Submit your post

Follow Us

अपने भाषण में नरेंद्र मोदी ने अगले लॉकडाउन के बारे में ये हिंट दे दिया है

PM नरेंद्र मोदी ने आज यानी 12 मई को देश के नाम सम्बोधन दिया. भाषण चला लगभग 34 मिनट. क्या कहा? काम की बात बता देते हैं.

अपने भाषण शुरुआत में कोरोना के आकड़ों की बात की. मृतकों को सांत्वना दी. कहा कि 21वीं सदी के बारे में सुनते आ रहे थे कि ये सदी भारत की होगी. लेकिन इसका मार्ग क्या होगा? मार्ग है आत्मनिर्भर भारत. यहां पर PM मोदी ने शास्त्रों का भी हवाला दिया.

नरेंद्र मोदी ने विशेष आर्थिक पैकेज की घोषणा की. नाम दिया ‘आत्मनिर्भर भारत अभियान’. कहा कि ये पैकेज आत्मनिर्भर भारत के महत्त्वपूर्ण अध्याय की तरह काम करेगा. कहा कि RBI और सरकार के सारे पैकेजों को मिला दें तो 20 लाख करोड़ रुपए का आर्थिक पैकेज बनता है. जो भारत की GDP का तक़रीबन 10 प्रतिशत है. ये आर्थिक पैकेज सभी पहलुओं को ध्यान में रखकर दिया गया है. इसमें कुटीर उद्योग, घरेलू उद्योग और MSME ईकाईयों के लिए है. जिससे करोड़ों लोग जुड़े हैं.

कल से लेकर आगे आने वाले कुछ दिनों तक वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण इस आर्थिक पैकेज की जानकारी देंगी. बहुत सारे रेफ़ॉर्म किए जायेंगे. लेकिन सबकी जानकारी निर्मला सीतारमण देंगी.

नरेंद्र मोदी ने कहा कि लॉकडाउन का चौथा चरण आएगा. नए रंगरूप में होगा. नए नियम आएँगे. 18 मई से पहले इसकी जानकारी दी जाएगी. कहा कि कोरोना से लड़ेंगे और आगे भी बढ़ेंगे.

और क्या बताया?

PPE किट और N95 मास्क नहीं बनते थे. लेकिन अब बन रहे हैं. रोज़ाना 2 लाख. भारत ने आपदा को अवसर में बदल दिया. हम आत्मनिर्भर बने हैं. आत्मनिर्भरता की परिभाषा बदल रही है. आत्मनिर्भर भारत के लिए पांच स्तम्भों की चर्चा की. ये पांच स्तम्भ हैं – इकॉनमी, इंफ़्रास्ट्रक्चर, हमारा सिस्टम, हमारी डेमोग्राफ़ी और डिमांड.


कोरोना ट्रैकर :

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

एबी डीविलियर्स ने इस इंडियन को बताया विराट कोहली से बेहतर!

स्मिथ और विराट में एबी इसे मानते हैं बेहतर.

यूपी के 16 लाख सरकारी कर्मचारियों को मोटा नुकसान हो गया है

नुकसान से कर्मचारी नाराज बताए जाते हैं.

इरफ़ान के लिए महाराष्ट्र के ये गांव वाले अपनी जगह का नाम क्यों बदल रहे हैं?

बात महाराष्ट्र के एक हिल स्टेशन से जुड़ी हुई है.

टिकट कराकर ट्रेन पकड़नी है तो ये नियम क़ानून पढ़ लीजिए, बहुत काम आएगा

खाने-पानी और चादर के बारे में क्या कहा गया है?

लॉकडाउन में 308 KMPH की रफ्तार से उड़ा रहा था पापा की कार, फिर पुलिस ने अपना काम कर दिया

स्पीड इतनी थी कि घंटेभर में दिल्ली से शिमला पहुंच जाएं

धोनी को गुस्सा आता है या नहीं, गौतम गंभीर और इरफान पठान ने सारे किस्से सुना दिए

गंभीर ने ये किस मैच की बात कर दी?

नार्थ MCD के अस्पतालों में काम कर रहे डॉक्टरों को दो महीने से सैलरी नहीं मिली है

MCD और दिल्ली सरकार के बीच रार जारी है.

उद्धव ठाकरे के पास कितना पैसा है और कितना उधार, पता चल गया है

विधान परिषद चुनाव के लिए हलफनामे में उद्धव ने संपत्ति की जानकारी दी है.

BJP सांसद बोले- कोरोना फैलाने वाले जमात के लोगों से आतंकियों की तरह निपटना चाहिए

मुज़फ्फरपुर सांसद अजय निषाद ने भारत सरकार से कारवाई की मांग की है.

'क्राइम पेट्रोल' के एक्टर और 'बाग़बान' के स्क्रीनराइटर की कैंसर से मौत हो गई

इलाज के लिए पैसे भी मुश्किल से जुटाने पड़े.