Submit your post

Follow Us

निर्भया के चारों दोषियों को फांसी हुई, फिर मां आशा देवी ने क्यों कहा कि लड़ाई जारी रहेगी?

निर्भया के चारों दोषी- अक्षय, विनय, पवन और मुकेश को आखिरकार फांसी हो गई. सुबह 5:30 बजे उन्हें सज़ा दी गई. तिहाड़ जेल के डायरेक्टर जनरल संदीप गोयल ने इस बात की पुष्टि की. ये भी कहा कि तिहाड़ के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है कि चार दोषियों को एकसाथ फांसी दी गई.

क्या कहा निर्भया की मां ने?

बेटी के लिए सात साल से भी ज्यादा वक्त तक लड़ाई लड़ने वाली आशा देवी ने कहा कि आखिरकार इंसाफ मिला. उन्होंने विक्ट्री साइन दिखाया. कहा,

‘आखिरकार उन्हें फांसी दे दी गई. ये बहुत लंबी लड़ाई थी. आज हमें न्याय मिला. आज का दिन भारत की बेटियों को समर्पित है. मैं न्यायतंत्र और सरकार को थैंक्यू कहना चाहती हूं. हमारी बेटी वापस नहीं आएगी. हमने ये लड़ाई उसके जाने के बाद शुरू की. ये लड़ाई उसके लिए थी, लेकिन हम आगे भी देश की बाकी बेटियों के लिए संघर्ष करते रहेंगे. मैंने अपनी बेटी की तस्वीर को गले लगाया और कहा- आखिरकार तुम्हें न्याय मिल गया.’

आशा देवी से जब सवाल किया गया कि क्या फांसी के बाद लोगों को कुछ समझ आएगा, तो उन्होंने कहा कि अब कहीं न कहीं देश की बेटियां सुरक्षित महसूस करेंगी. आगे कहा,

‘इस फांसी के बाद अब बाकी परिवार भी अपने बेटों को सिखाना शुरू करेंगे. ये बताना शुरू करेंगे कि अगर ऐसा कुछ करोगे, तो जैसे इन चारों को फांसी हुई है, आपको भी होगी.’

सुप्रीम कोर्ट से क्या मांग की?

आशा देवी ने कहा कि अब वो सुप्रीम कोर्ट से मांग करेंगी कि एक नई गाइडलाइन जारी की जाए, ताकि कोई भी दोषी सजा टालने के लिए वो सारे तरीके न अपनाए, जो इन चारों ने अपनाए थे. वहीं निर्भया के पिता का कहना है कि इंसाफ के लिए उनका इंतजार बहुत पीड़ादायक था.

तिहाड़ के बाहर का माहौल

जेल के बाहर सुबह से ही लोगों की भीड़ जमा हो गई थी. सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे, ताकि किसी तरह का कोई हंगामा न हो. फांसी के बाद लोगों ने एक-दूसरे को मिठाई बांटी.

आखिरी वक्त तक फांसी टालने की मांग की थी

दोषियों ने सुप्रीम कोर्ट में एक के बाद एक कई याचिकाएं डालकर फांसी को रोकने की कोशिश की थी. 19 मार्च को सुप्रीम कोर्ट के छह जजों की बेंच ने पवन की क्यूरेटिव पिटिशन खारिज की थी, जिसमें उसने ये कहा था कि 2012 के दौरान वारदात के वक्त वो नाबालिग था, इसलिए उसकी फांसी की सजा को उम्रकैद में बदल दिया जाए.

इसके पहले भी चारों दोषियों ने राष्ट्रपति के पास दया याचिका भी भेजी थीं, चारों खारिज हो गई थीं. सुप्रीम कोर्ट में क्यूरेटिव और रिव्यू पिटिशन भी डाली थीं. सभी को खारिज कर दिया गया था. पहले तीन बार फांसी की तारीख आगे बढ़ाई जा चुकी थी.


वीडियो देखें: दोषियों को फांसी पर लटकते देखना चाहती हैं निर्भया की मां, जानिए नियम क्या कहता है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

ठीक होने के बाद दोबारा कोरोना इंफेक्शन हो सकता है, अब क्या पता चला है?

ये हॉन्ग कॉन्ग वाला केस क्या है?

ब्रैड हॉग ने बताया, दिल्ली के किस बैट्समेन में है सचिन और लारा वाली क्वालिटी?

जानिए, हॉग की नज़र में दिल्ली क्यों है आईपीएल 2020 में फेवरेट.

पाकिस्तान की इस खूबी का तोड़ निकाले बिना नहीं जीत पाएंगे अंग्रेज

पहले T20 में इन्होंने ही पाकिस्तान को बचाया था.

'परिवार' में हुई हत्या की वजह से IPL छोड़ लौटे सुरेश रैना!

घर में घुसकर कई लोगों पर हुआ हमला!

लव जिहाद को लेकर योगी सरकार ने पुलिस को अब क्या निर्देश दिए हैं?

सूबे में कथित तौर पर ऐसे कई केसेज़ आए हैं.

सुरेश रैना के बाहर होने के बाद CSK को लगा एक और बड़ा झटका!

CSK टीम को एक के बाद एक झटके लगते ही जा रहे हैं.

यूपी: मुख्यमंत्री आवास के पास डबल मर्डर, रेलवे अधिकारी की पत्नी और बेटे को गोली मारी

घटना हाई सिक्योरिटी ज़ोन में हुई है.

कोरोना से कांग्रेस सांसद की मौत, संसद में कोरोना पर दिए गए उनके भाषण का वीडियो वायरल

कोरोना पर उनका भाषण अधूरा रह गया था.

ऑनलाइन क्लास जारी, पर इंजीनियरिंग कॉलेज के प्रफेसर सोना और जमीन बेचने को मजबूर क्यों?

कोरोना वायरस ने लोगों की जेब पर बहुत बुरा असर डाला है.

सुदर्शन न्यूज़ के मुसलमान विरोधी प्रोग्राम के प्रसारण पर कोर्ट ने कहा, नो मीन्स नो

#UPSC_Jihad के साथ ट्रेलर ट्वीट किया गया था.