Submit your post

Follow Us

आखिरकार पकड़ लिए गए कमलेश तिवारी के हत्यारोपी अशफाक और मोइनुद्दीन

447
शेयर्स

आखिरकार चार दिनों के बाद कमलेश तिवारी हत्याकांड के दोनों मुख्य आरोपी अशफाक और मोइनुद्दीन गिरफ्तार कर लिए गए. गुजरात एटीएस ने इन दोनों को गुजरात-राजस्थान के बॉर्डर से पकड़ा है. यूपी पुलिस ने इन दोनों आरोपियों पर ढाई लाख रुपये का इनाम घोषित कर रखा था. 18 तारीख को कमलेश तिवारी की हत्या के बाद से ही ये दोनों फरार थे. यूपी पुलिस और गुजरात एटीएस इन दोनों की तलाश में यूपी और गुजरात के अलावा और कई जगहों पर छापेमारी कर रही थी. आखिरकार 22 अक्टूबर की शाम को गुजरात एटीएस को दोनों को गिरफ्तार करने में कामयाबी मिल ही गई.

इससे पहले यूपी पुलिस ने लखनऊ से खालसा होटल से खून से सने कपड़े, तौलिया और दूसरी कई चीजें बरामद की थीं. इन दोनों की सीसीटीवी फुटेज़ भी जारी की गई थी, जिसके बाद से ही इनकी तलाश चल रही थी. आखिरी बार इन्हें शाहजहांपुर में देखा गया था. इससे पहले मीडिया में खबरें आई थीं कि ये दोनों नेपाल भागने की फिराक में हैं, लेकिन पुलिस की मुस्तैदी की वजह से ये भाग नहीं पाए हैं.

अब इन दोनों आरोपियों अशफाक और मोइनुद्दीन को यूपी पुलिस गुजरात से यूपी लेकर आएगी. इन दोनों से पूछताछ के बाद पता चल पाएगा कि इन्होंने कमलेश तिवारी की हत्या क्यों की है. हालांकि गुजरात के सूरत से पकड़े गए तीन आरोपियों मौलाना मोहसीन शेख सलीम, फैजान और रशीद ने अपना गुनाह कबूल कर लिया था और बताया था कि हत्या की प्लानिंग उन्होंने ही की थी. इस हत्या के पीछे उन्होंने 2015 में कमलेश तिवारी की विवादित टिप्पणी को जिम्मेदार बताया था.

अब इन दोनों मुख्य आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद यूपी पुलिस थोड़ी सी सांस ले सकती है. क्योंकि 22 अक्टूबर की सुबह कमलेश तिवारी की मां कुसुम तिवारी ने मुख्यमंत्री योगी और प्रधानमंत्री मोदी दोनों को भला-बुरा कहा था. सूरत से पकड़े गए तीनों लोगों को निर्दोष भी करार दिया था और कहा था कि पुलिस हत्या करने वालों को गिरफ्तार नहीं कर रही है, बस वो कभी शाहजहांपुर में छापा मारती है तो कभी बरेली की बात करती है. लेकिन अब इन दोनों की गिरफ्तारी के साथ ही कमलेश तिवारी की हत्या के तार सुलझते हुए नज़र आ रहे हैं.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

मोदी को क्लीन चिट न देने वाले चुनाव अधिकारी को फंसाने का तरीका खोज रही सरकार!

11 कंपनियों से सरकार ने कहा, कोई भी सबूत निकालकर लाओ

दफ़्तर में घुसकर महिला तहसीलदार पर पेट्रोल छिड़का, फिर आग लगाकर ज़िंदा जला दिया

इस सबके पीछे एक ज़मीन विवाद की वजह बताई जा रही है. जिसने आग लगाई, वो ख़ुद भी झुलसा.

दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट में पुलिस और वकीलों के बीच झड़प, गाड़ियां फूंकी

पुलिस और वकील इस झड़प की अलग-अलग कहानी बता रहे हैं.

US ने जारी किया विडियो, देखिए कैसे लादेन स्टाइल में किया गया बगदादी वाला ऑपरेशन

अमेरिका ने इस ऑपरेशन से जुड़े तीन विडियो जारी किए हैं.

लल्लनटॉप कहानी लिखिए और एक लाख रुपये का इनाम जीतिए

लल्लनटॉप कहानी कंपटीशन लौट आया है. आपका लल्लनटॉप अड्डे पर पहुंचने का वक्त आ गया है.

अमेठी: पुलिस हिरासत में आरोपी की मौत, 15 पुलिसवालों के खिलाफ केस दर्ज

मौत कैसे हुई? मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए गए हैं.

PMC खाताधारकों ने बीजेपी नेता को घेरा, तो पुलिस ने उन्हें बचाकर निकाला

RBI के साथ मीटिंग करने पहुंचे थे.

इस विदेशी सांसद को कश्मीर आने का न्योता दिया फिर कैंसल कर दिया, वजह हैरान करने वाली है

सांसद ने ऐसी शर्त रख दी थी कि विदेशी डेलिगेशन का हिस्सा नहीं बन पाए.

आज ही के दिन यूरोपियन यूनियन के सांसद कश्मीर क्यों पहुंचे? महबूबा मुफ्ती की बेटी ने बताया

आर्टिकल 370 में बदलाव के बाद कश्मीर के हालात का जायजा लेने पहुंचा है 27 सांसदों का दल

BJP नेता से स्कूल ड्रेस ना लेने पर स्कूल टीचर की नौकरी चली गयी!

और बच्चे टीचर को वापिस बुलाने के लिए प्रदर्शन कर रहे हैं.