Submit your post

Follow Us

फरीदाबाद में बीच सड़क युवक को हथौड़े-रॉड से पीट रहे थे, बचाने पहुंचे आदमी की हो रही तारीफ

सोशल मीडिया पर दिल्ली से सटे फरीदाबाद का एक वीडियो वायरल (Viral Video) हो रहा है, जिसमें तीन लोग एक युवक को लोहे की रॉड और हथौड़े से बुरी तरह पीटते नजर आ रहे हैं. युवक बार-बार छोड़ने की गुहार लगा रहा है, लेकिन उसे पीट रहे लोगों को उस पर कोई रहम नहीं आता. इसी दौरान वहां से गुजर रहा एक व्यक्ति, इस युवक को बचाने का प्रयास करता है. वह हथौड़ा चलाने वाले को पीछे से पकड़ने की कोशिश करता है, जिसके बाद पीटने वाले उसे धक्का दे देते हैं और उस पर तमंचा तान देते हैं. युवक को बचाने का प्रयास करने वाले इस व्यक्ति की अब सोशल मीडिया पर जमकर तारीफ़ हो रही है.

क्या था पूरा मामला?

आइये अब आपको बताते हैं कि ये पूरा मामला क्या था. आज तक से जुड़े के सचिन गौड़ की रिपोर्ट के मुताबिक यह घटना सोमावर, 6 दिसंबर की है. जिस व्यक्ति की पिटाई हो रही है, उसका नाम मनीष है और वह हरियाणा के गांव फतेहपुर चंदीला का रहने वाला है. सोमवार को मनीष किसी काम से फरीदाबाद के बढ़खल झील चौक गया था. यहां उसे तीन लोगों ने घेर लिया और बीच सड़क पर उसके साथ मारपीट शुरू कर दी. उन्होंने लोहे की रॉड और हथौड़े से ताबड़तोड़ वार कर मनीष के हाथ-पैर तोड़ दिए. इसके बाद हवाई फायर करते हुए सभी तीनों आरोपित वहां से फरार हो गए. पुलिस के अनुसार ललित, प्रदीप और सचिन पर पिटाई का आरोप है, ये तीनों भी फतेहपुर चंदीला के ही रहने वाले हैं.

दो गिरफ्तार, एक फरार

इस मामले को लेकर डीएसपी नीतीश अग्रवाल ने एक मीडिया को जानकारी देते हुए बताया,

“सोमवार सुबह करीब 10 बजे सेक्टर-21 डी इलाके में कार में सवार तीन बदमाशों ने एक युवक को हथौड़े और रॉड से पीटा और उसके पैर तोड़ दिए. हवाई फायर कर आरोपी भाग रहे थे. लेकिन सब इंस्पेक्टर बिजेन्द्र और उनकी टीम ने दो आरोपी ललित और प्रदीप को दबोच लिया है. तीसरे आरोपी सचिन की तलाश जारी है. तीनों के खिलाफ पुलिस ने हत्या के प्रयास और अवैध हथियार से फायरिंग करने जैसी संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है. पीड़ित व्यक्ति का फोर्टिस हॉस्पिटल में इलाज कराया जा रहा है.”

डीएसपी नीतीश अग्रवाल ने आगे बताया,

“साल 2020 में पीड़ित मनीष ने आरोपी प्रदीप के भाई योगेश के साथ मारपीट की थी. मनीष के खिलाफ इस घटना की शिकायत एनआईटी थाने में भी दर्ज है. इसी रंजिश के चलते, बदले की भावना से आरोपियों ने पीड़ित व्यक्ति पर हमला किया.”


वीडियो: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एक दारोगा की कुछ लोगों ने सरेआम पिटाई कर दी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

जानिए CDS बिपिन रावत के साथ हेलिकॉप्टर में कौन-कौन सवार था?

जानिए CDS बिपिन रावत के साथ हेलिकॉप्टर में कौन-कौन सवार था?

क्रैश हुए हेलिकॉप्टर में कुल 14 लोग मौजूद थे

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

बेंगलुरु में 46 साल के एक डॉक्टर कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन से संक्रमित पाए गए हैं.

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'