Submit your post

Follow Us

किन-किन देशों ने भारत से जाने वाली फ्लाइट्स पर बैन लगा दिया!

कोरोना की सेकेंड वेव में बढ़ते मामलों के चलते फिर हालात पिछले साल की तरह होते जा रहे हैं. जहां एक तरफ प्रदेश अपने हिसाब से आने-जाने और घर से बाहर निकलने पर प्रतिबंध लगा रहे हैं, वहीं विदेशी उड़ानों पर भी रोक लगने लगी है. और कुछ देश भारत से आने वाली फ्लाइट्स पर भी पाबंदी लगा रहे हैं. ताजा मामला हांगकांग का है. हांगकांग ने भारत से उड़ने वाली फ्लाइटों पर 20 अप्रैल यानी मंगलवार से 3 मई तक के लिए प्रतिबंध लगा दिया है. माना जा रहा है कि हांगकांग ने यह फैसला कोरोना के भारतीय स्ट्रेन के विदेशों में बढ़ते मामलों को देखते हुए लिया है.

भारत के साथ पाकिस्तान और फिलिपींस की फ्लाइट्स भी रोकीं

हांगकांग ने भारत ही नहीं पड़ोसी देश पाकिस्तान और फिलिपींस से आने वाली फ्लाइट्स पर भी रोक लगा दी है. दरअसल, इसी महीने हांगकांग के लिए गई फ्लाइटों में 50 यात्री कोरोना पॉजिटिव पाये गये थे. इसके बाद हांगकांग ने यह बड़ा फैसला लिया है. हांगकांग में कोरोना वायरस संक्रमण रोकने के लिए बनाए नियम के मुताबिक हांगकांग जाने वाले सभी पैसेंजर को पहुंचने के 72 घंटे के अंदर आरटी-पीसीआर जांच कराकर कोरोना वायरस निगेटिव सर्टिफिकेट दिखाना जरूरी है.

इससे पहले रविवार को हांगकांग की सरकार ने मुंबई से हांगकांग जाने वाली विस्तारा एयरलाइंस की फ्लाइट्स पर 2 मई तक रोक लगा दी. यह फैसला तब आया जब विस्तारा की रविवार को हांगकांग पहुंची एक फ्लाइट में 3 लोग कोविड पॉजिटिव मिले.

4 अप्रैल से रविवार तक विस्तारा की दिल्ली-हांगकांग फ्लाइट के कुल 47 पैसेंजर कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. इससे पहले भी दिल्ली-हांगकांग रूट की फ्लाइट को 6 से 19 अप्रैल तक के लिए रोक दिया गया था.

न्यूजीलैंड ने भी रोकी भारत से फ्लाइट 

इससे पहले कोरोना महामारी के कारण न्यूजीलैंड ने भी भारत से आने वाली उड़ानों पर रोक लगा दी थी. न्यूजीलैंड ने यह रोक 11 अप्रैल 2021 से 28 अप्रैल 2021 के बीच की अवधि के लिए लगाई है. इसके बाद आगे के लिए भारत से आने वाली उड़ानों पर प्रतिबंध जारी रहेगा या नही – इस पर आनेवाले समय में न्यूजीलैंड की सरकार निर्णय लेगी. लेकिन न्यूजीलैंड के इस प्रतिबंध में एक खास बात भी है. वहां की सरकार ने साफ किया है कि भारत से उसके अपने देश यानी न्यूजीलैंड के नागरिकों के भी स्वदेश लौटने पर प्रतिबंध होगा.

आपको बताते चलें कि न्यूजीलैंड में साफ-सफाई (personal hygiene) को बहुत महत्व दिया जाता है. 2 दशक पहले वहां 2 भारतीय क्रिकेटरों – हरभजन सिंह और वीरेन्द्र सहवाग – पर इसलिए जुर्माना लगा दिया गया था क्योंकि इन क्रिकेटरों के जूतों से बदबू आ रही थी. तब कहा गया था कि इस प्रकार के बदबूदार जूतों से न्यूजीलैंड में हानिकारक बैक्टीरिया फैल सकता है.

