Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

हिंदी आउट, संस्कृत इन, अब आपके नजदीकी सिनेमाघर में!

116
शेयर्स

कैमरा घूमता है. केरल के नम्बूदरी ब्राह्मण परिवार में संस्कृत के श्लोक गूंज रहे हैं. एक औरत पुराने, घिसे पिटे कर्मकांडों से लड़ती है जिसे 71 साल के वैदिक ज्ञाता और परिवार के मुखिया रामविक्रम नम्बूथरी ने लागू कर रखा है. फिल्म सन 1930 में बेस्ड है. ऊंची जाति वाले इसके किरदार लगातार संस्कृत बोल रहे हैं.

फिल्म का नाम है इष्टि, मतलब ‘खुद की खोज’. इसका प्रोडक्शन और डायरेक्शन डॉक्टर जी. प्रभा ने किया है. ये फिल्म संस्कृत में है और कई बड़े फिल्म फेस्टिवल में इसकी स्क्रीनिंग हो चुकी है. और इसकी तारीफ़ भी हो रही है.

ishti 3

इसे अभी जल्द ही इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ़ इंडिया, गोवा में दिखाया गया. इष्टि आपको पुराने भारत की तरफ ले जाती है, जब परिवार के मुखिया के शब्द ही आखिरी होते थे. पुराने नियम घर के सभी सदस्यों पर लागू होते थे. फिल्म में भारत के जड़ में घुसी पितृसत्ता को दिखाया गया है. फिल्म बीसवीं शताब्दी में औरतों की पढ़ाई-लिखाई की बात करती है. नंबूथरी औरतों के बारे में बात करती है.

ishti 4

जैसे हरियाणा में आज लड़कियों की संख्या बहुत कम है, वैसी ही स्थिति 1930 में केरल में थी.

कहानी क्या है?

श्रीदेवी (न्यूकमर अथिरा पटेल ने ये रोल किया है) नम्बूथरी की तीसरी पत्नी है. पढ़ी लिखी है. अपने पति के विचारों का विरोध करती है. रीजनिंग का इस्तेमाल करती है. अपने परिवार वालों और सौतेले बेटे को पितृसत्ता के खिलाफ खड़े होने को कहती है. श्रीदेवी पढ़ाई-लिखाई की बात करती है. सौतेले बेटे रमन को पढ़ने-लिखने को कहती है. श्रीदेवी और रमन के बीच अफेयर होने की अफवाह उनके समुदाय में जोर पकड़ लेती है.

akkitham-invitation

लेकिन संस्कृत क्यों?

18वीं शताब्दी में संस्कृत काफी बोली जाती थी. लेकिन ऊंची जाति और वर्गों के लोगों के बीच तक ही सीमित थी. सबको इसे बोलने का अधिकार नहीं था. इसी वजह से ये भाषा सीमित हो गई. इसे इस बात से भी समझा जा सकता है कि तमाम भाषाओं में देश में फिल्में बनती हैं लेकिन संस्कृत में आज तक सिर्फ चार फिल्में ही बनीं हैं. ‘इष्टि’ इस तरह की चौथी फिल्म है, लेकिन किसी सामाजिक मुद्दे पर बनने वाली अपनी किस्म की पहली संस्कृत फिल्म है. ये कहना मूर्खता होगी कि इस फिल्म से संस्कृत लोकप्रिय होगी लेकिन कुछ हद तक इससे ये परसेप्शन टूटेगा कि संस्कृत सिर्फ हिन्दू संतों और पुजारियों की भाषा है.

ishti 2

इससे पहले संस्कृत में फिल्म ‘प्रियनामनासम’ बनी थी. इसे विनोद मंकार ने बनाया था. ये 17वीं शताब्दी के कवि उन्नई पर आधारित थी.

