Submit your post

Follow Us

मोहम्मद अज़ीज़ नहीं रहे, करोड़ों लोगों को उनके जाने से अफसोस होगा

जाने माने बॉलीवुड प्लेबैक सिंगर मोहम्मद अज़ीज़ नहीं रहे. मंगलवार शाम दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हो गया. वे एक शो करने के लिए पिछली रात कोलकाता गए हुए थे. आज शाम 4 बजे के करीब वे मुंबई पहुंचे. एयरपोर्ट से घर जाते हुए उन्हें बेचैनी होने लगी. उनके ड्राइवर उनको अस्पताल लेकर गए. डॉक्टर ने उनको मृत घोषित कर दिया. उन्होंने बहुत सारे सुपरहिट गाने गाए थे.

उनका प्यार का नाम मुन्ना था. पश्चिम बंगाल में जन्मे और पले-बढ़े.

बचपन से ही उन्होंने गाना शुरू कर दिया था. अपना सपना पूरा करने वे 1984 में बंबई आए थे. उनकी पहली फिल्म (अंबर) भी उसी साल रिलीज हुई.

mohammad aziz image

उन्हें बड़ा ब्रेक तब मिला जब अन्नू मलिक ने अमिताभ बच्चन स्टारर फिल्म ‘मर्द’ में ‘मर्द तांगेवाला’ गाना उनको दिया. ये बहुत हिट हुआ. उसके बाद उन्हें पीछे मुड़कर नहीं देखना पड़ा. उन्होंने हर सफल कंपोजर के लिए गाया. लक्ष्मीकांत प्यारेलाल ने भी उनको अपनी कई फिल्मों में मौका दिया.

जब लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल की जोड़ी का उतार आया तो उनका करियर भी उतर गया और तब म्यूजिक डायरेक्टर लोग उदित नारायण और कुमार सानू जैसे नए गायकों को ज्यादा लेने लगे.

वे मोहम्मद रफी के गानों के बहुत बड़े फैन थे. वे उनको अपना गुरु मानते थे. हालांकि अज़ीज़ ने रफी से कोई ट्रेनिंग नहीं ली थी लेकिन सुन सुन कर सीखा. और करियर में एक समय ऐसा भी आया था जब लोग उनको मोहम्मद रफी का उत्तराधिकारी कहने लगे थे. एक बार अज़ीज़ ने कहा था कि “मुझे लगता है कि अगर कोई मोहम्मद रफी का 5 परसेंट भी गाने के लायक हो जाता है तो उसे देश का बेस्ट सिंगर माना जा सकता है.”

रफी उनकी कितनी बड़ी प्रेरणा थे इसे लेकर अज़ीज़ ने कहा था, “उन्होंने मुझे इस हद तक प्रेरित किया था कि मैं अपनी पूरी आत्मा लगाकर उन्हें आत्मसात कर सकता हूं. हालांकि मैंने अपनी फॉर्मल ट्रेनिंग एक टीचर से ली है लेकिन मैं रफी साहब को अपना गुरु मानता हूं. मैंने आज कई भाषाओं में और दुनिया भर में परफॉर्म किया है और मैं अपनी इस सक्सेस का श्रेय उनको देता हूं.” मोहम्मद अज़ीज़ ने कहा कि फिल्म इंडस्ट्री में ये अफवाह हुआ करती थी कि मैं रफी साहब का शिष्य था और उनकी विरासत को आगे बढ़ा रहा हूं.

एक बार रफी साहब ने मोहम्मद अज़ीज़ के गाने सुने भी थे. तब रफी ने कहा था – “अरे ये तो मेरे जैसा गाता है.”

माना जाता है कि अलग-अलग भाषाओं में मोहम्मद अज़ीज़ ने करीब 20,000 से ज्यादा गाने गाए थे. इनमें से ‘आप के आ जा ने से’, ‘इमली का बूटा बेरी का पेड़’, ‘काग़ज कलम दवात ला’, ‘दिल दिया है जां भी देंगे ऐ वतन तेरे लिए’, ‘मेरे दो अनमोल रतन’, ‘माई नेम इज़ लखन’, ‘तुझे रब ने बनाया होगा’ जैसे कई गाने हमें याद हैं.

मोहम्मद अज़ीज़ को अलविदा.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

महाराष्ट्र में ब्लैक फंगस से 8 कोरोना मरीजों की मौत, 200 का चल रहा इलाज

महाराष्ट्र में ब्लैक फंगस से 8 कोरोना मरीजों की मौत, 200 का चल रहा इलाज

कोविड-19 से बचे लेकिन ब्लैक फंगस ने जान ले ली.

गुजरात के कच्छ में मुस्लिम धर्मगुरु के जनाजे में उमड़ी भीड़

गुजरात के कच्छ में मुस्लिम धर्मगुरु के जनाजे में उमड़ी भीड़

कोरोना गाइडलाइंस की धज्जियां उड़ीं.

कोरोना मरीजों को अस्पताल में भर्ती करने के नियमों में क्या बड़ा बदलाव हुआ है?

कोरोना मरीजों को अस्पताल में भर्ती करने के नियमों में क्या बड़ा बदलाव हुआ है?

स्वास्थ्य मंत्रालय ने नए दिशा-निर्देश जारी किए हैं.

मदरसे में क्लीनिक चला रहा था फर्जी डॉक्टर, छापेमारी के लिए गई टीम को बंधक बनाने की कोशिश

मदरसे में क्लीनिक चला रहा था फर्जी डॉक्टर, छापेमारी के लिए गई टीम को बंधक बनाने की कोशिश

मामला मध्य प्रदेश के आगर मालवा का है.

कोरोना: ऑक्सीजन और दवाइयों की सप्लाई को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने टास्क फोर्स बनाया

कोरोना: ऑक्सीजन और दवाइयों की सप्लाई को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने टास्क फोर्स बनाया

इनमें 10 देश के जाने-माने डॉक्टर और दो सेक्रेटरी लेवल के अधिकारी हैं.

पंजाब: नहर में बहते मिले 600 से ज्यादा रेमडेसिवीर इजेक्‍शन

पंजाब: नहर में बहते मिले 600 से ज्यादा रेमडेसिवीर इजेक्‍शन

डिब्‍बे पर लिखा था 'सरकारी आपूर्ति' के लिए.

कोरोना के इलाज में एक और दवा के इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी

कोरोना के इलाज में एक और दवा के इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी

DRDO ने तैयार किया है.

कोविड-19: सरकार जो दवा बांट रही है, उसके बारे में अलग ही दावा किया जा रहा है!

कोविड-19: सरकार जो दवा बांट रही है, उसके बारे में अलग ही दावा किया जा रहा है!

कोविड के एसिंप्टोमेटिक या हल्के इंफेक्शन वालों को आयुष-64 दिया जा रहा है.

BJP के विधायक ने किया गोमूत्र से कोरोना ठीक होने का फर्जी दावा

BJP के विधायक ने किया गोमूत्र से कोरोना ठीक होने का फर्जी दावा

आप इस चक्कर में मत पड़िए

चीन की वैक्सीन को WHO का अप्रूवल, जानिए कितनी कारगर है?

चीन की वैक्सीन को WHO का अप्रूवल, जानिए कितनी कारगर है?

45 देशों में ऑलरेडी इस्तेमाल हो रही है ये वैक्सीन.