Submit your post

Follow Us

एंटी CAA-NRC प्रोटेस्ट में गोली चलाने वाले राम भक्त गोपाल ने अब क्या जहर उगला?

‘राम भक्त गोपाल’ याद है आपको? नहीं, तो हम याद दिलाते हैं. ये वही शख्स है जिसने जामिया मिल्लिया इस्लामिया के सामने CAA और NRC के विरोध में निकले जुलूस पर फायरिंग कर दी थी. बाद में, गोपाल को दिल्ली पुलिस ने पकड़ लिया था. इस वारदात के वक्त उसे नाबालिग बताया गया था. इस वारदात से पहले उसने फेसबुक पोस्ट में खुद को रामभक्त बताया था. अब हरियाणा के पटौदी में हुई जनसभा में उसके भाषण का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. इसमें वह एक धर्म विशेष को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणियां करते हुए नजर आ रहा है.

वीडियो में क्या क्या कहा?

ग्रेटर नोएडा के जेवर का रहने वाला राम भक्त गोपाल हाल ही में हरियाणा के पटौदी में चल रही एक महापंचायत में पहुंचा. उसे खासतौर पर वहां आमंत्रित किया गया था. यहां उसने लोगों की भीड़ के बीच भाषण दिया. वायरल वीडियो में वह भाषण में कहता दिख रहा है कि,

“अगर वो हमारी बहनों को ले जा सकते हैं तो हम उनकी बहनों को क्यों नहीं ले आ सकते हैं. अरे तुम सलमा को लेकर तो आओ.”

इसके अलावा वह भाषण में चेतावनी देते हुए कहता है कि

“पटौदी से इतनी चेतावनी उन आतंकवादियों को, जेहादी मानसिकता के लोगों को, आस्तीन के सांपों को देना चाहता हूं …जब राम भक्त गोपाल CAA के समर्थन में 100 किलोमीटर दूर जामिया जा सकता है, तो पटौदी ज्यादा दूर नहीं है.”

वीडियो में दिखता है कि जब वह भीड़ भरी सभा में भाषण देता है तो लोग उसकी बातों का समर्थन करते हैं और तालियां बजाते हैं. वीडियो में कई और ऐसी बातें भी हैं कि हम आपको वो दिखा नहीं सकते.

ये महासभा पटौदी के रामलीला ग्राउंड में 4 जून को ‘लव जिहाद’ और ‘धर्मांतरण’ के खिलाफ आयोजित की गई थी. इसमें गोपाल के अलावा हरियाणा बीजेपी के प्रवक्ता सूरज पाल अमु जैसे लोग भी जमा हुए थे. इस मौके पर बीजेपी प्रवक्ता सूरज पाल ने भी धर्म विशेष के बारे में आपत्तिजनक टिप्पणियां की थीं. अमु ने कहा था कि वह इतिहास बनने में नहीं बल्कि इतिहास बनाने में भरोसा रखते हैं. उन्होंने कहा था कि अब तैमूर, औरंगजेब, बाबर और हुमायूं नहीं पैदा होंगे. ट्विटर पर मौजूद वीडियो में वह कहते दिख रहे हैं,

“अगर देश के अंदर इतिहास बनाना चाहते हो तो इतिहास बनना नहीं है. न तैमूर पैदा होगा, न औरंगजेब बाबर हुमायूं पैदा होंगे. हम सौ करोड़ हैं, और वो बीस करोड़ हैं. अगर भारत हमारी माता है तो पाकिस्तान के हम बाप हैं. और ये पाकिस्तानी को हम यहां के घरों में किराए पर मकान नहीं देंगे. इनको देश से निकालो, ये प्रस्ताव पास करो.”

