Submit your post

Follow Us

सरकार ने बताया कि ऐसे चेक करें कि कोरोना वैक्सीन असली है या नहीं

कोरोना महामारी के बीच इसकी वैक्सीन (Corona Vaccine) एक उम्मीद की तरह सामने आई है, लेकिन साथ में फर्जी वैक्सीन का डर भी लोगों की जान को खतरे में भी डाल रहा है. ऐसे में केंद्र सरकार ने कोरोना की फर्जी वैक्सीन की पहचान को लेकर गाइडलाइन जारी की है. सरकार ने कुछ पैमाने बताए हैं, जिनके जरिए पता लगाया जा सकता है कि कोविशील्ड, कोवैक्सीन और स्पूतनिक वी (Covishield, Covaxin & Sputnik V) की वैक्सीन असली है या नहीं. आइए बताते हैं कि ये पैमाने क्या हैं.

Covishield

# असली कोविशील्ड की शीशी पर गहरे हरे रंग में SII (सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया) प्रॉडक्ट का लेबल शेड, ट्रेडमार्क के साथ ब्रैंड नाम और गहरे हरे रंग की एल्यूमीनियम फ्लिप-ऑफ सील होगी.
# SIS का लोगो, लेबल के चिपकने वाली तरफ एक खास कोण पर छपा होता है. इसे केवल उन कुछ चुनिंदा लोगों द्वारा पहचाना जा सकता है जिन्हें सटीक जानकारी हो.
# अक्षरों को अधिक स्पष्ट और पठनीय बनाने के लिए खास तरह की सफेद स्याही का इस्तेमाल किया जाता है. वैक्सीन का जेनेरिक नाम बोल्ड नहीं है सिर्फ कोविशील्ड ही बोल्ड में लिखा होगा.

Covaxin

अतिरिक्त सचिव मनोहर अगनानी ने 2 सितंबर को केंद्र शासित प्रदेशों और राज्यों के सभी अतिरिक्त मुख्य सचिवों और प्रधान सचिवों (स्वास्थ्य) पत्र लिखा था. इसके अनुसार-

# कोवैक्सीन के लेबल में नकली वैक्सीन की पहचान के लिए अदृश्य यूवी हेलिक्स (डीएनए जैसी संरचना) शामिल की गई है जो सिर्फ यूवी लाइट में ही दिखाई देती है.
# लेबल पर माइक्रो टेक्स्ट में Covaxin लिखा होगा. इसे भी जानकार ही पहचान पाएंगे.
# कोवैक्सीन को होलोग्रैफिक इफेक्ट दिया गया है.

Sputnik V

# इस वैक्सीन को दो अलग-अलग जगहों से इंपोर्ट किया गया है. इसलिए इन दोनों जगहों के लिए दो अलग-अलग लेबल हैं, जबकि सभी जानकारी और डिज़ाइन एक जैसे हैं, सिर्फ निर्माता का नाम अलग है.
# अब तक सभी इंपोर्ट की गई सभी स्पूतनिक वैक्सीन पर अंग्रेजी लेबल सिर्फ 5 एम्प्यूल (ampoule)  पैक के कार्टन के आगे और पीछे ही मिलेगा, जबकि अन्य सभी ओर रशियन में है.

बता दें कि सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की कोविशिल्ड, भारत बायोटेक की कोवैक्सीन और रशियन स्पुतनिक वी को देश में चल रहे कोविड-19 टीकाकरण अभियान के तहत लगाया जा रहा है.

सोमवार 6 सितंबर तक देश में 68 करोड़ 75 लाख 41 हजार से ज्यादा लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई जा चुकी थी. वैक्सीन की पहली और दूसरी डोज देखें तो यूपी में सबसे ज्यादा 7 करोड़ 75 लाख 34 हजार लगाई जा चुकी हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, दूसरे नंबर पर महाराष्ट्र (6,29,51,338), तीसरे नंबर पर गुजरात (4,91,48,580) है. सिर्फ पहली डोज की बात करें तो सभी राज्यों के मिलाकर लोगों को 52 करोड़ 63 लाख 81 हजार डोज लगाई जा चुकी हैं. जबकि दूसरी डोज लेने वालों की संख्या 16 करोड़ 11 लाख 59 हजार है.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को जानकारी दी कि पिछले 24 घंटे में कोरोना के 38 हजार 948 नए केस सामने आए जबकि 219 लोगों की मौतें हुईं. मौतों की संख्या के मामले यह आंकड़ा 167 दिनों में सबसे कम है.


