Submit your post

Follow Us

विश्वकप में सबसे तेज़ शतक का World Record बनाने वाले ने लिया संन्यास

आयरलैंड के ऑल-राउंडर केविन ओ ब्रायन ने वनडे क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया है. आयरलैंड क्रिकेट ने एक रिलीज़ जारी कर इसका ऐलान किया. केविन ओ ब्रायन ने वनडे क्रिकेट से संन्यास इसलिए लिया है जिससे की वो टेस्ट क्रिकेट और टी20 क्रिकेट के लिए खुद को फिट रख सकें.

केविन ओ ब्रायन ने रिलीज़ में कहा,

”आयरलैंड के लिए 15 साल खेलने के बाद मुझे लगता है कि वनडे क्रिकेट से संन्यास लेने का ये सही समय है. ये मेरे लिए सम्मान की बात है कि मैंने अपने देश का 153 बार प्रतिनिधित्व किया है. और जिससे मुझे ऐसी यादें मिलीं जो ताउम्र मेरे साथ रहेंगी.”

ब्रायन ने आगे टी20 क्रिकेट पर भी बात की. उन्होंने कहा,

”इस टीम के साथ 2006 से मैंने कई बेहतरीन पल जिए हैं. तीन विश्वकप, व्यक्तिगत सफलताएं और दुनिया भर की यात्रा करने और खेलने में समय बिताना, लेकिन अब मैं अपना पूरा ध्यान T20 क्रिकेट पर लगाउंगा. अगले 18 महीनों में दो विश्व कप के साथ – और टेस्ट क्रिकेट में अपने तीन कैप जोड़ने की उम्मीद है.”

वनडे क्रिकेट से संन्यास लेते वक्त केविन आयरलैंड के तीसरे अधिक वनडे रन बनाने वाले बल्लेबाज़ हैं. उनके नाम 153 मैचों में 29.41 की औसत और 88.72 के स्ट्राइक रेट से 3618 रन हैं. उन्होंने 114 विकेट और 68 कैच भी लिए. जो कि आयरलैंड के लिए सबसे अधिक विकेट लेने वाले और कैच लेने वाले खिलाड़ी भी हैं.

केविन के जीवन का सबसे बड़ा मैच:

केविन ओ’ब्रायन. नाम सुनते ही 2 मार्च 2011 की तारीख और बेंगलुरु का चिन्नास्वामी स्टेडियम याद आ जाता है. वो मैदान जहां इतिहास लिखा गया. जहां न सिर्फ वर्ल्ड कप की सबसे तेज़ सेंचुरी लगी बल्कि एक असाधारण मैच भी देखने को मिला. एक कमज़ोर समझे जाने वाली टीम ने हारे हुए मैच का तख्ता पलटते हुए जीत हासिल की. एक बड़ी टीम को रौंद देने वाले अंदाज़ में हराया. ये सब मुमकिन हुआ उस आदमी की वजह से जिसका नाम आप पहली लाइन में पढ़ आए हैं.

उस दिन के बाद केविन ओ’ब्रायन का नाम कोई क्रिकेट प्रेमी नहीं भूला. वो मैच ही ऐसा था.

चारों तरफ शॉट खेले केविन ओ ब्रायन ने. File Photo
चारों तरफ शॉट खेले केविन ओ ब्रायन ने. File Photo

क्या हुआ था मैच में?

इंग्लैंड ने टॉस जीता और पहले बैटिंग करना चुना. पीटरसन, ट्रॉट और बेल ने क्रमशः 59, 92, 81 रन मारे और स्कोर बोर्ड पर 327 रन टांग दिए. ये बड़ा स्कोर था.

हार तय सी हो गई थी आयरलैंड की

आयरलैंड की टीम जवाब देने उतरी और जैसा कि कमज़ोर टीमों के साथ अमूमन होता है, हार वाले ट्रैक पर चली गई. 25वे ओवर में 111 रन पर टॉप के पांच बल्लेबाज़ पवेलियन लौट चुके थे. अगली 154 गेंदों में 217 रन बनने थे और सिर्फ पांच विकेट हाथ में थे. उनमें से भी तीन विशुद्ध गेंदबाज़ थे. आयरलैंड की हार निश्चित दिखाई दे रही थी. और फिर….

फिर इतिहास लिखना शुरू हो गया.

मोर्चा संभाला केविन ओ’ब्रायन ने. बैट को तलवार की तरह इस्तेमाल करना शुरू कर दिया. ये वही खेल था जो इंसान तब खेलता है, जब उसके पास खोने के लिए कुछ नहीं होता. मैच लगभग हारा जा चुका था. ‘कुछ नहीं तो एंटरटेनमेंट ही सही’ की तर्ज पर शुरू की गई हिटिंग ने आख़िरकार मैच ही जितवा दिया. केविन ने उस दिन धुआंधार बैटिंग की. वर्ल्ड कप की सबसे तेज़ सेंचुरी का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया. सिर्फ 50 गेंदों में सेंचुरी मार दी. 13 चौके और 6 छक्को समेत. उनका साथ पहले एलेक्स कुसैक और बाद में जॉन मूनी ने दिया. जब तक केविन ओ’ब्रायन 63 गेंद में 113 रन मारकर आउट हुए, मैच इंग्लैंड से छीना जा चुका था. आयरलैंड को जीत के लिए 11 गेंदों में 11 रन चाहिए थे जो उसने हंसते-खेलते बना लिए. पांच गेंदें बचाकर जीत हासिल कर ली.

