Submit your post

Follow Us

दिलीप कुमार के लिए नसीरुद्दीन शाह ने जो कहा, वो शायद उनके प्रशंसकों को अच्छा न लगे

दिलीप कुमार को गुज़रे काफी दिन हो गए. मगर उनके चाहने वालों की आंखें आज भी उदास हैं. दिलीप कुमार के जाने के बाद लोगों ने अपने-अपने विचार रखे. नसीरुद्दीन शाह ने भी दिलीप कुमार पर अपनी बात कही. नसीर ने अपने एक आर्टिकल में दिलीप कुमार के सिनेमा योगदान के साथ-साथ ये सवाल उठाया कि क्या दिलीप कुमार अनुकरण करने योग्य थे? या उन्होंने सिर्फ हिंदी सिनेमा में स्टार-सेंट्रिसिटी यानी जब कोई भी स्टार फिल्म से बड़ा हो जाता है, इस बात को बढ़ाने में मदद की. जैसा कि आज कल की हर फिल्मों में होता है.

इंडियन एक्सप्रेस के लिए लिखे इस आर्टिकल में नसीर ने लिखा कि किस तरह नसीरुद्दीन शाह का एक्सप्रेशन यानी उनके बात करने का ढंग, कट्टर आवाज़ और लगातार हाथ हिलाते रहना नॉर्म्स को फॉलो नहीं करते. नसीर ने लिखा,

उनकी (दिलीप कुमार) मनमोहक शांति और बेदाग शिष्टता ने भारतीय सिनेमा में अच्छी एक्टिंग के प्रतिमान स्थापित किए. उनकी एक्टिंग, हावभाव को उनके साथ काम करने वालों और उनके बाद आने वाले लोगों ने भी कम समझा. वैसे उनकी नकल करने की कोशिश भी कई लोगों ने की.

नसीरुद्दीन शाह ने अपने इस आर्टिकल में ये भी लिखा कि उनके हिसाब से जिस जगह पर दिलीप कुमार थे, वहां वो एक्टिंग के साथ-साथ कुछ सोशल कॉज़ेस में ही इन्वॉल्व्ड रहे. इसके अलावा और कुछ भी नहीं किया.

ऑटोबायोग्राफी पर बोले नसीर

दिलीप कुमार की ऑटोबॉयोग्राफी भी लिखी गई. जिस पर भी नसीरूद्दीन शाह ने टिप्पणी की. नसीर ने दिलीप कुमार की ऑटोबायोग्राफी को उनके पुराने इंटरव्यूज़ का कलेक्शन बता दिया. उन्होंने लिखा,

उन्होंने कभी अपने एक्सपीरिएंस का लाभ नहीं दिया, किसी को भी तैयार करने की ज़हमत नहीं उठायी और 1970 के दशक से पहले के अपने कामों के अलावा भविष्य के एक्टर्स के लिए कोई ज़रूरी सबक नहीं छोड़ा.

ये हैरान करने वाली बात है कि उनके जैसा व्यक्ति जो इतिहास में अपनी जगह को लेकर बेहद सचेत था, उसने कभी अपनी और महान फिल्मकारों की बातों को रिकॉर्ड करने की इच्छा नहीं जताई. या फिर उन्होंने कभी अपने काम और एक्टिंग की तकनीक के बारे में खुलकर चर्चा नहीं की. काश वो कभी खुलकर ये बता पाते कि इतनी बड़ी संख्या में समर्पित प्रशंसकों के प्यार को हासिल कर पाना कितना मुश्किल होता है.

नसीरुद्दीन शाह ने अपने इस आर्टिकल में दिलीप कुमार को भारत का सबसे फाइनेस्ट एक्टर बताया. दोनों ने साथ में साल 1986 में आई फिल्म ‘कर्मा’ में काम किया था. कहा कि किसी फिल्म में दिलीप कुमार का होना उस फिल्म को ऊंचा उठा सकता था. लेकिन सभी स्टारडम के बावजूद उन्होंने हर बार सेफ प्ले करना ही चुना.


वीडियो: दी सिनेमा शो: कामाख्या देवी पहुंची सारा को लोगों ने ट्रोल कर दिया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने पीएम मोदी के लिए क्या कहा?