कोविशील्ड और स्पूतनिक-वी. कोवैक्सीन को भारत बायोटेक ने विकसित किया है. कोविशील्ड का उत्पादन पुणे का सीरम इंस्टिट्यूट कर रहा है. स्पूतनिक-वी को रूस से मंगवाया जा रहा है.


वीडियो: कोरोना का नया वैरिएंट पैदा न हो, वायरोलॉजिस्ट इसके लिए क्या करने को कह रहे?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

राकेश टिकैत ने भी मीडिया से बात की है.

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

कुरान को लेकर अफवाह उड़ी और बांग्लादेश के कई हिस्सों में सांप्रदायिक तनाव फैल गया.

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

जज ने दोनों पक्षों की दलीलें तो सुनी लेकिन अपना फैसला रिज़र्व रख दिया.

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

किसी ने लोन लेकर परिवार को नया घर दिया था तो कोई दिवंगत पिता के शोक में जाने वाला था.

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

पुलिस ने संदिग्ध आतंकी के पास से एके-47, हैंड ग्रेनेड और कई कारतूस मिलने का दावा किया है.

Urban Company की महिला 'पार्टनर्स' ने इसके खिलाफ मोर्चा क्यों खोल दिया है?

ये महिलाएं अर्बन कंपनी के लिए ब्यूटिशियन या स्पा वर्कर का काम करती हैं.

लखीमपुर केस में आशीष मिश्रा 12 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार

जांच में सहयोग नहीं करने का आरोप.

नवाब मलिक ने कहा-NCB ने 11 को हिरासत में लिया था फिर 3 को छोड़ क्यों दिया?

NCB की रेड को फर्जी बताया, ज़ोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े की कॉल डिटेल की जांच की मांग की

आशीष मिश्रा लखीमपुर में हैं या नहीं? पिता अजय मिश्रा और रिश्तेदारों के जवाबों ने सिर घुमा दिया

अजय मिश्रा कुछ और कह रहे, परिवारवाले कुछ और कह रहे.

RBI ने ऑनलाइन पैसा ट्रांसफर करने वालों को बड़ी खुशखबरी दी है

RBI की मॉनिटरी पॉलिसी कमिटी (MPC) की बैठक आज खत्म हो गई.