Submit your post

Follow Us

कर्नाटक में 15 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में BJP का क्या हुआ?

5
शेयर्स

5 दिसंबर को कर्नाटक की 15 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव हुए थे. इन सीटों पर हुए उपचुनाव के लिए 9 दिसंबर को काउंटिंग हुई. सरकार में बने रहने के लिए बीजेपी को 7 से ज्यादा सीटों पर जीतना था. बीजेपी 12 सीटों पर जीत गई है. कांग्रेस ने 2 सीटों पर जीत दर्ज की है. एक सीट निर्दलीय विधायक के नाम रहा है.

विधायकों के पाला बदलने, अयोग्य होने के बाद इन 15 सीटों पर उपचुनाव हुए थे. आइए सभी सीटों का हाल जानते हैं.

1. अठानी (BJP)

बीजेपी के महेश ने कांग्रेस के गजानन भालचंद्र को 39,989 वोटों से हरा दिया है.

2. कगवाड़ (BJP)

बीजेपी के श्रीमंत बालासाहेब पाटिल ने कांग्रेस के भरमगौड़ा को 18,557 वोटों से हरा दिया है.

3. गोकक (BJP)

बीजेपी के जर्किहोली रमेश लक्ष्मणराव ने कांग्रेस के लखन लक्ष्मणराव जर्किहोली को 29,006 वोटों से हरा दिया है.

4. येलापुर (BJP)

बीजेपी के अरबिल हेब्बर ने कांग्रेस के भीमन्ना नाईक को 31,408 वोटों से हरा दिया है.

5. हिरेकेरूर (BJP)

बीजेपी के बीसी पाटिल, कांग्रेस के बन्नीकोड बसप्पा को 29,067 वोटों से हरा दिया है.

6. रानीबेन्नूर (BJP)

बीजेपी के अरुण कुमार ने कांग्रेस के केबी कोलीवाड को 23,222 वोटों से हरा दिया है.

7. विजयनगर (BJP)

बीजेपी के आनंद सिंह ने कांग्रेस के वीवाय घोरपाडे को 30,125 वोटों से हरा दिया है.

8. चिकबेलापुर (BJP)

बीजेपी के के सुधाकर ने कांग्रेस के एम अंजनकप्पा को 34,801 वोटों से हरा दिया है.

9. के.आर. पुरम (BJP)

बीजेपी के बीए बसवराजा, कांग्रेस के एम नारायण स्वामी से 22,607 वोटों से आगे चल रहे हैं.

10. यशवंतपुरा (BJP)

बीजेपी के एसटी सोमशेखर, कांग्रेस के टीएन जावाराई गौड़ा 26,671 वोटों से आगे चल रहे हैं.

11. महालक्ष्मी लेआउट (BJP)

बीजेपी के के गोपालनाथ ने कांग्रेस के एम शिवराजू को 54,386 वोटों से हरा दिया है.

12. शिवाजीनगर (INC)

कांग्रेस के रिजवान अरशद ने बीजेपी के एम सर्वना को 13,521 वोटों से हरा दिया है.

13. होसाकोटे (IND)

इंडिपेंडेंट कैंडिडेट शरत कुमार ने बीजेपी के एन नागराजू को 11,486 वोटों से हरा दिया है.

14. के.आर. पेटे (BJP)

बीजेपी के नारायण गौड़ ने जनता दल सेक्युलर के बीएल देवराज को 9,731 वोटों से हरा दिया है.

15. हुनसूर (INC)

कांग्रेस के एचपी मंजुनाथ ने बीजेपी के एच विश्वनाथ को 39,727 वोटों से हरा दिया है.

कर्नाटक विधानसभा में बहुमत के लिए 113 का आंकड़ा चाहिए. बीजेपी के पास अभी 105 विधायक हैं. इसके साथ ही बीजेपी को एक इंडिपेंडेंट विधायक का समर्थन है. जिन 15 सीटों का नतीजा आना है, उसमें बीजेपी के लिए 7 से अधिक सीट जीतना जरूरी है. कांग्रेस के पास 68 विधायक (11 बागी), जेडीएस के पास 34 विधायक (3 बागी) हैं.

येदियुरप्पा के सत्ता में आने से पहले कांग्रेस-जेडीएस की सरकार कांग्रेस के 14 और जनता दल सेक्युलर के तीन विधायक के इस्तीफे से गिर गई थी. इन सभी बागी विधायकों को पूर्व विधानसभा अध्यक्ष ने अयोग्य बताया था.

कर्नाटक विधानसभा में कुल 224 सीटें हैं. 15 सीटों पर हुए चुनाव के नतीजे के बाद कुल 222 सीटों के आधार पर किसी पार्टी को सरकार बनाने के लिए 112 सीटें चाहिए क्योंकि 2 सीटों पर राज्य की हाईकोर्ट ने रोक लगा दी थी.


वीडियो- पुलिस कमिश्नर V C सज्जनार की कहानी, जो हैदराबाद एनकाउंटर लीड कर रहे थे

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

बॉलीवुड की मॉडल-एक्ट्रेस के साथ सेक्स रैकेट चला रहा था कास्टिंग डायरेक्टर, पकड़ा गया

आरोपी को पुलिस ने दो मॉडल्स के साथ गिरफ्तार किया है.

NPR की जानकारी नहीं देंगे तो 1000 रुपये देने को तैयार रहिए

1 अप्रैल से शुरू हो जाएगा NPR अपडेशन का काम.

जिस हीरोइन की कमाई जानकर लोग हैरान थे, उनके घर इनकम टैक्स का छापा पड़ गया है

सुबह 7.30 बजे इनकम टैक्स अधिकारी घर पहुंच गए थे.

CA टॉपर्स के मार्क्स देख बाकी टॉपर गश खा जाएंगे

खासकर CBSE और CAT वाले.

लंदन में कैब ड्राइवर की हरकतें देखकर डर गईं सोनम, कहा- 'कांप रही हूं'

पूरे रास्ते चिल्लाता रहा कैब ड्राइवर.

जिंदा दफनाने की धमकी देने वाले BJP विधायक ने खुद को धमकी मिलने की FIR करवाई

BJP नेता को धमकाने वाले ने कहा- सारी प्लानिंग हो चुकी है.

धोनी ने कहा था जनवरी तक रुको, BCCI ने उन्हें कॉन्ट्रैक्ट से ही बाहर कर दिया

BCCI के इस फैसले से धोनी को करोड़ों का नुकसान हुआ.

सुशांत सिंह ने ऐसा ट्वीट किया कि सद्गुरु जग्गी वासुदेव के भक्त किलस जाएंगे

आपका प्रोग्राम हमारे जीवन का सबसे बुरा अनुभव था.

क्या 2000 के नकली नोट छापना बहुत आसान है? NCRB की रिपोर्ट तो यही कहती है

नए नोटों की घोषणा होने के 10 दिन बाद ही 2000 के नकली नोट मिलने लगे थे.

हज़ारों की भीड़ में व्हीलचेयर पर टीम इंडिया का हौसला बढ़ाने वाली चारुलता नहीं रहीं

रोहित शर्मा से विराट कोहली तक, सब उनके फैन थे.