केविन ओ ब्रायन की 2011 विश्वकप की File Photo.
केविन ओ ब्रायन की 2011 विश्वकप की File Photo.

आयरलैंड टीम के ड्रेसिंग रूम में और मुल्क में भी ख़ुशी का विस्फोट हो गया. ये जीत आयरलैंड के स्पोर्ट्स इतिहास में एक मील का पत्थर मानी गई. खिलाड़ियों पर तारीफों की बौछार हो गई. सबसे ज़्यादा तारीफ़ – ज़ाहिर है – केविन ओ’ब्रायन के हिस्से आई. वो रातोंरात आयरलैंड के पोस्टर बॉय बन गए.


WTC फाइनल में अश्विन और जडेजा पर सचिन ने दिल की बात कह दी 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

चिराग पासवान के चचेरे भाई सांसद प्रिंस राज पर लगे रेप के आरोप का पूरा मामला है क्या?

चिराग पासवान के चचेरे भाई सांसद प्रिंस राज पर लगे रेप के आरोप का पूरा मामला है क्या?

आरोप लगाने वाली महिला के खिलाफ प्रिंस ने भी फरवरी में दर्ज कराई थी FIR.

किसान आंदोलन में शामिल लोगों पर आरोप- पहले ग्रामीण को शराब पिलाई, फिर जिंदा जला दिया!

किसान आंदोलन में शामिल लोगों पर आरोप- पहले ग्रामीण को शराब पिलाई, फिर जिंदा जला दिया!

बहादुरगढ़ की घटना, पुलिस ने दो लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया है.

CBSE ने सुप्रीम कोर्ट में बताया, 12वीं के मार्क्स देने का 30:30:40 फॉर्मूला क्या है

CBSE ने सुप्रीम कोर्ट में बताया, 12वीं के मार्क्स देने का 30:30:40 फॉर्मूला क्या है

31 जुलाई से पहले फाइनल रिजल्ट जारी करने की जानकारी भी दी है.

योगी सरकार के संपत्ति रजिस्ट्री को लेकर लगने वाले स्टाम्प शुल्क के नए नियम में क्या है?

योगी सरकार के संपत्ति रजिस्ट्री को लेकर लगने वाले स्टाम्प शुल्क के नए नियम में क्या है?

नए नियम के बाद विवादों में कमी आएगी?

हरिद्वार कुंभ के दौरान बांटी गयी 1 लाख फ़र्ज़ी कोरोना रिपोर्ट? जानिए क्या है कहानी

हरिद्वार कुंभ के दौरान बांटी गयी 1 लाख फ़र्ज़ी कोरोना रिपोर्ट? जानिए क्या है कहानी

अख़बार का दावा, सरकारी जांच में हुआ ख़ुलासा

दिल्ली दंगा : नताशा, देवांगना और आसिफ़ को ज़मानत देते हुए कोर्ट ने कहा, 'कब तक इंतज़ार करें?'

दिल्ली दंगा : नताशा, देवांगना और आसिफ़ को ज़मानत देते हुए कोर्ट ने कहा, 'कब तक इंतज़ार करें?'

जानिए क्या है पूरा मामला?

सैन्य ऑपरेशन से जुड़े 25 साल से ज्यादा पुराने रिकॉर्ड सार्वजनिक होंगे

सैन्य ऑपरेशन से जुड़े 25 साल से ज्यादा पुराने रिकॉर्ड सार्वजनिक होंगे

सेना के इतिहास से जुड़ी जानकारियां सार्वजनिक करने की पॉलिसी को मंजूरी

पंजाब चुनाव: अकाली दल और बसपा गठबंधन का ऐलान, कितनी सीटों पर लड़ेगी मायावती की पार्टी?

पंजाब चुनाव: अकाली दल और बसपा गठबंधन का ऐलान, कितनी सीटों पर लड़ेगी मायावती की पार्टी?

पंजाब के अलावा बाकी चुनाव भी साथ लड़ने की घोषणा.

TMC में घर वापसी करने वाले मुकुल रॉय ने 4 साल बाद बीजेपी छोड़ने का फैसला क्यों लिया?

TMC में घर वापसी करने वाले मुकुल रॉय ने 4 साल बाद बीजेपी छोड़ने का फैसला क्यों लिया?

मुकुल रॉय को बराबर में बिठाकर ममता बनर्जी किन गद्दारों पर भड़कीं?

लक्षद्वीप: किस एक बयान के बाद फिल्म निर्माता आयशा सुल्ताना पर राजद्रोह का केस हो गया?

लक्षद्वीप: किस एक बयान के बाद फिल्म निर्माता आयशा सुल्ताना पर राजद्रोह का केस हो गया?

पहले TV डिबेट में बोला, फिर फेसबुक पर पोस्ट लिखा.