Submit your post

Follow Us

दिल्ली में कैसे एक छोटी सी गलती से आग लगी और 43 लोगों की जान चली गई?

5
शेयर्स

देश की राजधानी दिल्ली में आग की घटना की वजह से 43 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि कई लोगों की हालत गंभीर है, घायल लोगों को दिल्ली के अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है. आग लगने की बड़ी वजह शॉर्ट सर्किट बताया जा रहा है. ये आग दिल्ली के रानी झांसी रोड के पास फिल्मिस्तान इलाके में लगी, जिसकी खबर मिलते ही मौके पर दमकल की 20 गाड़ियां पहुंच गई.

कब लगी आग?

घटना सुबह 5 बजे की बताई जा रही है. प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक आग की शुरुआत तीन मंजिला बेकरी की टॉप फ्लोर से हुई, उसके बाद आग देखते-देखते पूरी इमारत में फैल गया. इससे पहले कि लोग कुछ समझ पाते आग ने दाएं और बाएं की दोनों बिल्डिंग को भी अपनी चपेट में ले लिया.

इलाका काफी कन्जेस्टेड होने की वजह से दमकल की गाड़ियों को भी मौके पर पहुंचने में काफी दिक्कतें हुईं. बताया जा रहा है कि भारी नुकसान की एक वजह ये भी है. वहीं अगर इमारत की सीढ़ी चौड़ी होती तो इतने लोगों की जान नहीं जाती. हालात को देखते हुए मौके पर एनडीआरएफ की टीम भी पहुंच गई.

इतने लोगों की मौत कैसे हुई?

दिल्ली के इस रेज़िडेंशियल इलाके में काफी समये से अवैध रूप से फैक्ट्री चल रही थी. इसी फैक्ट्री के नीचे वाले फ्लोर में लोग भी रह रहे थे और काम करने वाले मजदूर भी. जब शॉर्ट सर्किट हुआ तो तुरंत ही धुंआ फैल गया फिर कमरे में सो रहे लोगों को भागने का मौका ही नहीं मिला. बाकी जो लोग नहीं भाग पाए उनकी दम घुटने से मौत हो गई. शुरुआती आंकड़े 35 आए, फिर ये 43 हुआ, अब बताया जा रहा है कि मरने वालों की संख्या बढ़ भी सकती है. दिल्ली फायर सर्विस के चीफ फायर ऑफिसर अतुल गर्ग ने बताया-

‘कई लोगों का रेस्क्यू किया गया है. ज्यादातार लोग दम घुटने की वजह से प्रभावित हुए. मेरी जानकारी में ये दिल्ली का सबसे बड़ा रेस्क्यू ऑपरेशन है.’

घायलों का क्या हुआ?

आग की घटना में झुलसे लोगों को चार अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है. अभी तक 45 लोगों को एलएनजेपी अस्पताल में लाया गया है जबकि लेडी हार्डिंग में 9 लोगों को एडमिट किया गया है. इसके अलावा सफदरजंग और हिंदू राव में भी कई लोग ज़िंदगी और मौत के बीच झूल रहे हैं.

अब खबरें ये भी आ रही है कि आग बुझाने के दौरान एक दमकल कर्मी भी झुलस गया, जिसे तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया गया. बाकी आग की मुख्य वजहें और कमियों पर बाद में जांच होगी फिलहाल के लिए बिल्डिंग के मालिक को हिरासत में ले लिया गया है. क्योंकि फैक्ट्री अवैध रूप से चल रही थी. आग की इस बड़ी घटना पर पीएम मोदी, गृहमंत्री शाह, दिल्ली के सीएम केजरीवाल समेत राहुल गांधी ने भी ट्वीट करके दुख जताया है.


उन्नाव रेप केस : अखिलेश यादव और प्रियंका जो कर रहे, वो योगी आदित्यनाथ के लिए खतरे की घंटी!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अगर संसद में ये बिल पास हो गया तो एक ही तमंचे पर डिस्को हो पाएगा

वैसे नए कानून के मुताबिक, तमंचे पर डिस्को करने पर भी 2 साल की सज़ा हो सकती है.

तेलंगाना पुलिस ने खुद बताई एनकाउंटर के पीछे की पूरी कहानी

'आरोपियों ने पुलिस से हथियार छीनकर फायरिंग की'.

हैदराबाद डॉक्टर रेप केस: चारों आरोपी पुलिस एनकाउंटर में मारे गए

उसी जगह मारे गए, जहां रेप किया. पुलिस का कहना है कि आरोपियों ने उनपर हमला करके भागने की कोशिश की.

शरद पवार ने अजित पवार की बगावत का जिम्मेदार कांग्रेस को क्यों बता दिया?

शरद पवार ने इंटरव्यू में खोली महाराष्ट्र ड्रामे की पूरी पोल-पट्टी. सरकार बनने-गिरने पर हर सवाल का जवाब दिया.

नरेंद्र मोदी का ये ड्रीम प्रोजेक्ट बिकने की कगार पर पहुंच गया है

उद्घाटन के वक्त पीएम ने कहा था- नए भविष्य का दरवाज़ा खुल रहा है.

पहले दो बच्चों और खरगोश को मारा, फिर 'दो पत्नियों' के साथ 8वीं मंजिल से कूदकर जान दे दी

घर पर लगे सफेद बोर्ड में बताया कि मौत का जिम्मेदार कौन है.

अयोध्या रिव्यू पिटीशन : मुस्लिम पक्ष ने "झूठ" बोलकर वकील को निकाला, वकील ने फेसबुक पर हौंक दिया

कहा कि राजीव धवन बीमार हैं!

भारतीय इंजिनियर ने नासा को बताया, यहां है विक्रम का मलबा

नासा ने इसकी पुष्टि भी की.

GDP को लेकर BJP सांसद की बात सुन पीएम मोदी माथा पीट लेंगे

सांसद जी कह रहे- GDP का भविष्य में कोई ख़ास उपयोग नहीं होने वाला.

GDP के नए आंकड़े आ गए हैं, 5 ट्रिलियन इकॉनमी से और दूर चले गए हैं हम

GDP है कि लुढ़कती ही जा रही है.