वीडियो – Whatsapp से कोरोना वैक्सीन की स्लॉट बुकिंग इस तरह करा सकते हैं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

आर्यन खान केस: किरण गोसावी के बॉडीगार्ड का दावा, 18 करोड़ में डील होने की बात सुनी थी

आर्यन खान केस: किरण गोसावी के बॉडीगार्ड का दावा, 18 करोड़ में डील होने की बात सुनी थी

गवाह प्रभाकर सेल का दावा-8 करोड़ समीर वानखेड़े को देने की बात हुई थी.

LIC पॉलिसी से PAN नंबर लिंक नहीं है, ये बड़ा नुकसान होगा!

LIC पॉलिसी से PAN नंबर लिंक नहीं है, ये बड़ा नुकसान होगा!

लिंक करने का पूरा प्रोसेस बता रहे हैं, जान लीजिए.

यूपी चुनाव: सपा-सुभासपा गठबंधन का ऐलान, राजभर बोले- एक भी सीट नहीं देंगे तो भी समर्थन रहेगा

यूपी चुनाव: सपा-सुभासपा गठबंधन का ऐलान, राजभर बोले- एक भी सीट नहीं देंगे तो भी समर्थन रहेगा

सपा ने ट्वीट कर कहा- 2022 में मिलकर करेंगे बीजेपी को साफ़!

आगरा में पुलिस कस्टडी में सफाईकर्मी की मौत, बवाल के बाद पुलिसकर्मियों पर FIR, 6 सस्पेंड

आगरा में पुलिस कस्टडी में सफाईकर्मी की मौत, बवाल के बाद पुलिसकर्मियों पर FIR, 6 सस्पेंड

थाने के मालखाने से 25 लाख चोरी के आरोप में पुलिस ने पकड़ा था सफाईकर्मी को.

लखीमपुर की जांच से हाथ खींच रही यूपी सरकार? SC ने तगड़ी फटकार लगाते हुए और क्या सवाल दागे?

लखीमपुर की जांच से हाथ खींच रही यूपी सरकार? SC ने तगड़ी फटकार लगाते हुए और क्या सवाल दागे?

सुप्रीम कोर्ट ने कहा, कभी खत्म न होने वाली कहानी न बन जाए ये जांच.

केरल के साथ उत्तराखंड में भी बारिश का कहर, सड़कें, इमारतें, पुल ध्वस्त, 16 की मौत

केरल के साथ उत्तराखंड में भी बारिश का कहर, सड़कें, इमारतें, पुल ध्वस्त, 16 की मौत

केरल में भारी बारिश के कारण हुई मौतों की संख्या 35 तक पहुंची.

जिस CBI अफसर को केस बंद करने के लिए सौंपा गया था, उसी ने सलाखों के पीछे पहुंचा दिया राम रहीम को

जिस CBI अफसर को केस बंद करने के लिए सौंपा गया था, उसी ने सलाखों के पीछे पहुंचा दिया राम रहीम को

इंसाफ दिलाने के लिए धमकियों और खतरों की परवाह नहीं की.

लगातार दूसरे दिन आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को बनाया निशाना, 2 की मौत, 1 घायल

लगातार दूसरे दिन आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को बनाया निशाना, 2 की मौत, 1 घायल

पुलिस और सुरक्षा बलों ने इलाके को घेरा.

केरल में भारी बारिश से तबाही, 25 से ज़्यादा मौतें, कई लापता

केरल में भारी बारिश से तबाही, 25 से ज़्यादा मौतें, कई लापता

पीएम मोदी ने केरल के मुख्यमंत्री से की बात.

श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले और पुलवामा में यूपी के मजदूर की गोली मारकर हत्या

श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले और पुलवामा में यूपी के मजदूर की गोली मारकर हत्या

कश्मीर ज़ोन पुलिस ने बताया घटनास्थलों को खाली कराया गया. तलाशी जारी.