Submit your post

Follow Us

हैदराबाद में पोस्टिंग का इंतज़ार कर रहे थे शहीद कर्नल बी संतोष

15 जून की रात लद्दाख की गलवान घाटी में चीन और भारत के सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हुई. 16 जून की सुबह इंडियन आर्मी के एक कर्नल और दो जवानों के शहीद होने की खबर आई. रात तक पता चला कि तीन नहीं बल्कि 20 जवान शहीद हुए हैं. ये संख्या अभी और बढ़ सकती है. इन जवानों में कर्नल बी. संतोष बाबू भी शामिल थे. पैदाइश तेलंगाना के सूर्यापेट ज़िले की है. माता-पिता अभी भी यहीं रहते हैं. वहीं कर्नल की पत्नी और दो बच्चे दिल्ली में रहते हैं. उनकी बेटी नौ साल की है और बेटा चार साल का.

शहीद कर्नल संतोष बाबू के पिता बी उपेंद्र ने ‘इंडिया टुडे’ से बात की. उन्होंने कहा,

‘वो केवल 37 साल का था. उसका भविष्य आगे और भी उज्जवल होने वाला था. एक पिता के तौर पर मैं दुखी हूं, लेकिन एक नागरिक के तौर पर मुझे अपने बेटे पर गर्व है. उसे कम ही समय में बहुत सारे अवॉर्ड मिले थे. कई जगह उसकी पोस्टिंग हुई थी. उसने हमेशा ही फील्ड पर तैनाती ली थी.’

Santosh Babu 3
कर्नल के माता-पिता. दोनों बेहद दुखी हैं, लेकिन बेटे की शहादत पर गर्व है. (फोटो- PTI)

कर्नल संतोष की मां कहती हैं,

‘दुखी हूं कि मैंने मेरा बेटा खो दिया, लेकिन साथ ही साथ मुझे गर्व भी महसूस हो रहा है, क्योंकि मेरे बेटे ने देश के लिए अपना बलिदान दिया है.’

Santosh Babu 1
कर्नल संतोष बाबू 37 बरस के थे. (फोटो- आशीष पांडे)

शहीद कर्नल की मां ने बताया कि 16 जून को दोपहर 2 बजे उनकी बहू का फोन आया था. तभी उन्हें कर्नल की शहादत के बारे में पता चला. कर्नल संतोष के पिता बैंक में काम करते थे, अब रिटायर हो चुके हैं. वहीं मां होम मेकर हैं. ‘इंडिया टुडे’ से जुड़े आशीष पांडे ने बताया कि कर्नल ने पांचवीं तक की पढ़ाई सूर्यापेट से की. उसके बाद 12वीं तक की पढ़ाई कोरकुंडा सैनिक स्कूल से की.

Santosh Babu 2
कर्नल बी संतोष तेलंगाना के सूर्यापेट ज़िले के रहने वाले थे. (फोटो- आशीष पांडे)

कॉलेज की पढ़ाई पुणे से की. उसके बाद देहरादून इंडियन मिलिट्री एकेडमी (IMA) में दाखिला लिया. पहली पोस्टिंग जम्मू-कश्मीर में हुई. वो 16 बिहार रेजिमेंट का हिस्सा थे. हैदराबाद में ट्रांसफर चाहते थे, और इसी का इंतज़ार कर रहे थे. 17 जून को शहीद कर्नल को सूर्यापेट में ही अंतिम विदाई दी जाएगी.


वीडियो देखें: भारत और चीन के सैनिकों के बीच हिंसक झड़प में तीन नहीं, बल्कि 20 जवान शहीद हुए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

उत्तर प्रदेश में एक IPS अधिकारी के ट्रांसफर पर क्यों तहलका मचा हुआ है?

69000 भर्ती में कार्रवाई का नतीजा ट्रांसफर बता रहे लोग. मगर बात कुछ और भी है.

गलवान घाटी: LAC पर भारत के तीन नहीं, 20 जवान शहीद हुए हैं, कई चीनी सैनिक भी मारे गए

लड़ाई में हमारे एक के मुकाबले तीन थे चीनी सैनिक.

गलवान घाटीः वो जगह जहां भारत-चीन के बीच झड़प हुई

पिछले कुछ समय से यहां पर दोनों देशों की सेनाएं आमने-सामने हैं.

लद्दाख: गलवान घाटी में भारत-चीन झड़प पर विपक्ष के नेता क्या बोले?

सेना के एक अधिकारी समेत तीन जवान शहीद हुए हैं.

क्या परवीन बाबी की राह पर चल पड़े थे सुशांत?

मुकेश भट्ट ने एक इंटरव्यू में कहा.

सुशांत के पिता और उनके विधायक भाई ने डिप्रेशन को लेकर क्या कहा?

फाइनेंशियल दिक्कत की ख़बरों पर भी बोले.

मुंबई में सुशांत सिंह राजपूत को दी गई अंतिम विदाई, ये हस्तियां हुईं शामिल

मुंबई में तेज बारिश के बीच अंतिम संस्कार.

सुशांत ने किस दोस्त को आख़िरी कॉल किया था?

दोस्त फोन रिसीव न कर सका. जब तक कॉल बैक किया, देर हो चुकी थी.

सुशांत के साथ काम कर चुके मनोज बाजपेयी, राजकुमार राव और अनुष्का शर्मा ने क्या कहा?

सुशांत ने 11 फिल्मों में काम किया था.

सुशांत के सुसाइड से जुड़ी शुरुआती डिटेल्स आ गई हैं, सुबह 10 बजे तक सब ठीक था

किसे कॉल किया था? घर में कितने लोग थे? वगैरह.