Submit your post

Follow Us

खेलने का इंतज़ार कर रहे इशान की ये बात सुन विराट सोचेंगे ज़रूर!

IPL में मुंबई इंडियंस के लिए ताबड़तोड़ बैटिंग करने वाले इशान किशन ने कहा है कि अगर उन्हें टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन में मौका मिला. तो वो किसी भी पोज़ीशन पर बल्लेबाज़ी कर सकते हैं. साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि प्रेशर की स्थिति में वो ज़्यादा विश्वास के साथ खेलते हैं. इशान किशन को इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की T20 सीरीज़ के लिए चुना गया है.

साल 2020 में इशान किशन IPL में मुंबई इंडियंस के सबसे बड़े स्टार थे. उन्होंने बल्ले से शानदार 516 रन बनाए और मुंबई के लिए सबसे ज़्यादा रन जोड़े थे. हाल में ही विजय हज़ारे ट्रॉफी के पहले मैच में भी किशन ने महज़ 94 गेंदों में 173 रन ठोक दिए. भारतीय टीम से जुड़ने से पहले वो टूर्नामेंट में झारखंड टीम की कप्तानी भी कर रहे थे.

इशान ने माना कि भारतीय टीम के लिए चुना जाना एक बड़ा चैलेंज है, लेकिन वो भारत के लिए इस T20 सीरीज़ में किसी भी पोज़ीशन पर बल्लेबाज़ी करने के लिए तैयार हैं.

इशान किशन ने कहा,

”टीम में जगह बनाना बहुत मुश्किल है, मैं टीम में किसी भी स्थान पर खेलने के लिए तैयार हूं. मैं अपने करियर में मिडिल ऑर्डर के अलावा टॉप-ऑर्डर में भी खेल चुका हूं.”

इशान ने आगे कहा,

”प्रेशर वाली स्थिति में मैं ज़्यादा विश्वास के साथ खेलता हूं और मुझे लगता है कि डॉमेस्टिक फॉर्मेट्स और इंडिया ए के मैचों से आपको ऐसी स्थिति में खेलने में मदद मिलती है.”

इशान ने अपनी बैटिंग पोज़ीशन के अलावा IPL के अपने कप्तान रोहित शर्मा और मुंबई इंडियंस टीम के डायरेक्टर ज़हीर खान का भी शुक्रिया अदा किया. इशान ने कहा,

”IPL में ये ज़रूरी है कि अगर आपको एक मौका मिले तो आप उसे ज़्यादा मौके बनाएं. आपकी खेल के प्रति भूख और लगन ही आपको उस लाइन के पार पहुंचाती है.”

उन्होंने आगे कहा,

”ये बेहद शानदार है कि ड्रेसिंग रूम में आपको सिखाने के लिए या आपके खेल को सुधारने के लिए रोहित भाई और कई दिग्गज मेंटोर्स होते हैं. मुंबई इंडियंस का कार्यकाल मेरे क्रिकेटिंग करियर का एक आधार है. कोच से मिलने वाली सीख और रोहित भाई और ज़हीर भाई ने जिस तरह से मेरी मदद की वह खास है.”

इशान किशन को भारतीय T20 टीम में चुना गया है. लेकिन दूसरे T20 की प्लेइंग इलेवन में भी फिल्हाल उनकी जगह दिखाई नहीं देती.


भारतीय महिला क्रिकेट की लेजेंड मिताली राज ने अब कौन-सा रिकॉर्ड अपने नाम किया? 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

लखीमपुर की जांच से हाथ खींच रही यूपी सरकार? SC ने तगड़ी फटकार लगाते हुए और क्या सवाल दागे?

लखीमपुर की जांच से हाथ खींच रही यूपी सरकार? SC ने तगड़ी फटकार लगाते हुए और क्या सवाल दागे?

सुप्रीम कोर्ट ने कहा, कभी खत्म न होने वाली कहानी न बन जाए ये जांच.

केरल के साथ उत्तराखंड में भी बारिश का कहर, सड़कें, इमारतें, पुल ध्वस्त, 16 की मौत

केरल के साथ उत्तराखंड में भी बारिश का कहर, सड़कें, इमारतें, पुल ध्वस्त, 16 की मौत

केरल में भारी बारिश के कारण हुई मौतों की संख्या 35 तक पहुंची.

जिस CBI अफसर को केस बंद करने के लिए सौंपा गया था, उसी ने सलाखों के पीछे पहुंचा दिया राम रहीम को

जिस CBI अफसर को केस बंद करने के लिए सौंपा गया था, उसी ने सलाखों के पीछे पहुंचा दिया राम रहीम को

इंसाफ दिलाने के लिए धमकियों और खतरों की परवाह नहीं की.

लगातार दूसरे दिन आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को बनाया निशाना, 2 की मौत, 1 घायल

लगातार दूसरे दिन आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को बनाया निशाना, 2 की मौत, 1 घायल

पुलिस और सुरक्षा बलों ने इलाके को घेरा.

केरल में भारी बारिश से तबाही, 25 से ज़्यादा मौतें, कई लापता

केरल में भारी बारिश से तबाही, 25 से ज़्यादा मौतें, कई लापता

पीएम मोदी ने केरल के मुख्यमंत्री से की बात.

श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले और पुलवामा में यूपी के मजदूर की गोली मारकर हत्या

श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले और पुलवामा में यूपी के मजदूर की गोली मारकर हत्या

कश्मीर ज़ोन पुलिस ने बताया घटनास्थलों को खाली कराया गया. तलाशी जारी.

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

राकेश टिकैत ने भी मीडिया से बात की है.

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

कुरान को लेकर अफवाह उड़ी और बांग्लादेश के कई हिस्सों में सांप्रदायिक तनाव फैल गया.

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

जज ने दोनों पक्षों की दलीलें तो सुनी लेकिन अपना फैसला रिज़र्व रख दिया.

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

किसी ने लोन लेकर परिवार को नया घर दिया था तो कोई दिवंगत पिता के शोक में जाने वाला था.