राम भक्त गोपाल ने दी बयान पर सफाई

इस भड़काऊ भाषण पर आजतक से बात करते हुए राम भक्त गोपाल ने कबूल किया कि जामिया में उसने फायरिंग की थी. वो जामिया फायरिंग को गलती भी नहीं मानता. वह कहता है कि गलत वो लोग थे, जो वहां से कथित देश विरोधी नारे लगा रहे थे. उसने आजतक से कहा कि

“उस वक्त मैं संविधान के हिसाब से नाबालिग था. मैं देश विरोधियों को संदेश देना चाहता था इसलिए फायरिंग की. मैं जेवर से पिस्टल लेकर गया था. जामिया से पुलिस पर हमला हो रहा था, शरजील जैसे राष्ट्र विरोधी हमला बोल रहे थे.”

पटौदी में दिए गए भड़काऊ बयान पर राम भक्त गोपाल ने अपना पक्ष रखा. उसका कहना है कि वह किसी संप्रदाय के खिलाफ नहीं है, लेकिन जिहाद और देश विरोधी मानसिकता के लोगों के खिलाफ जरूर है. उसने कहा कि भड़काऊ बयान देने की झूठी दलील दी रहा है. उसके अनुसार बयान लव जिहाद और धर्मांतरण के खिलाफ था. फोन पर आजतक से बात करते हुए राम भक्त गोपाल ने कहा कि हिंदू जाग गया है, सब देश विरोधी लोगों को पाकिस्तान भेज दिया जाएगा.

अभी तक कोई कार्रवाई नहीं

@adabehindustan टि्वटर हैंडल से इन वीडियो को ट्वीट करते हुए हरियाणा के डीजीपी, गुड़गांव पुलिस और हरियाणा पुलिस को टैग किया गया. पुलिस से कार्रवाई करने की मांग की गई. लेकिन खबर लिखे जाने तक वायरल वीडियो के मामले पर हरियाणा पुलिस की तरफ से कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं की गयी है, और न ही वायरल पोस्ट पर कोई जवाब दिया गया है.


वीडियो – हरियाणा: बीजेपी प्रवक्ता के भड़काऊ भाषण पर बवाल, वायरल वीडियो पर अब पुलिस क्या कह रही?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

मुस्लिम औरतों की बोली लगाने वाली वेबसाइट की लिंक शेयर कर घिरा राइट विंग 'पत्रकार'

बवाल हुआ तो शिकायत करने वाली औरतों को ही कोसने लगे.

नेमावर हत्याकांड: आरोपी सुरेंद्र चौहान की प्रॉपर्टी पर चली जेसीबी, CBI जांच की मांग उठी

कांग्रेस का आरोप है कि भाजपा नेता होने के चलते सुरेंद्र चौहान को इस मामले में संरक्षण मिला.

जम्मू एयरफोर्स स्टेशन पर धमाका, DGP दिलबाग सिंह बोले-ड्रोन से हुआ हमला

दो संदिग्धों को हिरासत में लिया गया है.

आंदोलन के सात महीने पूरे, किसानों ने देशभर में राज्यपालों को सौंपे ज्ञापन,कुछ जगहों पर झड़प

चंडीगढ़ और पंचकुला में बवाल.

कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ही नहीं, शशि थरूर का अकाउंट भी लॉक कर दिया था ट्विटर ने

ट्विटर ने क्या वजह बताई?

एक्ट्रेस पायल रोहतगी को अहमदाबाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया

मामला एक वायरल वीडियो से जुड़ा है.

CBSE और ICSE की परीक्षाएं रद्द करने के खिलाफ याचिकाओं को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज किया

नंबर देने के फॉर्मूले से सुप्रीम कोर्ट भी सहमत.

LJP में कलह की वजह बताए जा रहे सौरभ पांडेय के बारे में रामविलास पासवान ने चिट्ठी में क्या लिखा था?

चिराग को राजनीति में आने की सलाह किसने दी थी?

सरकार फिल्मों के सर्टिफिकेशन में क्या बदलाव करने जा रही, जो फ़िल्ममेकर्स की आज़ादी छीन सकता है?

कुछ वक़्त से लगातार हो रहे हैं फ़ेरबदल.

यूनिवर्सिटी-कॉलेजों में लग रहे 'थैंक्यू मोदी' के बैनर पर बवाल क्यों हो रहा है?

क्या यूनिवर्सिटीज़ और कॉलेजों को सरकारी प्रचार के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है?