 सउदी अरब ने भी भारतीय उड़ानें रोकी 

सउदी अरब ने तीन फरवरी को भारत समेत 20 देशों से आने वाले लोगों पर बैन लगा दिया था. सऊदी अरब ने कहा कि ये बैन इसलिए लगाया गया है, ताकि कोरोना से ठीक तरह से निपटा जा सके. हालांकि, इस फैसले का ऐलान करते हुए इस बात की जानकारी नहीं दी गई कि ये बैन कब तक लागू रहेगा. ऐसे में अभी भारत से सऊदी अरब जाने वाली उड़ानें भी बंद हैं.

हालांकि कुछ देशों के साथ भारत ने एयर बबल समझौता कर रखा है और वहां से आवाजाही में फिलहाल कोई दिक्कत नहीं है.

एयर बबल समझौते के तहत भारत ने विदेशों में फंसे अपने लोगों की सकुशल स्वदेश वापसी सुनिश्चित कराई है और विदेशियों को भी उनके देश वापस भेजा है. (फ़ोटो क्रेडिट : इंडिया टुडे)
एयर बबल समझौते के तहत भारत ने विदेशों में फंसे अपने लोगों की सकुशल स्वदेश वापसी सुनिश्चित कराई है और विदेशियों को भी उनके देश वापस भेजा है. (फ़ोटो क्रेडिट : इंडिया टुडे)

एयर बबल समझौता क्या है?

एयर बबल समझौता एक द्विपक्षीय हवाई यात्रा समझौता है. इस समझौते के तहत कोरोना काल में अलग-अलग देशों द्वारा लगाए गए यात्रा प्रतिबंधों के बीच लोगों को अपने देश वापस लाने में आसानी होती है. इस समझौते के प्रावधानों का पालन करते हुए अबतक कई देशों में फंसे भारतीयों को वापस लाया जा चुका है. साथ ही भारत में फंसे विदेशी नागरिकों को भी उनके देश भेजा जा चुका है.

भारत सरकार ने ओमान, संयुक्त अरब अमीरात, अफगानिस्तान, बांग्लादेश, भूटान, बहरीन, कनाडा, इथियोपिया, फ्रांस, जर्मनी, इराक, जापान, केन्या, कुवैत, मालदीव नेपाल, नीदरलैंड, नाइजीरिया, ओमान, कतर, रूस, रवांडा, सेशेल्स, श्रीलंका, तंजानिया, ब्रिटेन, यूक्रेन, अमेरिका और उज्बेकिस्तान के साथ एयर बबल समझौता किया है. इस समझौते के तहत भारतीय नागरिक इस कोरोना काल में इन देशों की यात्रा कर सकते हैं.


विडियो : दिल्ली में लॉकडाउन से पहले शराब के ठेकों के आगे लगी लाइन!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने पीएम मोदी के लिए क्या कहा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

उपचुनाव के नतीजे एक जगह पर.

जेल से बाहर आए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, मन्नत के लिए रवाना

जेल से बाहर आए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, मन्नत के लिए रवाना

3 अक्टूबर को आर्यन खान को गिरफ्तार किया गया था.

वरुण गांधी ने कहा- UP में किसानों का फसल जलाना सरकार के लिए शर्म की बात, जेल कराऊंगा

वरुण गांधी ने कहा- UP में किसानों का फसल जलाना सरकार के लिए शर्म की बात, जेल कराऊंगा

किसानों के बहाने फिर बीजेपी पर निशाना साध रहे वरुण गांधी?

कन्नड़ सुपरस्टार पुनीत राजकुमार की सिर्फ 46 की उम्र में डेथ!

कन्नड़ सुपरस्टार पुनीत राजकुमार की सिर्फ 46 की उम्र में डेथ!

ट्विटर पर फिल्म इंडस्ट्री ने पुनीत को किया भारी मन से याद.