जी. प्रभा का कहना है कि फिल्म में डायलॉग्स की बजाय ज्यादा जोर विजुअल्स और कर्मकांडों पर है. लोगों को समझने के लिए इंग्लिश में सबटाइटल भी दिए गए हैं. इसके अलावा उन्होंने कहा:

‘मैंने कई निर्माताओं के चक्कर लगाए ताकि वो फिल्म को फाइनेंस कर दें. लेकिन बाद में मैंने अपने पैसों और दोस्तों के पैसों से ही फिल्म बनानी शुरू कर दी. मुझे पता था कि संस्कृत में होने की वजह से डिस्ट्रीब्यूटर बहुत उत्साह नहीं दिखाएंगे क्योंकि कमाई के लिहाज से ये फिल्म फायदेमंद नहीं है. कोई डिस्ट्रीब्यूटर से ये उम्मीद कर भी नहीं सकता कि वो एक संस्कृत फिल्म में अपना विश्वास दिखाएं. लेकिन मुझे ख़ुशी है कि फिल्म फेस्टिवल की ऑडियंस इसे सराह रही है.’

akkitham-invitation

प्रभा के लिए दूसरा सबसे बड़ा चैलेन्ज था ऐसे एक्टर्स खोजना जो संस्कृत बोल सकें. नम्बूथरी के रोल के लिए प्रसिद्द एक्टर नेदुमुदी वेणु को चुना गया. प्रभा ने कहा कि उन्होंने वेणु को इसलिए चुना क्योंकि उन्होंने इससे पहले कुछ संस्कृत नाटक किए थे. उन्होंने 17 दिनों में एक फिल्म की शूटिंग ख़त्म की थी.

संस्कृत को हिन्दुओं की भाषा माने जाने पर डॉक्टर प्रभा को ऐतराज है. उन्होंने अलग-अलग धार्मिक बैकग्राउंड के छात्रों को पढ़ाया है. वो कहते हैं कि उनके पास बहुत से ईसाई लड़के आए थे जिन्होंने संस्कृत इसलिए सीखी ताकि हिन्दू धर्मग्रंथों की पढ़ाई कर सकें. किसी भी भाषा को किसी एक धर्म से नहीं जोड़ा जा सकता.


ये स्टोरी दी लल्लनटॉप के साथ इंटर्नशिप कर रहे निशांत ने ट्रांसलेट की है. सबसे पहले ये डेली मेल में छपी थी. 

 

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Ishti is the new sanskrit movie to comment on orthodox india

टॉप खबर

उड़ी से भी बड़ा आतंकी हमला, CRPF के काफिले के 42 जवान शहीद

कश्मीर के पुलवामा में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने किया हमला.

अमित शाह को कितना परेशान करेगा यूपी में प्रियंका का पहला दांव

कौन हैं केशव मौर्य जो सबसे पहले प्रियंका के खेमे में आए हैं

क्या अरुण जेटली ने राफेल पर देश से झूठ बोला?

राफेल पर क्या कहती है CAG की रिपोर्ट?

भारत रत्न लेने पर बंटा भूपेन हजारिका का परिवार, वजह मोदी सरकार का ये बिल है

बेटा भारत रत्न नहीं लेना चाहता,बाकी परिवार चाहता है सम्मान मिले.

रफाएल पर 'द हिंदू' का एक और खुलासा, लेकिन क्या इसमें जानकर कुछ छिपाया गया?

'द हिंदू' के मुताबिक सरकार ने रफाएल से एंटी-करप्शन क्लॉज़ हटाया...

सुप्रीम कोर्ट ने क्या कहा, जिसे ममता-मोदी दोनों तरफ के लोग अपनी जीत मान रहे हैं

CBI और कोलकाता पुलिस की लड़ाई असल में ममता और मोदी की लड़ाई मानी जा रही है...

सीबीआई को लेकर मोदी सरकार से क्यों टकरा रही हैं ममता बनर्जी

जानिए कोलकाता से लेकर दिल्ली तक क्यों बरपा है हंगामा, क्या-क्या हुआ अब तक?

CBI पहुंची थी कोलकाता कमिश्नर के घर, पुलिस ने टीम को ही हिरासत में ले लिया

मोदी बनाम ममता की लड़ाई अब पुलिस बनाम सीबीआई, ममता बनर्जी धरने पर.

'5 लाख तक टैक्स नहीं' ये सुनने के बाद कन्फ्यूजन क्यों फैला?

अंतरिम बजट आ गया है. आपके लिए क्या निकलकर आया, वो जानो.

इन्कम टैक्स पर मोदी सरकार का सबसे बड़ा ऐलान

गाइए - 'जिसका मुझे था इंतज़ार, वो घड़ी आ गई.'